Top
समाज

बिहार : मुजफ्फरपुर में 10वीं की छात्रा को अगवा कर 5 लोगों ने किया गैंगरेप, पुलिस ने 3 दिन बाद दर्ज किया केस

Janjwar Desk
7 Jan 2021 7:58 AM GMT
बिहार :  मुजफ्फरपुर में 10वीं की छात्रा को अगवा कर 5 लोगों ने किया गैंगरेप, पुलिस ने 3 दिन बाद दर्ज किया केस
x

[ प्रतीकात्मक तस्वीर ]

पेट्रोल पंप के जर्जर कमरे में ले जाकर बंधक बनाकर पिस्टल की नोक पर पांच युवकों ने गैंगरेप किया, किसी तरह पीड़िता खिड़की के रास्ते भाग कर एनएच पर पहुंची, ग्रामीणों की सूचना पर पहुंचे परिजन छात्रा को घर ले गए...

मुजफ्फरपुर। बिहार के मुजफ्फरपुर जिले से कोचिंग से लौट रही एक 10वीं कक्षा की छात्रा को हथियार के बल पर अगवा कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने इस घटना में पांच आरोपियों में से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के अनुसार, सकरा थाना क्षेत्र में 10वीं क्लास की एक छात्रा सोमवार 4 जनवरी की शाम कोचिंग से लौट रही थी, तभी पिपरी-सहदुल्लापुर मार्ग पर सहदुल्लापुर गांव के समीप एक बोलेरो सवार ने उसकी साईकिल को ठोकर मार कर गिरा दिया। इसके बाद दो युवकों ने पीड़िता को उठाकर बोलेरो में बैठा लिया और हाथ पैर बांधकर सुजावलपुर स्थित एक पेट्रोल पंप के जर्जर कमरे में ले गए।

आरोप है कि यहां उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। पीड़िता का कहना है कि कुछ समय के लिए सभी आरोपी कमरे से बाहर गए थे, तभी वह कमरे की खिड़की से कूदकर भाग गई। ग्रामीणों ने पीड़िता को उसके घर तक पहुंचाया।

मुजफ्फरपुर (पूर्वी) के पुलिस उपाधीक्षक मनोज पांडेय ने गुरुवार 7 जनवरी को बताया कि पुलिस के सामने मामला आने के बाद बुधवार 6 जनवरी को पीड़िता के बयान पर महिला थाना में एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। उन्होंने बताया कि इस मामले में 5 लोगों को आरोपी बनाया गया है।

पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है तथा अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। पीड़िता को चिकित्सकीय जांच के लिए सदर अस्पताल भेजा गया है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

घटना में पुलिस की लापरवाही से तीन दिन बाद केस दर्ज किया गया। सुजावलपुर स्थित एक बंद पेट्रोल पंप के जर्जर कमरे में ले जाकर बंधक बनाकर पिस्टल की नोक पर पांच युवकों ने गैंगरेप किया। किसी तरह पीड़िता खिड़की के रास्ते भाग कर एनएच पर पहुंची। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंचे परिजन छात्रा को घर ले गए। घटना के तीन दिन बाद बुधवार 6 जनवरी को मामला महिला थाने पहुंचा। इससे पहले परिजन ने सकरा थाने को इसकी सूचना दी।

खबरों के मुताबिक घटना के अगले दिन मंगलवार 5 जनवरी को परिजनों ने एक बलात्कार आरोपी युवक को पकड़ कर पुलिस के हवाले भी किया, लेकिन पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया। पुलिस ने उलटा परिजनों को डांट फटकार भी लगाई, जिसका एक ऑडियो परिजन ने पुलिस को दिया है। सकरा थाने के टालमटोल पर घटना के 48 घंटे बाद बुधवार 6 जनवरी को पीड़िता अपने परिजन के साथ महिला थाने पहुंची। परिजन ने थाने में गैंगरेप को लेकर आवेदन दिया। इस आधार पर महिला थाने की थानेदार नीरू कुमारी ने पॉक्सो एक्ट में केस दर्ज किया है।

शिकायत के आधार पर मो. इजहार, आदित्य झा व तीन अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया। मो. इजहार को परिजनों ने ही पकड़कर पुलिस को सौंपा है। गुरुवार को पुलिस उसे विशेष कोर्ट में पेश करेगी। इससे पहले महिला थाने की पुलिस ने पीड़िता का सदर अस्पताल में मेडिकल कराया हैए जिसकी रिपोर्ट आनी है।

Next Story
Share it