Top
शिक्षा

ऑनलाइन भुगतान धोखाधड़ी व फर्जी सैनिटाइजर पर सीबीआई ने जारी किया अलर्ट

Janjwar Desk
16 Jun 2020 1:30 AM GMT
ऑनलाइन भुगतान धोखाधड़ी व फर्जी सैनिटाइजर पर सीबीआई ने जारी किया अलर्ट

सीबीआई ने कहा कि अन्य देशों में ऐसे उदाहरण सामने आए हैं, जहां कोविड-19 महामारी के दौरान हैंड सैनिटाइजर की भारी मांग के कारण नकली हैंड सैनिटाइजर का उत्पादन करने के लिए मेथनॉल के उपयोग किया जा रहा है।

जनज्वार ब्यूरो। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की पुलिस को ऑनलाइन अग्रिम भुगतान धोखाधड़ी और जहरीले पदार्थ से बने सैनिटाइजर की आपूर्ति करने वाले गिरोह के बारे में अलर्ट जारी किया है। इंटरपोल से प्राप्त इनपुट के आधार पर यह अलर्ट जारी किया गया है। इंटरपोल अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन है, जो दुनियाभर में पुलिस सहयोग और अपराध नियंत्रण की सुविधा देता है।

सीबीआई को पता चला है कि कोविड-19 से जुड़े मेडिकल उपकरण की खरीदारी करने वाले अस्पतालों व अन्य संगठनों के साथ ऑनलाइल बुकिंग के नाम पर भी ठगी की जा रही है। ऐसा गिरोह ऑनलाइन भुगतान होने के बाद कोई उपकरण नहीं भेजता है।

एक अन्य अलर्ट में सीबीआई का कहना है कि यह गिरोह मेथेनॉल से सैनिटाइजर बना रहा है, जो कि बेहद जहरीला होता है। सीबीआई ने कहा कि अन्य देशों में ऐसे उदाहरण सामने आए हैं, जहां कोविड-19 महामारी के दौरान हैंड सैनिटाइजर की भारी मांग के कारण नकली हैंड सैनिटाइजर का उत्पादन करने के लिए मेथनॉल के उपयोग किया जा रहा है।

मेथनॉल मनुष्यों के लिए अत्यधिक जहरीला और खतरनाक हो सकता है। अलर्ट ऐसे समय में जारी किए गए हैं, जब देश 3.32 लाख से अधिक कोरोनावायरस मामले सामने आ चुके हैं। भारत अब ब्रिटेन को पछाड़कर वैश्विक स्तर पर कोरोना मामलों में चौथा देश बन गया है। भारत अब केवल अमेरिका, ब्राजील और रूस से पीछे है।

Next Story

विविध

Share it