Top
राजनीति

​हाशिए पर हैं हाशिए पर ही रहेंगे विश्वास

Janjwar Team
21 Aug 2017 7:29 AM GMT
​हाशिए पर हैं हाशिए पर ही रहेंगे विश्वास

पहले पंजाब चुनाव फिर दिल्ली नगर निगम और अब बवाना विधानसभा उपचुनाव में प्रचार से गायब रहे कुमार विश्वास

दिल्ली, जनज्वार। दिल्ली में नगर निगम के चुनाव के 4 महीने बाद एक बार फिर बवाना विधानसभा उपचुनाव होने जा रहे हैं। दिल्ली नगर निगम चुनाव में बड़ी हार देख चुकी आम आदमी पार्टी की एक बार परीक्षा की घड़ी आ गई है, क्योंकि उनकी ही पार्टी के एमएलए वेद प्रकाश के इस्तीफा देकर भाजपा में जाने से ये चुनाव हो रहे हैं। भाजपा ने वेद प्रकाश को चुनाव मैदान में उतारा है।

अब मात्र 2 दिन रह गए हैं चुनाव में। 23 अगस्त को ये उपचुनाव होना है। आप के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से लेकर सभी छोटे बड़े नेता बवाना में पसीना बहा रहे हैं और प्रचार में जुटे हुए हैं। लेकिन इस चुनाव में भी पार्टी का दूसरा सबसे बड़ा और लोकप्रिय नेता कुमार विश्वास गायब है।

इससे पहले पंजाब विधानसभा चुनाव उसके बाद दिल्ली में हुए नगर निगम के चुनाव में भी कुमार विश्वास गायब थे। अब 23 अगस्त को होने जा रहे बवाना विधानसभा उपचुनाव के प्रचार से कुमार विश्वास दूर हैं।

ऐसा नहीं है कि कुमार विश्वास देश से बाहर हैं, बल्कि कुमार नियमित रूप से अपने काव्य समारोह के कार्यक्रम कर रहे हैं। 5 दिन पहले गए स्वतंत्रता दिवस पर कुमार न्यूज़ चैनल्स के स्पेशल प्रोग्राम में भी नज़र आये। इतना ही नही कुमार कपिल का कॉमेडी शो फिर लिटिल चैम्प प्रोग्राम में भी टीवी पर दिखे। बस नहीं दिखे तो अपनी पार्टी के चुनाव प्रचार में।

पार्टी का नेता अरविंद केजरीवाल भी विधानसभा का सत्र छोड़कर बवाना के चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं, लेकिन कुमार का चुनाव प्रचार करना तो दूर सोशल मीडिया पर चुनाव को लेकर न कोई ट्वीट है, न कोई संदेश है। न ही कोई वीडियो कुमार ने चुनाव प्रचार के लिए निकाली है।

पार्टी सूत्र बताते हैं कि कुमार को प्रचार में आने के लिए नहीं कहा गया। वहीं कुमार का विरोधी खेमा कह रहा है कि पार्टी उनकी है, उन्हें खुद से आना चाहिए। पार्टी के भीतर से छनकर आ रही खबरों और अंतर्विरोधों से इतना तो तय है कि पार्टी के नेताओं में इतनी दरार पड़ गई है कि शायद ही वो कभी भर पाए।

Next Story

विविध

Share it