सिक्योरिटी

जिसने मुझपर रेप का मुकदमा लिखवाया इसका अंजाम भुगतेगी- डासना जेल में बंद आरोपी ने दी Instagram पर धमकी

Janjwar Desk
2 Nov 2022 6:04 AM GMT
जिसने मुझपर रेप का मुकदमा लिखवाया इसका अंजाम भुगतेगी- डासना जेल में बंद आरोपी ने दी Instagram पर धमकी
x

जिसने मुझपर रेप का मुकदमा लिखवाया इसका अंजाम भुगतेगी- डासना जेल में बंद आरोपी ने दी Instagram पर धमकी

Ghaziabad News: एसपी ग्रामीण डॉ. ईरज राजा ने जेल जाकर आरोपी विशु तोमर से पूछताछ की तो उसने मोबाइल इस्तेमाल करने की बात स्वीकार की है। उसने बताया कि 21 अक्टूबर को वह गाजियाबाद कचहरी पेशी पर गया था। पुलिस लॉकअप में बंद रहने के दौरान उसने किसी से मोबाइल लेकर वीडियो कॉल की...

Ghaziabad News: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में बनी डासना जेल में हड़कंप मचा हुआ है। यहां बंद एक बलात्कार (Rape) के आरोपी ने मुकदमा लिखवाने वाली युवती को वीडियो कॉल कर धमकी दी है। वीडियो कॉल (Video Call) के माध्यम से धमकी देने के बाद सबसे बड़ा सवाल तो यही उठ रहा है कि जेल में बेद आरोपी के पास मोबाइल आखिर कहां से पहुँचा?

दरअसल, तिहाड़ (Tihar Jail) से लेकर अन्य जेलों के भीतर अक्सर यह शिकायतें सामने आती रहती हैं कि कैदी-बंदी अंदर ही बैठकर कैसे आखिर मोबाइल जैसी प्रतिबंधित वस्तुएं हासिल कर लेते हैं। जांच भी होती है और जांच के बाद फिर मामला ज्यों का त्यों हो जाता है। गाजियाबाद की डासना जेल में भी यही हुआ। कैदी द्वारा रेप पीड़िता को धमकी दी गई।

अब कैदी तक मोबाइल (Mobile Phone) किसने पहुँचाया, तथा इसमें किसकी लापरवाही रही, जांच की जा रही है। डासना जेल प्रशासन ने मामले की रिपोर्ट बनाकर जिले के SSP को भेजी है। एसएसपी (SSP Muniraj) ने यह जांच एसपी ग्रामीण को सौंपी है। एसएसपी मुनिराज का कहना है कि मामले में जो भी दोषी पुलिसकर्मी होगा सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक, बीते वर्ष मोदीनगर की रहने वाली एक छात्रा ने कंडेरा गांव बागपत (Baghpat) निवासी विशु तोमर (Rape Accused Vishu Tomar) के खिलाफ रेप का केस दर्ज करवाया था। पुलिस ने विशु को गिरफ्तार कर गाजियाबाद की डासना जेल भेज दिया था। हाल ही में उसका एक वीडियो वायरल होना बताया जा रहा है। इस वीडियो में डासना जेल लिखा हुआ था।

जेल अधीक्षक आलोक सिंह का कहना है कि, हमने मामले की जांच की है। जांच में सामने आया है कि वीडियो जेल का नहीं, बल्कि कचहरी परिसर में बने पुलिस लॉकअप का है। वहीं आरोपी विशु ने किसी का मोबाइल लेकर अपने दोस्त रौनक को इंस्टाग्राम (Instagram) पर वीडियो कॉल की थी। दोस्त ने यह वीडियो वायरल कर दी, जो रेप पीड़िता तक पहुँच गई।

इस वीडियो के मिलने के बाद रेप पीड़िता ने आरोपी पर धमकी देने का आरोप लगाते हुए एसएसपी से शिकायत की है। जेल अधीक्षक ने कचहरी में तैनात पुलिसकर्मियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए एसएसपी मुनिराज को अपनी रिपोर्ट भेजी है। जिसके बाद SSP ने एसपी ग्रामीण को मामले की जांच के आदेश दिये हैं।

एसपी ग्रामीण डॉ. ईरज राजा ने जेल जाकर आरोपी विशु तोमर से पूछताछ की तो उसने मोबाइल इस्तेमाल करने की बात स्वीकार की है। उसने बताया कि 21 अक्टूबर को वह गाजियाबाद कचहरी पेशी पर गया था। पुलिस लॉकअप में बंद रहने के दौरान उसने किसी से मोबाइल लेकर वीडियो कॉल की। एसपी ने बताया कि मोबाइल किसने उपलब्ध कराया और कौन दोषी है, इसकी जांच की जा रही है।

एसएसपी मुनिराज जी. ने कहा कि पुलिस कस्टडी में दुष्कर्म के आरोपी का मोबाइल इस्तेमाल करना, वीडियो कॉल पर धमकी देना गंभीर अपराध है। मामले की पड़ताल की जा रही है। किसने मोबाइल उपलब्ध कराया, कौन दोषी है जांच के बाद दोषी पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध