Up Election 2022

Pilibhit News: BJP को नहीं मेनका-वरुण पर भरोसा, स्टार प्रचारकों की सूची से नाम गायब, ये है इसके पीछे वजह

Janjwar Desk
19 Jan 2022 5:42 PM GMT
Pilibhit News: BJP को नहीं मेनका-वरुण पर भरोसा, स्टार प्रचारकों की सूची से नाम गायब, ये है इसके पीछे वजह
x
Pilibhit News: उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के लिए भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) ने स्टार प्रचारकों की जो सूची जारी की है, उसमें ना तो नेहरू-गांधी परिवार की बहू मेनका गांधी (Menaka Gandhi) का नाम है और ना ही उनके बेटे भाजपा के फायर ब्रांड नेता वरुण गांधी (Varun Gandhi) को शामिल किया गया है।

Pilibhit News: उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के लिए भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) ने स्टार प्रचारकों की जो सूची जारी की है, उसमें ना तो नेहरू-गांधी परिवार की बहू मेनका गांधी (Menaka Gandhi) का नाम है और ना ही उनके बेटे भाजपा के फायर ब्रांड नेता वरुण गांधी (Varun Gandhi) को शामिल किया गया है। सियासी जानकारों का मानना है कि भाजपा को मेनका-वरुण पर अब भरोसा नहीं रहा। इनकी संगठन से तल्ख़ियां जग जाहिर हैं।

भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के लिए 30 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की है, जिसमें शीर्ष प्रचारकों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, सीएम योगी आदित्यनाथ और मथुरा की सांसद हेमा मालिनी शामिल हैं। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, यूपी बीजेपी चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान भी पार्टी के उम्‍मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार करेंगे। यूपी प्रभारी राधा मोहन सिंह, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान भी चुनाव प्रचार करेंगे। इसके अलावा यूपी के परिवहन मंत्री अशोक कटारिया, सुरेंद्र नागर, जनरल वीके सिंह, चौधरी भूपेंद्र सिंह, बीएल वर्मा, राजवीर सिंह, एसपी सिंह बघेल साध्वी निरंजन ज्योति, कांता कर्दम भी पार्टी के उम्‍मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार करेंगे। वहीं रजनीकांत माहेश्वरी, मोहित बेनीवाल, धर्मेंद्र कश्यप, जेपीएस राठौर और भोला सिंह खटीक, जसवंत सैनी भी प्रचार करेंगे। यह उत्तर प्रदेश में 10 फरवरी को होने जा रहे प्रथम चरण के चुनाव के लिए प्रचार करेंगे।



बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता और केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री अजय मिश्रा टेनी का नाम स्‍टार प्रचारकों की सूची से गायब है। माना जा रहा है कि लखीमपुर कांड को लेकर चुनाव में पार्टी ने उनसे दूरी बना ली है। इसके अलावा पीलीभीत के सांसद व भाजपा के फायर ब्रांड नेता वरुण गांधी और उनकी मां पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सुल्तानपुर की सांसद मेनका गांधी का नाम भी प्रचारकों की सूची में शामिल नहीं है। जबकि 2017 के चुनाव में वरुण गांधी तो स्टार प्रचारकों की सूची में नहीं थे लेकिन मेनका गांधी भाजपा की स्टार प्रचारक में शामिल थी। माना जा रहा है कि बीते कुछ माह से वरुण गांधी लगातार सोशल मीडिया के प्लेटफार्म पर लखीमपुर कांड, किसानों के आंदोलन, एमएसपी, बेरोजगारों का मुद्दा उठाकर अपनी ही सरकार पर हमलावर हैं। संगठन से उनकी तल्खियां जगजाहिर हैं। इसी के चलते ना तो वरुण गांधी को और ना ही मेनका गांधी को स्टार प्रचारक बनाया गया है। बरेली मंडल से उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय के राज्यमंत्री बीएल वर्मा (बदायूं), आंवला के सांसद धर्मेंद्र कश्यप (बरेली), पार्टी के प्रदेश महामंत्री और उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन जेपीएस राठौर (शाहजहांपुर) को पार्टी में फिर तरजीह देते हुए स्टार प्रचारकों में शामिल किया।

2017 में यह थे बीजेपी के स्टार प्रचारक

नरेंद्र मोदी, अमित शाह, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, अरुण जेटली, वैंकया नायडू, रामलाल, स्मृति ईरानी, ओम माथुर, केशव प्रसाद मौर्य, कलराज मिश्र, उमा भारती, शिवराज चौहान, वसुंधरा राजे सिंधिया, पीयूष गोयल, महेश शर्मा, योगी आदित्यनाथ, संजीव बलियान, राम विलास पासवान, मुख्तार अब्बास नकवी, हेमा मालिनी, वीके सिंह, साध्वी निरंजन ज्योति, संतोष गंगवार, शिवप्रकाश, सुनील बंसल ,राजबीर सिंह, कौशल किशोर, मनोज तिवारी, स्वामी प्रसाद मौर्य, एसपी सिंह बघेल, रामशंकर कठेरिया, रविकांत गर्ग, हुकुम सिंह, भूपेंद्र सिंह, बीएल वर्मा, मेनका गांधी, नरेंद्र कश्यप, अवतार सिंह भड़ाना, लोकेश प्रजापति।

Next Story

विविध