वीडियो

Video: सीहोर वाले कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा का बेलपत्र ज्ञान कहीं आपके बच्चों का जीवन बर्बाद ना कर दे

Janjwar Desk
17 Nov 2022 10:24 AM GMT
x
Video: सीहोर वाले बाबा के नाम से मशहूर प्रदीप मिश्रा (Pradeep Mishra) अपने आयोजनों में कहते हैं कि वे बेहद गरीब थे। यहां तक की उन्होंने अपनी बहन की शादी भी भीख मांगकर की। लेकिन आज प्रदीप मिश्रा करोड़पति हैं। लाखों के हिसाब से खता की फीस लेते हैं। ऐसे में यह जानना बेहद जरूरी है कि प्रदीप मिश्रा ने अपने जीवन में ऐसा क्या किया है जो वे करोड़पति बन गये...

Video: मध्य प्रदेश में सीहोर वाले बाबा के नाम से मशहूर प्रदीप मिश्रा (Pradeep Mishra) अपने आयोजनों में कहते हैं कि वे बेहद गरीब थे। यहां तक की उन्होंने अपनी बहन की शादी भी भीख मांगकर की। लेकिन आज प्रदीप मिश्रा करोड़पति हैं। लाखों के हिसाब से खता की फीस लेते हैं। ऐसे में यह जानना बेहद जरूरी है कि प्रदीप मिश्रा ने अपने जीवन में ऐसा क्या किया है जो वे करोड़पति बन गये।

प्रदीप मिश्रा ने अपने बेलपत्र (Belpatra) ज्ञान पर बात करते हुए कहा था कि, अगर बच्चा साल भर पढ़ाई-लिखाई ना करे लेकिन अगर बेलपत्र में शहद लगाकर शिवलिंग में चिपका दे तो गारंटी है वो बच्चा उस विषय में पास हो जाएगा। प्रदीप मिश्रा के बेलपत्र ज्ञान पर हमने टिकेश कुमार, सीनियर डॉक्टर एके अरूण से बात की।

कथावाचक प्रदीप मिश्रा के इस ज्ञान पर रायपुर के टिकेश कुमार कहते हैं कि ऐसे तो बच्चे के लिए स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी का कोई मतलब ही नहीं रह जाएगा। या फिर ये माना जाए की प्रदीप मिश्रा पढ़ाई का विरोध कर रहे हैं। इसके अलावा प्रदीप मिश्रा यह भी कहते हैं कि बड़े से बड़ा मर्ज एक लोटा जल और शिवलिंग पर बेलपत्र चढ़ाने से ठीक हो जाता है। टिकेश कुमार कहते हैं कि प्रदीप मिश्रा कथावाचक है जरूर लेकिन वह अंधविश्वास फैलाने का काम कर रहा है। रायपुर में भी जब कार्यक्रम हुआ था उससे पहले हमने प्रेस-रिलीज जारी की थी कि प्रदीप मिश्रा अंधविश्वास फैला रहे हैं।

हमने डॉक्टर एके अरूण से भी जानने का प्रयास किया कि क्या बेलपत्र के भीतर ऐसी कोई औषधी है जो बड़े से बड़े रोग का इलाज कर दे?

डॉ. एके अरूण जनज्वार से बात करते हुए कहते हैं, मैनें प्रदीप मिश्रा के तीन चार वीडियो देखे हैं। और अब से पहले भारतीय परंपरा में ऐसा कोई बाबा नहीं देखा जो सीधे-सीधे आग उगलता हो। क्रोध की बात अलग होती है, कि किसी विषय पर क्रोध आए तो श्राप आदि की व्यवस्था होती रही है, लेकिन प्रदीप मिश्रा तो देश में दंगे भड़काने का काम कर रहा है। ये बाबा बेलपत्र और शिवलिंग को लेकर जो बातें कह रहा है अगर शिव उन बातों का संज्ञान ले लें तो बाबा कहीं टिकेगा ही नहीं। कोई भी अगर देवतुल्य प्रतीक है तो उसका नाम लेकर आप धंधा थोड़ी कर सकते हैं।

ये बाबा धंधा कर रहा है। रही बात बेलपत्र की तो इसके अंदर जो रसायनिक गुण है, जैसे आयुर्वेद में बदहजमी को ठीक करता है। इसके अंदर एंजाइम पाए जाते हैं जो मूत्र का रोग ठीक करता है। बाबा को अभी शाष्त्र पढ़ने की जरूरत है। मेरी तमाम परिवारों से अपील है कि अपने बच्चों को ऐसे बाबा से दूर रखिये, जो अंधविश्वास और धार्मिक उन्माद फैलाने का काम कर रहा है।

बुद्ध प्रकाश ने कहा कि, ये ढ़ोंगी बाबा है। इस पर तुरत कार्रवाई होनी चाहिए इसे जेल में बंद करना चाहिए। इस बाबा की अगर माने तो देश के सभी स्कूल कॉलेज बंद कर देने चाहिए।

बाबा के पॉलिटिकल टच पर डॉ. एके अरूण कहते हैं कि, ये सब वोटबैंक के लिए होता है। तमाम प्रदेशों के मुख्यमंत्री, सत्ता और विपक्ष के लोगों का इन जैसे लोगों से झुकाव सिर्फ और सिर्फ वोटों के लालच भर सीमित है। बाबा कहता है कि मोदी ना होते तो देश में हिंदू नहीं बचेंगे। ऐसे में बताइये मोदी कितने साल से हम लोगों को संभाल रहे हैं। कितनों की मोदी ने रक्षा कर ली। फिर क्यों देश में सरकारी बजट बनाया जाता है। क्यों रक्षामंत्री और स्वास्थ्य मंत्री हैं, हटा दिया जाए। अस्पतालों, स्कूलों को बंद कर देना चाहिए। बाबा को हर चीज का ठेका दे देना चाहिए। बेलपत्री से सबका इलाज करे और बिना पढ़ाई सबको पास करवा दिया करे। देखिये गांव में जब कहीं आग लगती है तो कुत्ता नहीं जलता, उसी तरह ये बाबा लोग हैं, इनपर कोई आंच नहीं आती। आंच आती है तो हम-आप जैसे लोगों पर। इसका ध्यान ऱखना चाहिए हमारे देश की जनता जनार्दन को।

इससे संबंधित वीडियो उपर देखने के अलावा इस लिंक में भी देखा जा सकता है... प्रदीप मिश्रा का बेलपत्र ज्ञान

Next Story

विविध