Up Election 2022

Yogi Adityanath : योगी आदित्यनाथ अगर मीडिया की हवाबाजी में पड़ते तो हार सकते थे 'अयोध्या'

Janjwar Desk
15 Jan 2022 1:00 PM GMT
upchunav2022
x

(मीडिया ने योगी को बना दिया था अयोध्या से प्रत्याशी)

मीडिया योगी को लेकर दो दिन से हवा बना रही थी कि वह अयोध्या से चुनाव लड़ेंगे। लेकिन आज शनिवार 15 जनवरी को यह सभी भ्रम तोड़ते हुए संगठन ने कोई रिस्क न लेते हुए उन्हें गोरखपुर से लड़ाने का फैसला किया है...

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश में 2017 विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अयोध्या मंडल की 25 विधानसभा सीटों में से 19 सीटें जीती थी। सपा और बसपा ने 3-3 सीटों पर कब्जा जमाया था। लेकिन उपचुनाव में भाजपा से बाराबंकी की जैदपुर और बसपा से अंबेडकरनगर की जलालपुर सीट सपा ने झटक ली थीं।

बीते दो दिनों से मीडिया मौजूदा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेकर हवा बना रही थी कि वह अयोध्या से चुनाव लड़ेंगे। लेकिन आज शनिवार 15 जनवरी को यह सभी भ्रम तोड़ते हुए संगठन ने कोई रिस्क न लेते हुए उन्हें गोरखपुर से लड़ाने का फैसला किया है। इसके साथ उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य अपनी जन्मभूमी सिराथू से चुनाव लड़ेंगे।

कहा जा रहा कि योगी आदित्यनाथ अगर मीडिया की हवाबाजी के चक्कर में पड़ते तो वह अयोध्या में जिस किसी भी सीट से लड़ते, हार जाते। इसका कारण बताया जा रहा कि अयोेध्या मंदिर को लेकर अयोध्या की जनता योगी सरकार से खफा चल रही। सूत्र बताते हैं कि मंदिर प्रागण में दुकानें चलाकर अपना परिवार पाल रहे हजारों परिवार योगी को कोसते हैं। उनकी रोजी रोटी तक छीन ली गई। जिसके चलते उन्हें अयोध्या से लड़ाकर रिस्क नहीं लिया गया।

अयोध्या की 5 विधानसभा सीटों का समीकरण

1. अयोध्या : भाजपा के वेद प्रकाश गुप्ता विधायक हैं।

जातिगत समीकरण : ब्राह्मण 45 हजार, मुस्लिम 44 हजार, अनुसूचित जातियां 43 हजार, वैश्य 42 हजार, यादव 36 हजार, चौहान 33 हजार, निषाद 24 हजार।

2. बीकापुर : भाजपा से शोभा सिंह चौहान विधायक हैं।

जातिगत समीकरण : मुस्लिम 55 हजार, ब्राह्मण 48 हजार, पासी 45 हजार, यादव 38 हजार, क्षत्रिय 31 हजार, कुर्मी 28 हजार, कोरी 27 हजार।

3. रुदौली : भाजपा से रामचंद्र यादव विधायक हैं।

जातिगत समीकरण : अनुसूचित जातियां करीब 83 हजार, मुस्लिम 60 हजार, यादव 48 हजार, लोध 26 हजार, ब्राह्मण 21 हजार, क्षत्रिय 17 हजार।

4. मिल्कीपुर (सु.) : भाजपा के गोरखनाथ बाबा विधायक हैं।

जातिगत समीकरण : अनुसूचित जातियां करीब 1 लाख, ब्राह्मण 60 हजार, यादव 55 हजार, मुस्लिम 30 हजार, क्षत्रिय 25 हजार, चौरसिया 18 हजार, वैश्य 12 हजार, पाल 7 हजार, मौर्य 5 हजार।

5. गोसाईंगंज : भाजपा के इंद्र प्रताप तिवारी उर्फ खब्बू तिवारी जीते थे। फर्जी अंक पत्र मामले में इनकी विधानसभा की सदस्यता समाप्त हो गई।

जातिगत समीकरण : अनुसूचित जातियां करीब 75 हजार, ब्राह्मण 65 हजार, वर्मा व निषाद 40-40 हजार, क्षत्रिय, यादव व मुस्लिम 25-25 हजार।

Next Story

विविध

Share it