Top
समाज

मुस्लिम मजदूर के टुकड़े कर जलाने वाला सनकी गिरफ्तार

Janjwar Team
7 Dec 2017 10:51 PM GMT
मुस्लिम मजदूर के टुकड़े कर जलाने वाला सनकी गिरफ्तार
x

मैंने उसकी हत्या से पहले सुबह उससे बात की थी। मुझे उसकी हत्या के पीछे की वजह का पता नहीं है। मैंने वीडियो देखा है, जिसमें उसे दर्दनाक मौत दी जा रही है। दोषियों को सजा मिलनी चाहिए - मारे गए मजदूर की मां

जयपुर। सोशल मीडिया में एक वीडियो कल से लगातार घूम रहा है, जिसमें एक व्यक्ति पहले एक शख्स पर कुल्हाड़ी से वार करता है, फिर उसे जिंदा जलाकर मौत के घाट उतार देता है। इस नृशंसता की न सिर्फ हत्यारा वीडियोग्राफी कराता है, बल्कि लव जेहाद, बदला और भी पता नहीं क्या—क्या बकता है। विजयी मुस्कान उसके चेहरे पर साफ देखी जा सकती है। हमलावर चेता रहा है कि लव जिहाद करने वालों का यही हाल होगा।

लव जिहाद के लिए शंभूलाल रैगर नाम के शख्स ने मोहम्मद अफराजुल की न सिर्फ बर्बरतापूर्ण तरीके से हत्या की, बल्कि उसे वीभत्स तरीके से जलाते हुए और उसका वीडियो बनाया और यह वीभत्सत और दिल को कंपा देने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर लगातार घूम रहा है।

यह घटना राजस्थान के उदयपुर स्थित राजसमंद की है। लव जिहाद के नाम पर एक 50 वर्षीय मुस्लिम को बर्बर तरीके से मौत के घाट उतारने वाले आरोपी शंभूलाल रैगर पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है और उससे पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि आरोपी रैगर दलित जाति से ताल्लुक रखता है।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक पिछले दिनों रैगर मोहल्ले से दो लड़कियां गायब हुई थीं। अफवाह उड़ाई गई थी इन्हें अफराजुल ने गायब किया है, मगर पुलिस ने बाद में जांच कर लड़कियों को बरामद कर लिया और पाया कि इसमें अफराजुल का कोई हाथ नहीं था। मगर रैगरों के बीच अफराजुल को लेकर शक—संदेह पैदा हो गया था, जिसका फायदा निजी दुश्मनी के लिए शंभूलाल रैगर ने उठाया और इसे लव जिहाद का नाम दे दिया।

इस मामले ने राजनीतिक हलकों में भी हलचल मचाकर रख दी है। तभी तो प्रदेश के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने मामले की जांच के लिए एसआईटी (स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम) गठित कर दी है। कटारिया ने मीडिया में बयान भी दिया कि उन्होंने कभी एेसी घटना नहीं देखी, जहां हत्यारा हत्या को रिकॉर्ड करवा रहा हो। इस हत्याकांड में एसआईटी गठित कर दी गई है, जिससे कि कोई किंतु—परंतु न रह जाए। हत्यारा पुलिस की गिरफ्त में आ चुका है, उससे पूछताछ की जा रही है।

मामले को देख रहे आईजी आनंद श्रीवास्तव कहते हैं कि यह मामला सांप्रदायिक रूप न अख्तियार कर ले इसलिए यहां की इंटरनेट सेवाएं 24 घंटे के लिए बंद कर दी गई हैं।

राजस्थान कांग्रेस प्रवक्ता प्रताप खाचरियावास इस बर्बर हत्याकांड पर कहते हैं, राजसंमद में कैमरे के सामने हुई हत्या बेहद भयावह है। पुलिस तत्काल आरोपियों को गिरफ्तार कर सच्चाई सामने लाए। कोई विकृत मानसिकता वाला शख्स ही ऐसी खौफनाक हत्या को अंजाम दे सकता है।

लव जेहाद के नाम पर मारे गए मृतक मोहम्मद अफराजुल पिछले 12 सालों से राजसमंद में रहकर मजदूरी कर रहे थे। मूल रूप से बंगाली मोहम्मद अफराजुल की मां बेटे की हत्या के बाद कहती हैं, 'मैंने उसकी हत्या से पहले सुबह उससे बात की थी। मुझे उसकी हत्या के पीछे की वजह का पता नहीं है। मैंने वीडियो देखा है, जिसमें उसे दर्दनाक मौत दी जा रही है। दोषियों को सजा मिलनी चाहिए।'

Next Story

विविध

Share it