बिहार चुनाव 2020

वोट में नहीं बदल पायी विपक्षी महागठबंधन की रैलियों में जुटाई हुई भीड़, फायदे में वामपंथी पार्टियां

Janjwar Desk
10 Nov 2020 5:45 AM GMT
वोट में नहीं बदल पायी विपक्षी महागठबंधन की रैलियों में जुटाई हुई भीड़, फायदे में वामपंथी पार्टियां
x
विपक्षी महागठबंधन से मुख्यमंत्री का चेहरा तेजस्वी यादव की रैलियों में जुटी भारी भीड़ वोट में नहीं बदल सकी है, दूसरी ओर वामपंथी पार्टियों को इस बार के चुनाव में फायदा हुआ है....

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए रूझान सामने आने लगे हैं। अब तक के रूझानों में एनडीए गठबंधन आगे चल रहा है और राजद नेतृत्व वाला महागठबंधन पीछे चल रहा है। चुनाव आयोग के ताजा रूझान के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी 61 सीटों पर आगे चल रही है, वहीं जदयू 51 सीटों पर आगे चल रही है। जबकि राष्ट्रीय जनता दल 61 सीटों पर आगे चल रही है और कांग्रेस 20 सीटों पर आगे चल रही है।

चुनाव परिणामों से पहले जिस तरह से तमाम एग्जिट पोल सामने आए थे उनमें प्रत्येक ने विपक्षी महागठबंधन को भारी सीटों से जीतता हुआ दिखाया था लेकिन अबतक के रूझानों से यह साफ हो गया है कि तेजस्वी यादव की रैलियों में जुटी भारी भीड़ वोट में नहीं बदल सकी है। तेजस्वी यादव की रैलियों में भारी भीड़ उन्हें और विपक्षी महागठबंधन को सुनने पहुंची थी।

दूसरी ओर रूझानों में अबतक वामपंथी पार्टियां फायदे में चल रही है। भाकपा माले लिबरेशन 13 सीटों पर आगे चल रही है जबकि भाकपा 3 सीटों पर आगे चल रही है। जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार वामपंथी पार्टियों और विपक्षी महागठबंधन की ओर से स्टार प्रचारक थे।

रूझान सामने आने के बाद भाजपा प्रवक्ता जफर इस्लाम ने कहा कि महागठबंधन के सीएम पद के प्रत्‍याशी तेजस्वी यादव की रैलियों में भीड़ मजबूरी की थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नीतीश जी की अगुवाई में हमने एकजुटता के साथ लड़ा है। अंदर आपस में कोई लड़ाई नहीं है।

बिहार की 243 विधानसभा सीटों के लिए तीन चरण में मतदान हुए थे। पहले चरण के अंतर्गत 28 अक्‍टूबर, दूसरे चरण के अंतर्गत 3 नवंबर और तीसरे चरण में 7 नवंबर को वोट डाले गए थे।

पहले चरण में 16 जिलों की 71 सीटों, दूसरे चरण में 17 जिलों की 94 सीटों और तीसरे चरण में 15 जिलों की 78 सीटों पर वोटिंग हुई थी। बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए और कांग्रेस, आरजेडी और वामपंथी दलों के महागठबंधन के बीच कड़ा मुकाबला है. बीजेपी और जनता दल और कुछ छोटी पाटियों वाले एनडीए ने नीतीश कुमार को सीएम पद के लिए चेहरा घोषित किया है। दूसरी ओर महागठबंधन ने पूर्व उप मुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव को सीएम के रूप में पेश किया है।

Next Story

विविध

Share it