राजनीति

RSS के सर्वे में भाजपा को मिली थी हार इसीलिए मुख्यमंत्री के पद से हटाए गए रूपाणी- हार्दिक पटेल

Janjwar Desk
12 Sep 2021 8:33 AM GMT
RSS के सर्वे में भाजपा को मिली थी हार इसीलिए मुख्यमंत्री के पद से हटाए गए रूपाणी- हार्दिक पटेल
x

(हार्दिक पटेल : मुख्यमंत्री का इस्तीफ़ा गुजरात की जनता को गुमराह करने के लिए लिया गया फ़ैसला)

हार्दिक पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री रूपाणी को बदलने का प्रमुख कारण अगस्त में आरएसएस और भाजपा का गुप्त सर्वे चौंकाने वाला था.....

जनज्वार। आगामी 15 महीनों बाद होने वाले विधानसभा चुनावों (Gujarat Assembly Election) से पहले गुजरात के मुख्यमंत्री (CM Of Gujarat) पद से विजय रूपाणी (Vijay Rupani) ने अचानक इस्तीफा दे दिया। इसके साथ ही राजनीतिक गलियारों में अटकलें तेज हो गई हैं। रूपाणी इसे सामान्य प्रक्रिया बता रहे हैं तो विपक्षी नेता इसको लेकर अलग ही दावा कर रहे हैं। कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने कहा है कि आरएसएस (RSS) और भाजपा (BJP) के आंतरिक सर्वे में हार मिलती देख रूपाणी की कुर्सी गई है।

हार्दिक पटेल ने अपने ट्वीट में लिखा है- मुख्यमंत्री रूपाणी को बदलने का प्रमुख कारण अगस्त में आरएसएस और भाजपा का गुप्त सर्वे चौंकाने वाला था। कांग्रेस के 43 प्रतिशत वोट और 96-100 सीट, भाजपा को 38 प्रतिशत वोट और 80-84 सीट, आप को 3 प्रतिशत वोट और 0 सीट, मीम को 1 प्रतिशत वोट और 0 सीट और सभी निर्दलीय को 15 प्रतिशत वोट और 4 सीट मिल रही थी।

हार्दिक पटेल ने इससे पहले भी एक ट्वीट में भाजपा पर हमला बोला था। उन्होंने लिखा था- मुख्यमंत्री का इस्तीफ़ा गुजरात की जनता को गुमराह करने के लिए लिया गया फ़ैसला है। लेकिन असली परिवर्तन अगले वर्ष चुनावों के बाद आएगा, जब जनता भाजपा को सत्ता से उखाड़ फेकेंगी।

पटेल ने लिखा- गुजरात में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी जी के इस्तीफे से यह साफ हो चुका है कि भाजपा, गुजरात में सरकार चलाने में पूरी तरह विफल साबित हुई है। कोरोनाकाल में ऑक्सीजन की कमी से मौतें, लाशों के ढेर, शमशानों से आती भयावह तस्वीरों से पूरे विश्व में गुजरात की छवि खराब हुई है।

गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष ने लिखा- लगातार बढ़ती महंगाई, व्यापारियों पर आए संकट, युवाओं में बढ़ती बेरोजगारी, बंद होते उद्योग से राज्य के लोग परेशान हैं। दिल्ली के रिमोट कंट्रोल से चल रही गुजरात सरकार आखिर कब तक अपनी नाकामी छिपाती रहती?

'गुजरात में वर्ष 2014 के बाद पहली बार मुख्यमंत्री को बदलने की नौबत हमारे आंदोलन के बाद आई थी और अब एक बार फिर जनता की भारी नाराजगी के बाद मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना पड़ा है। लेकिन असली परिवर्तन अगले वर्ष चुनावों को बाद आएगा, जब जनता भाजपा को सत्ता से उखाड़ फेंकेगी।'

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा- भाजपा ने सिर्फ़ मुख्यमंत्री बदला है लेकिन गुजरात के साढ़े छह करोड़ लोगों ने सरकार बदलने का मूड बनाया हैं।


Next Story

विविध

Share it