Up Election 2022

Uttarakhand Assembly Election 2022 : उत्तराखंड क्रांति दल ने जारी की 16 प्रत्याशियों की सूची

Janjwar Desk
21 Dec 2021 2:40 PM GMT
Uttarakhand Assembly Election 2022 : उत्तराखंड क्रांति दल ने जारी की 16 प्रत्याशियों की सूची
x
Uttarakhand Assembly Election 2022 : केन्द्रीय प्रवक्ता विजय कुमार बौड़ाई ने बताया कि उक्रांद ने पहले अपना घोषणा पत्र जारी किया और अब 2022 की लिए प्रत्याशियों की पहली सूची भी जारी कर दी है...

Uttarakhand Assembly Election 2022 : उत्तराखंड में आगामी विधानसभा चुनावों (Uttarakhand Election 2022) के लिए क्षेत्रीय दल उत्तराखंड क्रांति दल (UKD) ने 16 प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर दी है। देहरादून में दल के केन्द्रीय अध्यक्ष काशीसिंह ऐरी ने सभी 16 प्रत्यशियों के नामों की घोषणा की।

केन्द्रीय प्रवक्ता विजय कुमार बौड़ाई (Vijay Kumar Baurai) ने बताया कि उक्रांद ने पहले अपना घोषणा पत्र जारी किया और अब 2022 की लिए प्रत्याशियों की पहली सूची भी जारी कर दी है। प्रत्याशियों की दूसरी लिस्ट भी बहुत जल्दी जारी कर दी जाएगी।


लिस्ट के मुताबिक देवप्रयाग से दिवाकर भट्ट, द्वाराहाट से पुष्पेश त्रिपाठी, श्रीनगर से मोहन काला, धनोल्टी से उषा पवार, लैंसडाउन से एपी जुयाल, अल्मोड़ा से भानु प्रकाश जोशी, काशीपुर से मनोज डोबरियाल, यमकेश्वर से शांति प्रसादभट्ट, केदारनाथ से गजपाल सिंह रावत, रायपुर से अनिल डोभाल, ऋषिकेश से मोहन सिंह असवाल, देहरादून कैंट से अनिरुद्ध काला, चौबट्टाखाल से वीरेंद्र सिंह रावत, टिहरी से उर्मिला महर सिलकोटी, किच्छा से जीवन सिंह नेगी और डोईवाला से शिवप्रसाद सेमवाल को टिकट दिया गया है।

उम्मीदवारों की पहली सूची जारी होने के बाद यूकेडी के केंद्रीय अध्यक्ष काशी सिंह ऐरी ने कहा कि राज्य गठन को इक्कीस साल बीत चुके हैं लेकिन कांग्रेस और भाजपा ने राज्य आंदोलनकारियों की भावनाओं के विपरीत कार्य कियाय है। इसका नतीजा प्रदेश में बेरोजगारी, पलायन, महंगाई, स्थायी राजधानी और अब भू कानून जैसे मुद्दे भी जोर पकड़ रहे हैं।

ऐरी ने कहा कि इस बार परिवर्तन की लहर में यूकेडी राज्य में कई सीटों पर जीत का परचम लहराएगी। ऐरी के मुताबिक पार्टी की ओर से जिन सोलह उम्मीदवारों की सूची जारी की गई है वे उम्मीदवार पहले भी चुनाव लड़ चुके हैं और वो चुनाव जीतने का दमखम भी रखते हैं। ऐसे में उन्हें उम्मीद है कि यूकेडी के उम्मीदवार भाजपा और कांग्रेस को कड़ी टक्कर दे सकते हैं।

वहीं पार्टी के उम्मीदवारों की पहली सूची जारी होने पर पूर्व कैबिनेट मंत्री व पार्टी के पूर्व केंद्रीय अध्यक्ष दिवाकर भट्ट ने कहा कि यूकेडी राज्य में वो पार्टी है जिसके पास आंदोलनकारियों की भावनाओं के अनुसार प्रदेश को आगे बढ़ाने का एजेंडा है क्योंकि उत्तराखंड राज्य बनाने के लिए जिन आंदोलनकारियों ने छातियों पर गोली खाई उनके सपने को साकार करने के लिए ही उत्तराखंड क्रांति दल हर बार की तरह चुनावी मैदान में उतर रहा है।

दिवाकर भट्ट ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि भाजपा और कांग्रेस के कुशासन से परिवर्तन की लहर यूकेडी को फायदा पहुंचाएगी। दिवाकर भट्ट ने साफ तौर पर कहा कि पहले उनका दल राज्य बनान के लिए लड़ा था लेकिन अब उत्तराखंड बचाने को उनका दल चुनावी मैदान में दो दो हाथ करने को तैयार है।

Next Story

विविध