राष्ट्रीय

Delhi Metro Blue Line Delay : ...शर्म करो और मुझे दिल्ली मेट्रो में नौकरी दे दो... तुम्हारे कारण मेरी नौकरी जाएगी, जानिए क्यों ब्लू लाइन पर मची अफरातफरी

Janjwar Desk
21 April 2022 8:00 AM GMT
Delhi Metro Blue Line Delay : ...शर्म करो और मुझे दिल्ली मेट्रो में नौकरी दे दो... तुम्हारे कारण मेरी नौकरी जाएगी, ब्लू लाइन पर मची अफरातफरी
x

Delhi Metro Blue Line Delay : ...शर्म करो और मुझे दिल्ली मेट्रो में नौकरी दे दो... तुम्हारे कारण मेरी नौकरी जाएगी, ब्लू लाइन पर मची अफरातफरी

Delhi Metro Blue Line Delay : क्या द्वारका सेक्टर 21, क्या द्वारका, क्या उत्तमनगर, क्या राजीव चौक, वैशाली हर जगह लोग मेट्रो के इंतजार में खासे परेशान दिखे। सुबह-सुबह का वक्त था सो लोगों को समय पर दफ्तर पहुंचने की चिंता सता रही थी...

Delhi Metro Blue Line Delay : दिल्ली मेट्रो की ब्लू लाइन सेवा पर यात्री गुरुवार (21 April) की सुबह-सुबह खासे परेशान रहे। सुबह-सुबह जब लोग दफ्तर जाने के लिए घर निकले तो उन्हें मेट्रो स्टेशनों के बाहर दो-दो किलोमीटर लंबी कतार दिखी। जैसे-तैसे लोग लाइन लगकर में मेट्रो स्टेशन तक तो पहुंच गए पर वहां प्लेटफॉर्मों पर पहले से भीड़ लगी थी। ट्रेने काफी देरी से आ रही थीं, जिससे प्लेटफॉर्म पर अफरातफारी की स्थिति बन गयी थी। ब्लू लाइन में यह हाल तकरीबन हर स्टेशन का था।

क्या द्वारका सेक्टर 21, क्या द्वारका, क्या उत्तमनगर, क्या राजीव चौक, वैशाली हर जगह लोग मेट्रो के इंतजार में खासे परेशान दिखे। सुबह-सुबह का वक्त था सो लोगों को समय पर दफ्तर पहुंचने की चिंता सता रही थी। पर मेट्रो का हाल यह था कि उत्तम नगर से करोलबाग पहुंचने में ही एक घंटे ​बीत जा रहे थे। राजीव चौक और यमुना बैंक स्टेशनों पर भी बड़ी संख्या में लोग ट्रेनों का इंतजार कर रहे थे। पर आधे-आधे घंटे तक मेट्रो का कोई अता पता नहीं था।

इस बीच गुरुवार की सुबह तकरीबन 9 बजकर 12 मिनट पर दिल्ली मेट्रो की ओर से अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा गया कि किसी कारणवश दिल्ली मेट्रो की ब्लू लाइन सेवाओं में द्वारका सेक्टर 21 से नोयडा इलेक्ट्रॉनिक सिटी और वैशाली के बीच ट्रेनों का परिचालन देरी से हो रहा है। हालांकि ऐसा क्यों हो रहा है यह नहीं बताया गया। पर इस बीच मेट्रो स्टेशनों में हजारों लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गयी थी। लोगों को अपने दफ्तर जाने में देरी हो रही थी सो इस स्टेशनों पर अफरातफरी की स्थिति बनने लगी थी।

जब डीएमआरसी की ओर से ट्वीट किया गया तो इस पर यात्रियों का गुस्सा फूट पड़ा। लोगों ने सोशल मीडिया पर ही डीएमआरसी को खरी-खोटी सुनानी शुरू कर दी। अमित नाम के एक यूजर ने डीएमआरसी को जवाब दिया कि बॉस ने आज जल्दी दफ्तर आने को कहा था... पर तुम्हारी वजह से मेरी नौकरी जाएगी। शर्म करो और मुझे दिल्ली मेट्रो में नौकरी दे दो। प्रियंका पंत नाम की यूजर ने डीएमआरसी के ट्वीट के जवाब में लिखा है कि डीएमआरसी दिनोंदिन डीटीसी की ही तरह अविश्वसनीय सेवा बनती जा रही है। धीरे—धीरे लोग इससे भी सफर करना बंद कर कर देंगे। कम से कम उन्हें यह तो बताना चाहिए कि यह देरी क्यों हो रही है?

वहीं निशांत शर्मा नाम के एक ​व्यक्ति ने ब्लू लाइन पर हुई इस परेशानी पर डीएमआरसी को घेरते हुए कहा है कि इस तरह की तकनीकी समस्याओं का समाधान आप लोग दफ्तर आने-जाने के घंटों के पहले या बाद में क्यों नहीं करते हैं? पीकआवर पर ही ऐसा क्यों होता है? आपकी टीम समय से इस बारे में यात्रियों सूचना भी नहीं देती है। इससे लोगों को परेशानी झेलनी पड़ती है।

प्रिया राजपूत नाम की एक यूजर ने डीएमआरसी को जवाब देते हुए लिखा है कि, मेट्रो से दफ्तर जाना होता है, लेट पहुंचेंगे, एचआर हाफ डे लगा देगा, सुनना हमें पड़ेगा। पर आपके के लिए यह कहना बहुत आसान है कि तकनीकी कारणों से ट्रेनों के परिचालन में थोड़ी देर होगी।

इस दौरान गौतम मिश्रा नाम के एक ब्लू लाइन यात्री खासे नाराज दिखे। उन्होंने कहा कहा, ब्लू लाइन सेवा दिल्ली मेट्रो की सबसे खराब सेवा है। आए दिन इस तरह ही परेशानी होती रहती है। हफ्ते में एक बार तो इस तरह की परेशानी लोगों को झेलनी ही पड़ती है। इस खराब सेवा के कारण बहुत सारे लोगों को अपने काम पर पहुंचने में देरी होती है।

वहीं पुलकित गुप्ता नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा है, मेरे ट्वीट के 20 मिनट बाद देरी का आधिकारिक ट्वीट आया है। लगता है हम लोगों से ही पता लगता है मेट्रो वालों को। थोड़ा सक्रिय बनिए और लोगों को समय रहते सूचना दीजिए ताकि लोग मैनेज कर सकें।

मोनिका चोपड़ा नाम की एक यूजर डीएमआरसी को लिखा है कि प्लीज कंफर्म कीजिए दफ्तर में हाफ डे के लिए मेल करें या फुल डे के लिए। सौरव नाम के एक यूजर ने कहा है कि निर्माण विहार से मंडी हाउस आने में 43 मिनट लग गए। भगवान जाने आज की तारीख में सेक्टर 12 पहुंचेंगे कि नहीं। यमुना बैंक स्टेशन पर काफी देर से मेट्रो का इंतजार कर रहे एक युवक ने तो यहां तक कह दिया कि दफ्तर जाने में देर हो रही हैं, लगता है यमुना नदी तैरकर ही दफ्तर पहुंचना पड़ेगा।

बहरहाल इन सारी परेशानियों के बाद डीएमआरसी (DMRC) की ओर से 11 बजकर 11 मिनट पर राहत की ट्वीट की गयी और बताया कि सेवाएं सामान्य रूप से बहाल कर दी गयी हैं। तब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली है।

Next Story

विविध