Top
उत्तर प्रदेश

हाथरस गैंगरेप पीड़िता के भाई ने कहा, हमने सीबीआइ जांच की मांग नहीं की

Janjwar Desk
4 Oct 2020 2:31 AM GMT
हाथरस गैंगरेप पीड़िता के भाई ने कहा, हमने सीबीआइ जांच की मांग नहीं की
x

हाथरस गैंगरेप पीड़िता का भाई मीडिया से बात करते हुए।

हाथरस गैंगरेप पीड़िता के भाई ने कहा है कि हमने सीबीआइ जांच की मांग नहीं की है, एसआइटी जांच हो ही रही है। इससे पहले प्रियंका गांधी ने बयान दिया था कि पीड़ित परिवार न्यायिक जांच चाहता है...

जनज्वार। हाथरस गैंगरेप पीड़िता के भाई ने मामले की सीबीआइ जांच से असहमति जतायी है। पीड़िता के भाई का यह बयान उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा मामले की सीबीआइ जांच कराने के फैसले के बाद आया है। शनिवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी व प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिवार से भेंट की और उसके ठीक बाद यूपी सरकार ने यह ऐलान कर दिया कि मामले की संपूर्ण सीबीआइ जांच करायी जाएगी।


पीड़िता के भाई ने कहा कि हमने सीबीआइ जांच की मांग नहीं की थी, पीड़िता के भाई ने कहा कि मामले की एसआइटी जांच अभी चल ही रही है. शनिवार की रात भी एसआइटी की टीम पीड़िता के घर पर पहुंची और परिवार से मामले की जानकारी ली।

मालूम हो कि शनिवार शाम को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी ने हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से भेंट की थी, जिसके बाद प्रियंका गांधी ने मीडिया के सामने बयान दिया कि पीड़ित परिवार मामले की सीबीआइ जांच नहीं चाहता है बल्कि न्यायिक जांच चाहता है।

प्रियंका गांधी के इस बयान के बाद पीड़िता के भाई का बयान आया है। मालूम हो कि 14 सितंबर को हाथरस जिले के एक गांव में एक दलित लड़की के साथ कथित रूप से गैंगरेप हुआ था। उसके बाद उसकी जीभ काट दी गयी और पीठ की हड्डी तोड़ दी गई। घटना के बाद लड़की को पहले अलीगढ के मेडिकल काॅलेज में और फिर स्थिति अधिक खराब होने पर दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

28 सितंबर को लड़की को सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया था और 29 सितंबर की सुबह उसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद लोगों में व्यापक गुस्सा व नाराजगी है।

उधर, शनिवार की रात राहुल गांधी व प्रियंका गांधी की पीड़ित परिवार से मुलाकात के बाद एसआइटी की टीम भी गांव पहुंची। एसआइटी की टीम ने पीड़ित परिवार से पूछताछ की और मामले की जानकारी ली। इस संबंध में पूछे जाने पर एसआइटी की टीम ने कहा कि हमारी जांच जारी रहेगी और सीबीआइ पैरलल मामले की जांच करेगी।


Next Story

विविध

Share it