राष्ट्रीय

पेट्रोल-डीजल के बाद अब दूध पर महंगाई की मार, एक जुलाई से 2 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ अमूल दूध

Janjwar Desk
30 Jun 2021 10:44 AM GMT
पेट्रोल-डीजल के बाद अब दूध पर महंगाई की मार, एक जुलाई से 2 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ अमूल दूध
x
कोरोना काल में बढ़ती महंगाई से त्रस्त लोगों की जेब पर बढ़ेगा बोझ, एक जुलाई से अमूल दूध 2 रुपये प्रति लीटर हुआ महंगा

जनज्वार ब्यूरो। कोरोना काल (Corona Period) में लोग पहले से ही महामारी से त्रस्त हैं। ऊपर से बेरोजगारी और बढ़ती महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। खाने-पीने की चीजें, खाद्य तेल से लेकर हर सामान पहले से महंगा है। पेट्रोल-डीजल के दाम में भी बेतहाशा बढ़ोतरी जारी है। जिसका सीधा असर आम आदमी की जेब पर पड़ा है। इस बीच अमूल ने भी अपने ग्राहकों को झटका दिया है। अमूल (Amul) ने दूध के दाम (Milk Prices) में बढ़ेतरी की हैं। गुजरात सहकारी दूध विपणन संघ (जीसीएमएमएफ) ने बुधवार 30 जून को जानकारी देते हुए कहा कि अमूल दूध (Amul Dudh) की कीमतों में एक जुलाई से बढ़ोतरी होगी। ये इजाफा सभी ब्रांडों के लिए होगा और दो रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की जाएगी।

यानी अमूल के सभी मिल्क प्रोडक्ट अमूल गोल्ड, अमूल शक्ति, अमूल ताज़ा, अमूल टी-स्पेशल, अमूल स्लिम एन्ड ट्रीम में दो रुपये प्रति लीटर के हिसाब से बढ़ोतरी होगी। और एक जुलाई गुरुवार से दिल्ली, एनसीआर, गुजरात, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल समेत अन्य राज्यों में अमूल दूध महंगे दामों के साथ मिलेगा। ये करीब डेढ़ साल के बाद है, जब अमूल की ओर से ये दाम बढ़ाए गए हैं।

आखिर क्यों बढ़ी कीमत ?

गुजरात दुग्ध सहकारी विपणन लिमिटेड (GCMMF) अमूल के MD डॉ. आर एस सोढ़ी (R S Sodhi) ने बताया कि इनपुट और प्रोडक्शन कॉस्ट बढ़ने की वजह से यह कदम उठाया गया है। सोढ़ी ने कहा कि खाद्य महंगाई बढ़ने के कारण दूध की कीमतों में बढ़ोतरी जरूरी हो गई थी। इसके अलावा पैकेजिंग की लागत में भी 30 से 40 फीसदी, जबकि परिवहन लागत में 30 फीसदी और ऊर्जा लागत में 30 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है, जिसके चलते उत्पादन लागत बढ़ गई है।

लगभग एक साल और सात महीने के बाद कीमतों में बढ़ोतरी की जा रही है। औऱ अमूल को-ऑपरेटिव सोसाइटी ने बढ़ती इनपुट कॉस्ट की वजह से दूध की कीमतें बढ़ाने का फैसला लिया है। देश में अमूल दूध के दाम 2 रुपए प्रति लीटर तक बढ़ाये गये हैं। अब अहमदाबाद में आधा लीटर अमूल गोल्ड की कीमत 30 रुपए, और आधा लीटर अमूल ताजा की कीमत 24 रुपए होगी।

अब दूध के दामों में इजाफा होने से दूध से बनने वाले दूसरे खाने के सामान भी महंगे हो जायेंगे। मसलन घी, पनीर, मक्खन, चीज, लस्सी और छाछ के अलावा मिठाई, चॉकलेट आदि की कीमतों में भी बढ़ोतरी हो सकती है। दूध के दाम बढ़ने का असर आम आदमी की जेब और उसकी रसोई पर देखने को मिलेगा, क्योंकि इसकी खपत हर परिवार में रोजाना होती है।

यह कंपनियां बेचती हैं दूध

राज्यों में मौजूद दुग्ध संघों के अलावा देश में नेस्ले, ब्रिटानिया, नमस्ते इंडिया, पतंजलि, आनंदा जैसी निजी क्षेत्र में कई कंपनियां मौजूद हैं, जो दूध और इससे बने उत्पादों को बेचने का काम करती हैं। अब अमूल द्वारा को-ऑपरेटिव सोसाइटी की गई बढ़ोतरी के बाद ये कंपनियां भी कीमतें बढ़ा सकती हैं।

महंगाई से पहले ही त्रस्त है आम आदमी

गौरतलब है कि कोरोना महामारी संकट के कारण बीते करीब डेढ़ साल से लोगों की जिंदगी काफी प्रभावित हुई है। हर सेक्टर में लोगों के कामकाज पर काफी असर पड़ा है। कईय़ों की नौकरियां गयी हैं, तो कई रोजगार, उद्योग-धंधे बंद हो गये हैं। इस बीच महंगाई में भी इजाफा हुआ है। खाद्य तेल की कीमतें आसमान पर है। पेट्रोल और डीज़ल के दामों में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है। देश के कई हिस्सों में पेट्रोल सौ रुपये प्रति लीटर से अधिक दाम में बिक रहा है।

पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दामों का असर दूसरे सामानों की कीमतों पर भी पड़ रहा है। और अब दूध के दाम भी बढ़ गये हैं। महामारी, उससे होती मौत, लॉकडाउन और अनलॉक की प्रक्रिया के बीच लगातार बाजार खुल रहे और बंद हो रहे हैं, ऐसे में लोगों के रोजगार पर जारी संकट के बीच बढ़ती महंगाई बहुत बड़ी समस्या बन चुकी है।


Next Story

विविध

Share it