राष्ट्रीय

Bihar Shocking Crime News : 60 साल के पड़ोसी ने 14 वर्षीय नाबालिग के साथ किया 3 बार दुष्कर्म, लड़की हुई गर्भवती तो देखिए पंचायत ने क्या किया न्याय?

Janjwar Desk
10 April 2022 10:15 AM GMT
Bihar Shocking Crime News : 60 साल के पड़ोसी ने 14 वर्षीय नाबालिग के साथ किया 3 बार दुष्कर्म, लड़की हुई गर्भवती तो देखिए पंचायत ने क्या किया न्याय
x

Bihar Shocking Crime News : 60 साल के पड़ोसी ने 14 वर्षीय नाबालिग के साथ किया 3 बार दुष्कर्म, लड़की हुई गर्भवती तो देखिए पंचायत ने क्या किया न्याय  

Bihar Shocking Crime News : 60 साल के एक पड़ोसी ने एक 14 वर्षीय किशोरी के साथ एक नहीं तीन-तीन बार बलात्कार किया। उसके बाद जब लड़की गर्भवती हो गयी तो परिवार वालों ने उसका अबॉर्शन करवा दिया...

Bihar Shocking Crime News : बिहार (Bihar) के बगहा (Bagha) में पूरे समाज और सिस्टम को शर्मशार करने वाला वारदात सामने आया है। 60 साल के एक पड़ोसी ने एक 14 वर्षीय किशोरी के साथ एक नहीं तीन-तीन बार बलात्कार किया। उसके बाद जब लड़की गर्भवती हो गयी तो परिवार वालों ने उसका अबॉर्शन करवा दिया। उसके बाद मामला पंचायत में पहुंचा। पंचायत ने इस मामले में आरोपित पर दो लाख रुपए का जुर्माना किया। उसके कुछ दिनों के बाद जब परिजनों को जुर्माने के पैसे का भुगतान नहीं किया गया तो तो वे मामले में एएफआई दर्ज कराने थाने पहुंचे, पर वहां भी केस दर्ज नहीं किया गया।

उसके बाद फिर पंचातय बैठी अब पंचायत की ओर से आरोपित को जुर्माना की राशि का भुगतान करने के लिए 7 अप्रैल तक का समय दिया गया। हालांकि इस बीच यह खबर एसपी किरण कुमार जाधव (SP Kiran Kumar Jadhav) के पास पहुंची तो उन्होंने मामले में संज्ञान लिया और दुष्कर्म के आरोपित (Rape Accussed) को गिरफ्तार करवा कर जेल भिजवा दिया गया।

इस मामले में सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि जब मामला महिला थाना पहुंचा तो महिला थानाध्यक्ष ने पंचायत के सुलहनामे के आधार पर पीड़िता का आवेदन वापस कर दिया। जब सोशल मीडिया पर मामले से जुड़ा वीडियो वायरल हुआ तब पुलिस प्रशासन जागा। गनीमत यह रही कि बगहा के एसपी किरण कुमार जाधव ने मामले में हस्तक्षेप करते हुए तत्काल प्रभाव से थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया। वहीं आरोपी को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया

इस घटना के बारे में बोलते हुए एसपी जाधव ने कहा है कि नाबालिग के साथ रेप की घटना सामने आई थी। बगहा पंचायत द्वारा मामले को सुलझाने की कोशिश की गई। इस संबंध में महिला थाने में एफआईआर दर्ज नहीं की गई। इस आरोप की जांच की गई। जांच में आरोप सही पाए गए। इसके बाद महिला थानाध्यक्ष के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू करने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

वहीं दुष्कर्म के आरोप में आरोपित पर एफआईआर दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया है। आरक्षी अधीक्षक ने महिला थाने प्रभारी को भी मामले में उनकी ओर से बरती गयी लापरवाही के कारण उन्हें निलंबित भी कर दिया गया है। मामले में पुलिस जांच जारी है अ​भी और भी ​अगर किसी के लिप्त होने की बात सामने आती है तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध