Up Election 2022

UP Election 2022 : गले में बेड़िया, हाथों में हथकड़ियां व कटोरा लेकर क्यों नोट और वोट मांग रहा ये उम्मीदवार

Janjwar Desk
8 Feb 2022 8:37 AM GMT
UP Election 2022 : गले में बेड़िया, हाथों में हथकड़ियां व कटोरा लेकर क्यों नोट और वोट मांग रहा ये उम्मीदवार
x

फिरोजाबाद सदर सीट से निर्दलीय उम्मीदवार रामदास

UP Election 2022 : बेड़ियों में जकड़े रामदास मानव का कहना है कि वह चूड़ी जुड़ाई श्रमिकों के नेता हैं और मजदूरों का शोषण हो रहा है, चूड़ी जुड़ाई मजदूरों की हालत खराब है.....

UP Election 2022 : उत्तर प्रदेश की 403 सीटों वाली विधानसभा (UP Election 2022) के लिए चुनाव प्रचार जोरों पर हैं। पहले चरण के लिए दो दिन बाद ही मतदान होना है ऐसे में पहले चरण के लिए आज चुनाव प्रचार (Election Campaign) थम जाएगा। चुनाव प्रचार के बीच प्रत्याशियों के कई रंग भी देखने को मिल रहे हैं। फिरोजाबाद सदर विधानसभा सीट (Firozabad Sadar Seat) पर एक निर्दलीय उम्मीदवार इन दिनों गले में बेड़ियां डालकर घर घर जाकर वोट देने की अपील कर रहा है। उनका कहना है कि श्रमिकों (Workers) के मु्द्दों को लेकर वे चुनाव मैदान में हैं।

निर्दलीय उम्मीदवार का नाम रामदास मानव (Ramdas Manav) है और वह मजदूर नेता हैं। मजदूरों की अलग-अलग समस्याओं को हल करने को लेकर वह चुनाव मैदान में हैं। बेड़ियों में जकड़े रामदास मानव का कहना है कि वह चूड़ी जुड़ाई श्रमिकों के नेता हैं और मजदूरों का शोषण हो रहा है। चूड़ी जुड़ाई मजदूरों की हालत खराब है। मजदूरों के हालात ठीक करने को लेकर ही वह चुनाव में उत्तर पड़े हैं। उन्हें चुनाव चिह्न भी चूड़ी ही मिला है। रामदास मानव अपने चुनाव चिह्न चूड़ी का प्रचार करने के लिए लोगों के बीच जा रहे हैं।

रामदास का कहना है कि आज चूड़ी मजदूर परेशानी से गुजर रहे हैं। इसलिए उन्होंने अपना चुनाव चिह्न भी चूड़ी रखा है। मजदूरी करते हैं कि इसलिए चुनाव लड़ने के लिए अपने वोटरों से नोट की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि कारखाने ने मजदूरों को इन बेड़ियों की तरह जकड़ रखा है। मजदूर आजाद हो इसलिए वह चुनावी मैदान में उतरे हैं। मजदूरों को यह बताने के लिए कि वह किस कदर बेड़ियों में जकड़े हुए हैं, उन्होंने खुद को भी हथकड़ी और बेड़ियों में जकड़ लिया है। उन्होंने कहा कि वह बेड़िया उस समय उतारेंगे जब मजदूर इन बेड़ियों से आजाद होगा।

मजदूर प्रत्याशी रामदास मानव दिग्गजों के सामने चुनाव लड़ रहे हैं। वह दो बार से लगातार विधायक रहे मनीष असीजा, पूर्व विधायक अजीम भाई, सपा प्रत्याशी सैफुर्रहमान समेत अन्य प्रत्याशियों को टक्कर दे रहे हैं। उनके साथ कारखानों में काम करने वाले मजदूर हैं जो उनके चुनाव प्रतचार में उनके साथ घूम रहे हैं।

Next Story

विविध