समाज

Kanpur News : नर्स का आरोप लाईट के अंधेरे में डॉक्टर ने किया 'बैड टच', आरोपी का इनकार, कहा 'CCTV फुटेज है मेरे पास!'

Janjwar Desk
24 Sep 2021 6:49 PM GMT
kanpur news
x

(प्रतीकात्मक तस्वीर by/socialmedia )

Kanpur News : पीड़िता की शिकायत पर कल्याणपुर पुलिस ने कथित आरोपी डॉक्टर अमित पाल के खिलाफ मुकदमा संख्या 770/2021 के तहत IPC की धारा 354/504 व 506 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है...

Kanpur News (जनज्वार) : कानपुर के कल्याणपुर में गुलमोहर अपार्टमेंट (Kanpur Gulmohar Apartment) में मॉडल डेयरी के मालिक प्रतीक वैश्य द्वारा तीन दिन पहले नौकरी पर रखी गई पर्सनल सेक्रेटरी को बलात्कार के बाद दसवीं मंजिल से फेंक देने की सनसनीखेज घटना के बाद इसी थाने से एक और घटना सामने आ रही है। जिसमें एक अस्पताल की नर्स ने डॉक्टर पर 'बैड टच' का आरोप लगाया है।

दरअसल, उन्नाव (Unnao) के नवाबगंज स्थित भगवंतपुर, थाना अजगैन की रहने वाली पीड़िता कानपुर के कल्याणपुर (Kalyanpur) स्थित मां ज्वाला नर्सिंग होम में स्टॉफ नर्स के पद पर कार्यरत है। पीड़िता का आरोप है कि, इसी अस्पताल में काम करने तथा खुद को डॉक्टर बताने वाला अमित पाल अस्पताल में काम करने वाली सभी नर्सों से छेड़छाड़ करता है।

पीड़िता ने आरोप लगाया कि, एक हफ्ते पहले वह अस्पताल की नाइट ड्यूटी में सो रही थीं उसी वक्त डॉक्टर अमित पाल वहां आये। उन्होने गलत इरादे से पीड़िता के गालों से लेकर छाती तक हाथ फेरा। इसी दौरान अचानक पीड़िता की नींद खुली तो उसने कथित डॉक्टर अमित पाल को अपने पास आपत्तिजनक हालत में पाया।

पीड़िता की नींद खुल जाने पर खुद को डॉक्टर बताने वाला अमित पाल (Dr. Amit Pal) वहां से निकल गया। बाद में पीड़िता ने उसकी इस हरकत का विरोध किया तो आरोपी कथित डॉक्टर ने पूरे स्टॉफ के सामने उसे भद्दी-भद्दी गालियां बकीं। साथ ही उसने पीड़िता को धमकी देते हुए बर्बाद कर देने की बात भी कही। डॉक्टर की इस हरकत के बाद पीड़िता ने पुलिस कम्प्लेन की है।

बहरहाल, पीड़िता की शिकायत पर कल्याणपुर पुलिस (Kalyanpur Police) ने कथित आरोपी डॉक्टर अमित पाल के खिलाफ मुकदमा संख्या 770/2021 के तहत IPC की धारा 354/504 व 506 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है। इस पूरे मामले की पड़ताल पनकी रोड चौकी इंचार्ज जयवीर सिंह कर रहे हैं।

इस मसले पर जब जनज्वार संवाददाता ने पीड़िता को फोन पर संपर्क किया तो फोन किसी अन्य ने उठाया। हमने अपना परिचय दिया तो उधर से भी कहा गया मैं भी पत्रकार हूँ (Me Too Journalist) और कृष्णा नाम है। इसके बाद लड़की की आवाज पीछे से आती रही और लड़के ने ही हमें पूरी कहानी बताई। उसने बताया कि डॉक्टर अमित पाल अक्सर नशे में ही अस्पताल आते हैं, और वह सभी के साथ इसी तरह का व्यवहार करते हैं। उस रात वह गलत इरादे से थे लेकिन नाकाम होने पर नर्स से अभद्रता की।

लड़के से बात करने के बाद हमें मामले में कुछ संदेह (Suspected) हुआ। जिसके बाद हमने कथित आरोपी डॉक्टर अमित पाल से भी बात की। डॉक्टर ने इन सभी आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि 'ऐसा कुछ नहीं है। मैने नाइट ड्यूटी में लाइट बंद कर सोने को लेकर उसे डांटा था। अब अस्पताल का पूरा मैनेजमेंट मेरी जिम्मेदारी पर है तो मैं सभी से अपने हिसाब से काम लेता हूँ।

डॉक्टर अमित पाल (Amit Pal) ने हमें आगे बताया कि उक्त लड़की अक्सर एक लड़के के साथ आती जाती है। उस दिन भी वह उसी लड़के के साथ गई और दूसरे दिन मेरे पास फोन आया कि उसने पुलिस कम्प्लेन की है। ठीक है मेरे पास भी सीसीटीवी रिकार्डिंग है और भी कई स्टॉफ के लोग हैं जो पूरी सच्चाई बताएंगे। आप आइये यहां और पता कीजिए।'

इंस्पेक्टर चौकी साइड-1 जयवीर सिंह (Jaiveer Singh) ने जनज्वार से बातचीत में बताया कि, 'मामला उनके संज्ञान में है। हालिया समय वह कल्याणपुर मसले में व्यस्त हो गए थे। एक-दो दिन में इस मामले में पड़ताल शुरू करेंगे। जयवीर का कहना है की उनके रहते आरोपी को बिल्कुल भी बख्शा नहीं जाएगा।' लेकिन बिना जांच किसी को आरोपी मान लेना कहां तक जायज है, दरोगा जी ने यह नहीं बताया।

Next Story

विविध

Share it