Top
हिमाचल प्रदेश

हिमाचल में कोरोना के कुल 18 मामले आये सामने, आधे से ज्यादा तब्लीगी जमात से जुड़े

Prema Negi
7 April 2020 8:24 AM GMT
हिमाचल में कोरोना के कुल 18 मामले आये सामने, आधे से ज्यादा तब्लीगी जमात से जुड़े
x

हिमाचल सरकार और प्रशासन ने तय किया है कि कोरोना रोगी यदि किसी पर थूकते हैं तो उन पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज होगा। इसकी वार्निंग बाकायदा डीजीपी ने मीडिया के लिए जारी एक वीडियो में की है...

शिमला, जनज्वार। मार्च में दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज मण्डली से लौटे तब्लीगी जमात के 4 और सदस्यों का हिमाचल प्रदेश में कोरोनोवायरस परीक्षण पॉजिटिव आया है, जिससे इनकी कुल संख्या 11 हो गई है। एक स्वास्थ्य अधिकारी ने मंगलवार 7 अप्रैल को कहा कि चार नए मामलों के साथ पॉजीटिव मामलों की कुल संख्या बढ़कर 18 हो गई है। वहीं एक मरीज को छुट्टी दे दी गई है।

न्होंने कहा कि चंबा के तिस्सा क्षेत्र से तब्लीगी जमात के 11 सदस्यों के स्वाब नमूने एकत्र किए गए थे। इनमें से 4 की सोमवार को पॉजिटिव रिपोर्ट आई।

यह भी पढ़ें : उत्तराखण्ड के बाद हिमाचल प्रशासन हुआ तब्लीगियों पर सख्त, कहा जो हम वार्निंग देते हैं उसे करते हैं लागू

वायरस को फैलने से रोकने के लिए कानून को सख्त बनाते हुए हिमाचल सरकार और प्रशासन ने तय किया है कि कोरोना रोगी यदि किसी पर थूकते हैं तो उन पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज होगा। इसकी वार्निंग बाकायदा डीजीपी ने मीडिया के लिए जारी एक वीडियो में की है।

यह भी पढ़ें : तब्लीगियों से मिलने पर ग्रामीणों ने इतना किया परेशान कि मुस्लिम युवा ने कर ली आत्महत्या

पुलिस महानिदेशक एस.आर. मरडी ने कहा, "और यदि कोई व्यक्ति इस तरह संक्रमित हो जाता है और कोविड -19 के कारण मर जाता है तो आरोपी रोगी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया जाएगा।"

न्होंने चेतावनी दी कि इस तरह की सूचनाओं को छुपाना, विशेषकर तब्लीगी जमात के सदस्यों द्वारा निजामुद्दीन से लौटने की सूचना छिपाने पर उन पर हत्या या हत्या के प्रयास का आपराधिक मामला दर्ज होगा।

यह भी पढ़ें : हिमाचल में कोरोना से बचाव के लिए पुलिसवालों को मिलेंगे पीपीई किट व एन-95 मास्क, अब तक 10 मरीज आये सामने

राज्य ने तीन महीने के लिए च्यूइंग गम की बिक्री और उपयोग पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

Next Story

विविध

Share it