मध्य प्रदेश

Mandsaur News in Hindi: ढाई लाख लगाने के बाद लहसुन के मिले मात्र 1 लाख तो निराश किसान ने पूरी फसल को किया आग के हवाले

Janjwar Desk
19 Dec 2021 2:55 PM GMT
Mandsaur News in Hindi: ढाई लाख लगाने के बाद लहसुन के मिले मात्र 1 लाख तो निराश किसान ने पूरी फसल को किया आग के हवाले
x

Mandsaur News in Hindi: ढाई लाख लगाने के बाद लहसुन के मिले मात्र 1 लाख तो निराश किसान ने पूरी फसल को किया आग के हवाले

Mandsaur News in Hindi: मध्य प्रदेश के मंदसौर कृषि उपज मंडी में एक किसान ने अपने 1 क्विंटल लहसुन में आग लगा दी (Madhya pradesh farmer fired 1 quintal garlic in Mandsaur).

Mandsaur News in Hindi: मध्य प्रदेश के मंदसौर कृषि उपज मंडी में एक किसान ने अपने 1 क्विंटल लहसुन में आग लगा दी (Madhya pradesh farmer fired 1 quintal garlic in Mandsaur). किसान का कहना था की उसने लहसुन में 2.5 लाख रुपये का निवेश किया है, लेकिन अभी तक सिर्फ 1 लाख रुपये मिला है.

नाराज किसान ने आज कृषि उपज मंडी में ही लहसुन को आग लगा दी. दरअसल किसान लहसुन की फसल बेचने के लिए कृषि मंडी में लेकर पहुंचा था. लेकिन वहां दाम कम मिलने की वजह से किसान ने गुस्सा फसल को आग लगाकर (Farmer Fire in Garlic) निकाला. जैसे ही मंडी में आग लगने की खबर मंडी कर्मचारियों को मिली वह तुंरत मौके पर पहुंचे और आग को बुझाया. मंडी कर्मचारियों ने नाराज किसान को मंडी कार्यालय ले जाकर उसे समझाने की कोशिश की.

बता दें कि किसान को केवल 1400 रुपये प्रति क्विंटल का भाव मिल रहा था। जानकारी के अनुसार शनिवार को उज्जैन जिले की महिदपुर तहसील के ग्राम देवली का निवासी किसान शंकर पुत्र नंदराम उपज के साथ लहसुन मंडी में आए थे। उसके लहसुन के ढेर की क़्वालिटी अनुसार 1400 रुपये क्विंटल के भाव लगे थे। पर इससे नाराज होकर उसने लहसुन में आग लगा दी। किसान का कहना था अभी कम से कम 10,000 रुपये क्विंटल का भाव मिलना था सही भाव नहीं मिला तो ढेर में आग लगा दी।

ढाई लाख रुपए की लागत आई

किसान शंकर के मुताबिक उन्होंने लहसून की फसल में करीब ढाई लाख रुपए खर्च किया है, लेकिन रेट के हिसाब से उन्हें महज एक लाख रुपए मिल रहे हैं। ऐसे में उन्हें डेढ़ लाख रुपए का नुकसान हो रहा है। मामले पर मंडी निरीक्षक जगदीश चंद्र भावर ने कहा कि उन्होंने आग लगाने वाले किसान को पुलिस के हवाले कर दिया है। बताया जा रहा है कि पुलिस अब किसान के खिलाफ ही कार्रवाई करेगी।

उज्जैन से मंदसौर मंडी तक लहसुन लाने में उन्हें करीब 5 हजार रुपए का खर्च आया था। लेकिन यहां उन्हें फसल की कीमत 1100 रुपए प्रति कविंटल ही मिली। इसी बात से वे टूट गए और गुस्से में डेढ़ कविंटल लहसून को आग के हवाले कर लिया। इस दौरान वहां मौजूद किसानों ने 'भारत माता की जय' और 'जय जवान, जय किसान' की नारेबाजी शुरू कर दी।

Next Story

विविध