Top
राजनीति

अब बोलीं साध्वी प्रज्ञा 'नाली-शौचालय साफ करवाने के लिए नहीं बनाया गया है हमें सांसद'

Prema Negi
21 July 2019 4:02 PM GMT
अब बोलीं साध्वी प्रज्ञा नाली-शौचालय साफ करवाने के लिए नहीं बनाया गया है हमें सांसद
x

भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा बोलीं, हम नाली साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बने हैं। हम आपके शौचालय साफ करने के लिए बिल्कुल भी सांसद नहीं बनाए गए हैं...

जनज्वार। अपनी बयानबाजियों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहने वाली भाजपा सांसद और मालेगांव ब्लास्ट मामले में आरोपी प्रज्ञा ठाकुर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार सुर्खियों में रहने का कारण है उनका एक और उटपटांग बयान, जिसमें वह कहती दिख रही हैं कि उन्हें सांसद नाली—शौचालय साफ करने के लिए नहीं बनाया गया है।

साध्वी प्रज्ञा के इस बयान के बाद भाजपा के भीतरखाने ही उनका विरोध होना शुरू हो गया है, क्योंकि उनकी यह जुबान सीधे—सीधे प्रधानमंत्री मोदी की महत्वाकांक्षी स्वच्छ भारत अभियान को कठघरे में खड़ा करती है।

यह भी पढ़ें : भाजपा सांसद प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर का ऐलान : नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और हमेशा रहेंगे

गौरतलब है कि आज 21 जुलाई को साध्वी प्रज्ञा ठाकुर मध्य प्रदेश के सीहोर में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंची थी। इसी दौरान सफाई पर जब उनसे सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि 'हम नाली साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बने हैं। हम आपके शौचालय साफ करने के लिए बिल्कुल भी सांसद नहीं बनाए गए हैं। हमें जिस काम के लिए सांसद बनाया गया है, वो काम हम ईमानदारी से करेंगे।'

नाली—शौचालय पर टिप्पणी करते हुए प्रज्ञा ठाकुर का चेहरा गुस्से में तमतमाया हुआ दिख था। इसी के साथ प्रज्ञा यह टिप्पणी भी करना नहीं भूलीं कि हम पहले भी कह चुके हैं, आज भी कह रहे हैं और आगे भी कहते रहेंगे।

गौरतलब है कि मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर का विवादों से चोली दामन का साथ रहा है। इस बार चुनावों से पहले भाजपा में शामिल होने के साथ ही वो सुर्खियों में आ गयी थीं। हेमंत करकरे से लेकर नाथूराम गोडसे तक पर बयानबाजियों को लेकर प्रज्ञा ठाकुर चर्चा में बनी हुई थीं।



प्रज्ञा की बयानबाजियों के बाद प्रधानमंत्री मोदी को तक कहना पड़ा था कि वह महात्मा गांधी जी पर दिए बयान के लिए उन्हें कभी माफ नहीं करेंगे। बाद में प्रज्ञा ने अपने इस बयान के लिए माफी मांग ली थी।

भोपाल में एक चुनावी सभा के दौरान उग्र हिंदुत्व का चेहरा साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर कहा था कि, 'गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग अपने गिरेबां में झांक कर देखें। ऐसे लोगों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा। गोडसे देशभक्त थे, हैं और हमेशा रहेंगे...'

हीं शहीद हेमंत करकरे की शहादत पर कड़वे बोल बोलते हुए साध्वी ने कहा था, ‘पूर्व एटीएस चीफ हेमंत करकरे को संन्यासियों का श्राप लगा था। जिस दिन मैं जेल गई थी, उसके 45 दिन के अंदर ही आतंकियों ने उन्हें मौत के घाट उतार दिया। हेमंत करकरे ने मुझे गलत तरीके से फंसाया था, इसलिए मैंने उनसे कहा था कि तुम्हारा पूरा खानदान खत्म हो जाएगा। कहा था तेरा सर्वनाश होगा, तो उसने मुझे गालियां दी थीं। जिस दिन मैं गई उसके घर पर सूतक लगा था और जब उसे आतंकियों ने मारा तो सूतक खत्म हो गया।'

Next Story

विविध

Share it