पर्यावरण

Aaj Ka Mausam: तबाही के बाद केरल और उत्तराखंड में राहत की उम्मीद, अब इन राज्यों में बारिश की दस्तक

Janjwar Desk
20 Oct 2021 7:04 PM GMT
Aaj Ka Mausam: तबाही के बाद केरल और उत्तराखंड में राहत की उम्मीद, अब इन राज्यों में बारिश की दस्तक
x
Aaj Ka Mausam: 22 अक्टूबर से एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत के राज्यों को प्रभावित कर सकता है। भारत के पहाड़ी क्षेत्रों के साथ-साथ उत्तर भारत के मैदानी क्षेत्रों पर प्रभाव डालने वाला मौसम का पहला मजबूत सिस्टम बताया जा रहा ...

Aaj ka Mausam, 21 October: देशभर में बेमौसम बरसात का कहर जारी है। पूरब में उत्तराखंड से लेकर दक्षिण के केरल तक भारी बारिश ने तबाही मचाई है। उत्तराखंड में एक ओर जहां बारिश के तबाही में करीब 40 लोगों की मौत हो चुकी है तो वहीं केरल में भी 41 लोगों ने जान गंवाई। बाढ में कई लोग अब भी लापता हैं। दोनों राज्यों में रेसक्यू का काम तेजी से जारी है। इधर, भारत मौसम विज्ञान विभाग(IMD) के ताजा अपडेट के अनुसार, बारिश का सिलसिला आगे भी जारी रहने वाला है। हालांकि, उत्तराखंड और केरल के लिए आने वाले दिन राहत भरे हो सकते हैं क्योंकि मौसम विभाग के अनुसार यहां अब भारी बारिश नहीं होगी। लेकिन, पहाड़ी क्षेत्रों के साथ उत्तर भारत के कुछ राज्यों में बारिश और बर्फबारी की संभावना बरकरार है जिससे तापमान में अब तेजी से गिरावट होगी।

कश्मीर-हिमाचल-उत्तराखंड में हिमपात संभव

वहीं, 22 अक्टूबर से एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत के राज्यों को प्रभावित कर सकता है। भारत के पहाड़ी क्षेत्रों के साथ-साथ उत्तर भारत के मैदानी क्षेत्रों पर प्रभाव डालने वाला मौसम का पहला मजबूत सिस्टम बताया जा रहा है। यह मौसमी सिस्टम जम्मू-कश्मीर को प्रभावित करेगा, जिसके परिणामस्वरूप राज्य के ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी भी हो सकती है।

जम्मू-कश्मीर की बात करें तो यहां जम्मू, तम्बा, कठुआ, उधमपुर, कटरा, वैष्णो देवी सहित तलहटी में भारी बारिश का अनुमान है। 22 अक्टूबर के बाद से हिमाचल प्रदेश के साथ-साथ उत्तराखंड सहित पहाड़ियों के अन्य राज्य भी सिस्टम के रडार पर होंगे और उच्च क्षेत्रों में बारिश और हिमपात देखने को मिलेगा। सीधे शब्दों में कहे तो 22 और 23 अक्टूबर को कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश और बर्फबारी की आंशका है। मौसम विभाग के मुताबिक, आने वाले दिनों में हिमाचल प्रदेश में अच्छी बारिश देखने को मिल सकती है जबकि उत्तराखंड में बारिश उतनी तेज नहीं होगी। मौसम विभाग के अनुसार, 25 अक्टूबर से मौसम साफ हो जाएगा लेकिन उत्तर भारत की पहाड़ियों और मैदानी इलाकों में तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी, जिसके परिणामस्वरूप हल्की सर्द हवाएं चलेंगी और ठंड बढ़ेगी।

केरल में तक छिटपुट बारिश संभव

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने केरल, माहे, तमिलनाडु, कराईकल और पुडुचेरी में से तक हल्की से भारी बारिश होने की जानकारी दी है। इस दौरान इन जगहों पर गरज के साथ बिजली की आशंका भी जाहिर की गई है। वहीं, तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में से अक्टूबर के बीच बारिश संभव है।


पंजाब में अच्छी बारिश के आसार

पर्वतीय क्षेत्र और उत्तर भारत के मैदानी इलाकों समेत, 22 अक्टूबर से उत्तरी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा के कुछ हिस्सों सहित मैदानी इलाकों में बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना हैं। पंजाब के अमृतसर, फाजिल्का, तरनतरन, जालंधर, पठानकोट, लुधियाना, पटियाला, चंडीगढ़, पठानकोट और चंडीगढ़ में अच्छी बारिश देखने को मिल सकती है। अंबाला, हिसार, रोहतक, करनाल, पानीपत, सोनीपत, कैथल, रेवाड़ी में हल्की बारिश हो सकती है।



वहीं, देश की राजधानी दिल्ली में भी 24 अक्टूबर के आसपास हल्की बारिश की गतिविधि के साथ आसमान में बादल छा सकते हैं। पश्चिमी भागों में अलग-अलग जगहों पर हल्के से मध्यम और कहीं कहीं भारी बारिश भी देखी जा सकती है।

इन राज्यों में भी होगी बारिश

स्काईमेट वेदर के अनुसार, अगले 24 घंटो के दौरान सिक्किम, उप हिमायल पश्चिम बंगाल, असम, मेघालय, मणिपुर, नागालैंड, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल के हिस्सों और तमिलनाडु में बारिश होने की संभावना है। बिहार, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश, लक्षद्वीप, अंडामान और निकोबार द्वीप समूह में भी हल्की बारिश संभव है।

Next Story

विविध

Share it