राष्ट्रीय

Kashmir News : कश्मीर में हथियारों के साथ पकड़ा गया बिजनौर निवासी, पुलिस की महीनों से थी नजर

Janjwar Desk
29 Nov 2021 11:45 AM GMT
Kashmir News : कश्मीर में हथियारों के साथ पकड़ा गया बिजनौर निवासी, पुलिस की महीनों से थी नजर
x

file photo

Kashmir News : जम्मू-कश्मीर पुलिस ने उत्तर प्रदेश के बिजनौर निवासी को हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। बताया गया कि उस व्यक्ति से गुप्त स्थान पर पूछताछ की जा रही है।

Jammu & Kashmir News : जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) पुलिस ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बिजनौर (Bijnor) निवासी को हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। बताया गया कि उस व्यक्ति से गुप्त स्थान पर पूछताछ की जा रही है। बता दें कि इससे पहले भी यूपी के कई युवकों को कश्मीर में हथियारों के खरीद-फरोख्त मामले में पकड़ा गया हैं। पुलिस ने जिस व्यक्ति को हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है, उसका नाम शमीम सलमानी बताया गया है। शमीम सलमानी एक सैलून शॉप में काम करता है। पुलिस अधिकारी से मिली जानकारी के अनुसार बिजबिहाड़ा में सैलून शॉप से काम करने वाले शमीम सलमानी पर लंबे समय से नजर रखी जा रही थी। पुलिस ने सोमवार 29 नवंबर को शमीम सलमानी को हथियारों के साथ गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी की पहचान

मिली जानकारी के अनुसार शमीम सलमानी उत्तर प्रदेश के बिजनौर का फरीदपुर का निवासी है। बताया गया कि इससे पहले इसी साल सितंबर में बिजनौर में उत्तर प्रदेश एटीएस और आर्मी इंटेलिजेंस ने गांव डहरी में छापेमारी करते हुए पिता व पुत्र को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार किए गए युवक का भाई भी कश्मीर में ही एक सैलून में काम करता था। बता दें कि उस पर हथियारों को सप्लाई करने के आरोप लगा था।

पहले भी हुआ है गिफ्तार

आर्मी इंटेलिजेंस और एटीएस ने इसी साल सितंबर में नूरअलीपुर भगवंत उर्फ गांव डहरी में छापेमारी करते हुए यहां से शमीम सलमानी और उसके बेटे परवेज को हिरासत में लेकर कोतवाली देहात ले गई थी। यहां दोनों से घंटों तक पूछताछ की गई। शमीम का बड़ा बेटा कश्मीर में असलहा के साथ गिरफ्तार हुआ था। कश्मीर से मिली जानकारी के आधार पर यह कार्रवाई की गई थी।

जावेद कश्मीर में सैलून पर काम करता है और पिछले दस सालों से कश्मीर में ही रहता है। उसे छापेमारी से दो दिन पहले आर्मी ने पिस्टल के साथ पकड़ा था। जिसका आतंकी कनेक्शन होने के इनपुट से कार्रवाई को जोड़कर देखा गया था। बताया गया था कि मुजफ्फरनगर से असलहा लेकर कश्मीर में सप्लाई करने की बात भी सामने आई है। कश्मीर तक गाड़ी ले जाने वाले एक गाड़ी वाले को भी हिरासत में लिया था लेकिन पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया। शमीम का छोटा बेटा परवेज भी अगस्त में ही कश्मीर से गांव लौटा था। एसपी बिजनौर डा.धर्मवीर सिंह ने बताया था कि इस पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं। खुफिया एजेंसियों ने कार्रवाई की है।

तीन साल पहले ही बदला था ठिकाना

मिली जानकारी के अनुसार एटीएस की हिरासत में लिया गया शमीम सलमानी मूलरुप से कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के गांव पमडावली का रहने वाला था। तीन साल पहले वह अपने ससुराल के गांव डहरी में आकर बस गया। बताया गया कि शमीम सलमानी महेश्वरी जट में मुर्गे की दुकान करता है। उसका बड़ा बेटा जावेद पिछले दस सालों से कश्मीर में सैलून पर काम करता है। छोटा बेटा परवेज भी जावेद के पास ही था।

Next Story

विविध

Share it