Top
उत्तर प्रदेश

यूपी : गांव में महिला से छेड़छाड़ करने पर जूतों की माला पहनाकर आदमी की कराई गई परेड

Nirmal kant
22 May 2020 8:58 AM GMT
यूपी : गांव में महिला से छेड़छाड़ करने पर जूतों की माला पहनाकर आदमी की कराई गई परेड

उत्तर प्रदेश के कासगंज में 65 वर्षीय व्यक्ति पर महिला से छेड़छाड़ का लगा आरोप, जूतों की माला पहनाकर कराई गई परेड, सहावर पुलिस स्टेशन में दोनों पक्षों की ओर से एफआईआर दर्ज....

कासगंज/आईएएनएस। कथित रूप से एक महिला से छेड़छाड़ करने के बाद 65 वर्षीय एक व्यक्ति को सामाजिक रूप से शर्मसार किया गया। व्यक्ति महिला का पड़ोसी है। गुरुवार को कासगंज जिले के अलीदनपुर गांव में एक व्यक्ति को गले में जूतों की माला पहनाकर उसका चेहरा काला कर दिया गया। सहावर पुलिस स्टेशन में पीड़ित और आरोपियों के परिवारों द्वारा दो क्रॉस एफआईआर दर्ज की गईं। इस सिलसिले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

संबंधित खबर : UP कांग्रेस अध्यक्ष पर धोखाधड़ी और जालसाजी का आरोप लगा योगी सरकार ने भेजा जेल

हली एफआईआर आरोपी के बेटे ने तीन भाइयों सहित पांच लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147 (दंगों), 452 (मारपीट की तैयारी के बाद घर-द्रोह), 342 (गलत काम के लिए सजा), 323, 500 (मानहानि की सजा) और 506 (आपराधिक धमकी के लिए सजा) के तहत दर्ज कराई थी।

में 65 वर्षीय के बेटे ने आरोप लगाया कि पांच लोगों ने डंडों और लाठियों से लैस होकर सुबह उसके घर में घुसकर उसके पिता के साथ मारपीट की। उन्होंने उसका चेहरा काला कर दिया और उसे जूते की माला पहनाकर गांव में चलने को मजबूर कर दिया।

न्होंने कहा कि हमले का कारण भूमि विवाद है। प्राथमिकी के बाद, पांच आरोपियों में से तीन को गिरफ्तार किया गया था। हालांकि बाद में शाम को गिरफ्तार आरोपियों में से एक ने बूढ़े व्यक्ति के खिलाफ एक काउंटर एफआईआर दर्ज कराई, जिसमें दावा किया गया कि 18 मई की रात को बुजुर्ग व्यक्ति उसके घर आया था और उसकी पत्नी के साथ छेड़छाड़ की थी।

संबंधित खबर : जनज्वार इम्पैक्ट- फतेहपुर में दलित युवक की हत्या में पुलिस ने मर्डर के तीन आरोपी किए गिरफ्तार

नकी लिखित शिकायत के आधार पर पुरुष के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 और 506 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। एफआईआर के बाद, पीड़ित को पूछताछ के लिए पुलिस स्टेशन लाया गया।

एसएचओ गणेश चौहान ने कहा, 'एक पक्ष ने दावा किया कि उनकी महिला रिश्तेदार के साथ छेड़छाड़ की गई थी और इसलिए उन्होंने बुजुर्ग व्यक्ति को सबक सिखाया। दूसरी पार्टी ने आरोप लगाया कि एक पुरानी प्रतिद्वंद्विता के कारण, उनके परिवार के सदस्य का अपमान किया गया और ग्रामीणों के सामने उन्हें बेइज्जत किया गया। तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है और पीड़िता का मेडिकल परीक्षण कराया गया है। आगे की जांच जारी है।'

Next Story

विविध

Share it