Top
आर्थिक

हो जाएं तैयार लगने वाला है महंगाई का झटका, तेल-साबुन जैसे घरेलू उपयोग के सामान के बढ़ेंगे दाम

Janjwar Desk
14 Jan 2021 6:15 AM GMT
हो जाएं तैयार लगने वाला है महंगाई का झटका, तेल-साबुन जैसे घरेलू उपयोग के सामान के बढ़ेंगे दाम
x

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खाद्य तेल, साबुन, पैकेटबंद सामान खरीदने के लिए आने वाले दिनों में अपनी जेब ज्यादा ढीली करनी होगी, चूंकि कंपनियों ने इनके दाम में 10 फीसदी से ज्यादा बढोत्तरी करने का फैसला कर लिया है...

जनज्वार। देश में जारी मंदी और लगातार गिर रही जीडीपी के बीच आम लोगों पर महंगाई की एक और मार पड़ने वाली है। आम उपभोक्ताओं को घरेलू दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुओं जैसे खाद्य तेल, साबुन, पैकेटबंद सामान खरीदने के लिए आने वाले दिनों में अपनी जेब ज्यादा ढीली करनी होगी, चूंकि इन सामानों को बनाने वाली कंपनियों ने इनके दाम में 10 फीसदी से ज्यादा बढोत्तरी करने का फैसला कर लिया है।

घरेलू उपयोग के सामान बनाने वाली कंपनियों का कहना है कि कच्चे माल की कीमत में बढ़ोतरी के चलते यह निर्णय लिया गया है। वैसे मैरिको सहित कुछ अन्य कंपनियां तो अपने उत्पाद की कीमत बढ़ा भी चुकी हैं। वहीं डाबर, पारले और पतंजलि जैसी कंपनियां स्थिति पर करीबी नजर बनाए हुए हैं।

कई एफएमसीजी कंपनियों का कहना है कि कच्चे माल की कीमत बढ़ने का असर उनके उत्पादों पर कैसा और कितना पड़ेगा, इसका आकलन किया जा रहा है। हालांकि, कीमत बढाने का फैसला वे ज्यादा समय तक टाल नहीं सकते और आने वाले समय में वे भी अपने उत्पादों की कीमत बढ़ाएंगे।

पारले प्रोडक्ट्स सीनियर कैटेगरी हेड मयंक शाह ने पिछले दिनों मीडिया से कहा था 'हमने पिछले तीन से चार महीनों में कच्चे माल की लागत और विशेष रूप से खाद्य तेल में उल्लेखनीय वृद्धि देखी है। यह हमारे मार्जिन और लागत पर दबाव डाल रहा है। हालांकि, अभी तक हमने किसी भी उत्पाद की कीमत में बढ़ोतरी नहीं की है, लेकिन हम इसकी बारीकी से निगरानी कर रहे हैं। अगर लगात में बढ़ोतरी जारी रहता है तो हम भी उपने उत्पाद की कीमत में बढ़ोतरी करेंगे।'

वहीं डाबर इंडिया के सीएफओ ललित मलिक ने भी इसे स्वीकार करते हुए मीडिया से कहा था कि हाल के महीनों में प्रमुख कच्चे माल जैसे आंवला और सोने की कीमत में वृद्धि देखी गई है। हम आगे भी प्रमुख वस्तुओं की कीमत में वृद्धि का अनुमान लगा रहे हैं। हमारा प्रयास होगा कि हम कच्चे माल की कीमत में वृद्धि का असर अपने उत्पाद की कीमत पर कम से कम आने दें। हम अपने उत्पाद की कीमत कम से कम बढ़ाने की योजना में हैं।

उधर हरिद्वार स्थित पतंजलि आयुर्वेद के प्रवक्ता एस. के तिजारावाला ने कहा था कि अभी उत्पाद की कीमत बढ़ाने का फैसला नहीं किया गया है। हम अभी वेट एंड वॉच के मूड में है। हालांकि, अगर कच्चे माल की कीमत में बढ़ोतरी जारी रहती है तो हम भी उपने उत्पाद की कीमत बढ़ाने का फैसला करेंगे। सफोला ब्रांड का खाद्य तेल बेचने वाली कंपनी मैरिको ने कहा कि कच्चे माल के दाम में बढ़ोतरी की वजह से खाद्य तेल के दाम बढ़ाना को रोकना मुश्किल था। इसलिए हम कीमत में बढ़ोतरी कर रहे हैं।

Next Story

विविध

Share it