जनज्वार। दिल्ली विधानसभा की सत्तर विधानसभा सीटों के नतीजे आ गए हैं। रुझानों के दौरान जिस सीट पर सबकी नजर टिकी हुई थी उनमें से पटपड़गंज एक है। मनीष सिसोदिया को आम आदमी पार्टी का सबसे मजबूत माना जा रहा था यहां तक कि आम आदमी पार्टी के कई समर्थक उन्हें दिल्ली के अगले मुख्यमंत्री के रूप में भी देख रहे थे। लेकिन उन्हें भाजपा के रविंद्र नेगी की ओर से कड़ी टक्कर मिली।

संबंधित खबर : दिल्ली की जनता ने नफरत की राजनीति को हाशिये पर धकेल काम को दी तवज्जो, कहा केजरीवाल फिर से

चुनाव आयोग की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार मनीष सिसोदिया को कुल 65215 वोट मिले जबकि भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार रविंद्र सिंह नेगी को 62209 वोट मिले। वहीं इस सीट पर 3006 वोटों के साथ कांग्रेस उम्मीदवार लक्ष्मण रावत तीसरे नंबर पर रहे।

हालांकि इससे पहले गिनती शुरू होते ही एक बार सिसोदिया 78 वोटों से पिछड़ गए थे, लेकिन तुरंत ही दोबारा बढ़त बन गई थी। पिछले विधानसभा चुनाव में पटपड़गंज विधानसभा से मनीष सिसोदिया ने करीब 28000 वोटों के अंतर से मानक जीत दर्ज की थी।

म आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल समेत सभी मंत्री जीत की ओर बढ़ रहे हैं । चुनाव आयोग के आधिकारिक रुझान में आम आदमी पार्टी 60 सीटों पर आगे चल रही है जबकि पटपड़गंज सीट पर मनीष सिसोदिया जीत चुके हैं। बाकि 9 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी आगे है। नई दिल्ली सीट से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी अब तक के रुझानों में आगे चल रहे हैं।

संबंधित खबर : दिल्ली चुनाव RESULTS : दिल्ली में भाजपा को हराने की रणनीति में खुद ही साफ हो गयी कांग्रेस!

हीं इस जीत के बाद मनीष सिसोदिया ने पत्रकारों से बातचीत की और कहा कि पटपड़गंज विधानसभा क्षेत्र से फिर से विधायक बनने पर उन्हें खुशी है। भाजपा ने नफरत की राजनीति करने की कोशिश की लेकिन दिल्ली के लोगों ने ऐसी सरकार चुनी जो लोगों के लिए काम करती है।


जन पत्रकारिता को सहयोग दें / Support people journalism