मध्य प्रदेश

Mob lynching : एमपी के होशंगाबाद में भीड़ ने ली गोतस्करों की जान, 4 गिरफ्तार

Janjwar Desk
4 Aug 2022 6:28 AM GMT
Mob lynching : एमपी के होशंगाबाद में भीड़ ने ली गोतस्करों की जान, 4 गिरफ्तार
x

Mob lynching : एमपी के होशंगाबाद में भीड़ ने ली गोतस्करों की जान, 4 गिरफ्तार

Mob lynching : एमपी के होशंगाबाद जिले के सिवनी-मालवा में गोतस्करी के आरोप में उग्र भीड़ ने एक युवक को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया।

Mob lynching : मध्य प्रदेश ( Madhya pradesh ) के होशंगाबाद ( Hoshangabad ) जिले के सिवनी-मालवा में मॉब लिंचिग ( Mob Lynching ) का सनसनीखेज मामला समाने आया है। सिवनी-मालवा में गोतस्करी ( Cow Smuggling ) के आरोप में भीड़ ने एक युवक को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। दो लोग गंभीर रूप से घायल बताये जा रहे हैं।

इस मामले में ताजा अपडेट यह है कि सिवनी मालवा के बराखड गांव में गौवंश को अवैध रूप से ले जा रहे ट्रक पर सवार तीन युवकों की भीड़ ने बेरहमी से पिटाई कर दी जिसमें एक की इलाज के दौरान मौत हो गई। दो अन्य गंभीर रूप से घायल है। मॉब लिंचिंग ( Mob Lynching ) में शामिल लोगों में से पुलिस ( Hoshangabad Police) ने चार को गिरफ्तार कर लिया है।

तीनों गोतस्कर महाराष्ट्र के अमरावती के

होशंगाबाद पुलिस के मुताबिक मृतक की पहचान नजीर अहमद के रूप में हुई है। घायलों की पहचान शेख लाल और मुश्ताक के रूप में हुई है। तीनों महाराष्ट्र ( Maharashtra) अमरावती ( Amrawati ) रहने वाले थे। पुलिस के मुताबिक तीनों युवक एक ट्रक में करीब 30 गायों को लेकर महाराष्ट्र के अमरावती जा रहे थे।

होशंगाबाद ( Hoshangabad ) के पुलिस अधीक्षक गुरुकरण सिंह के मुताबिक दो अगस्त को बाराखड़ गांव में गौवंश को ले जा रहे ट्रक का एक्सीडेंट हो गया। हादसे के बाद मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण इक्ट्ठा हो गए। भीड़ ने जब ट्रक में गौवंश को भरा देखा और उसमें दो गायों की मौत हो गई तब भीड़ हिंसक हो गई। उसने ट्रक में सवार तीनों युवकों की बेरहमी से पिटाई कर दी। हादसे की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस घायलों को अस्पताल ले गई, जहां नजीर की मौत हो गई और अन्य का इलाज चल रहा है।

होशंगाबाद पुलिस ( Hoshangabad Police) ने इस मामले में अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास और दंगा करने का मामला दर्ज ( FIR ) किया है। वहीं नजीर, मुस्ताक और शेख पर गोहत्या निषेध अधिनियम और पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Next Story