मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मास्क नहीं पहनने वाले बयान पर लिया यूटर्न, अखबार ने विरोध में बिना चेहरा के छापा फोटो

Janjwar Desk
24 Sep 2020 6:22 AM GMT
मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मास्क नहीं पहनने वाले बयान पर लिया यूटर्न, अखबार ने विरोध में बिना चेहरा के छापा फोटो
x
नरोत्तम मिश्र ने अपनी गलती मान ली है और कहा कि उनके बयानों से कानून का उल्लंघन हुआ और यह प्रधानमंत्री मोदी की भावनाओं के विपरीत था। उन्होंने कहा कि उन्हें खुद इस बयान से पीड़ा हुई...

जनज्वार। मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र ने अपने मास्क नहीं पहनने वाले बयान से पलटी मार दी है। नरोत्तम मिश्रा ने 23 सितंबर को बयान दिया था कि वे किसी कार्यक्रम में मास्क नहीं पहनते हैं और इसमें क्या होता है। अब उन्होंने इस बयान को वापस ले लिया है और खेद जताया है। वहीं, सोशल मीडिया पर उनके बयान की तीखी आलोचना की गई।

आलोचना के बाद अब नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर कहा है कि मास्क पहनने के बारे में मेरे बयान से कानून की अवहेलना हुई है। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भावना के अनुरूप नहीं था। उन्होंने कहा कि वे अपनी गलती के लिए खेद प्रकट करते हैं। उन्होंने कहा कि अब वे मास्क पहनेंगे और समाज से भी अपील करेंगे कि सभी मास्क पहनें।



23 सितंबर को नरोत्तम मिश्रा ने यह पूछे जाने पर मास्क क्यों नहीं पहना है, उन्होंने कहा था कि वे किसी कार्यक्रम में मास्क नहीं पहनते हैं, इसमें क्या होता है।

नरोत्तम मिश्रा का बुधवार का बयान मध्यप्रदेश में तूल पकड़ गया और एक अखबार ने भी उसे मुद्दा बनाया। अखबार ने कार्यक्रम में मंत्री नरोत्तम मिश्र के शामिल होने की तसवीर तो छापी लेकिन उसमें चेहरा को गायब कर दिया और लिखा हम आपका चेहरा नहीं लगाते।




नरोत्तम मिश्रा राज्य सरकार की गरीब कल्याण आधारित संबल योजना से जुड़े कार्यक्रम में हिस्सा लेने बुधवार को इंदौर में थे। इस कार्यक्रम के दौरान ही जब मास्क नहीं पहनने के बारे में पत्रकारों ने उनसे पूछा तो उन्होंने कहा कि, मैं किसी कार्यक्रम में मास्क नहीं पहनता, इसमें क्या होता है? जब उनसे यह पूछा गया कि क्या किसी विशेष कारण से उन्होंने मास्क नहीं पहना है तो उन्होंने कहा कि वे पहनते ही नहीं। जब वे पत्रकारों से बात कर रहे थे तब भी मास्क नहीं लगाया था।

वहीं, नरोत्तम मिश्र के बगल में खड़े जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलवाट सहित अन्य ने मास्क पहन रखा था।

कांग्रेस ने नरोत्तम मिश्रा के बयानों की निंदा करते हुए कहा था कि क्या नियम सिर्फ जनता के लिए है।

उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में कोरोना के मामले खतरनाक रूप से आगे बढे हैं। राज्य में कोरोना के 1.13 लाख से अधिक मामले अबतक सामने आ चुके हैं और 2077 लोगों की बीमारी से मौत हो चुकी है।

Next Story

विविध