राष्ट्रीय

Mumbai News : कानूनी पचड़े में फंसे संजय राउत, भाजपा नेता की पत्नी ने ठोका 100 करोड़ का मुकदमा, लगाये ये आरोप

Janjwar Desk
23 May 2022 10:02 AM GMT
Mumbai News : कानूनी पचड़े में फंसे संजय राउत, भाजपा नेता की पत्नी ने ठोका 100 करोड़ का मुकदमा, लगाये ये आरोप
x

Mumbai News : कानूनी पचड़े में फंसे संजय राउत, भाजपा नेता की पत्नी ने ठोका 100 करोड़ का मुकदमा, लगाये ये आरोप

Mumbai News : संजय राउत ने मुंबई के मीरा भायंदर इलाके में सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण में मेधा सोमैया और उनके पति पर 100 करोड़ रुपए घोटाले का आरोप लगाया था। अब इसी मामले में मेधा किरीट सोमैया ने शिवसेना नेता के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है।

Mumbai News : शिवसेना नेता व सांसद संजय राउत ( Sanjay Raut ) ने हाल ही में भाजपा नेता किरीट सोमैया की पत्नी मेधा किरीट सोमैया ( Medha Kirit Somaiya ) पर 100 करोड़ रुपए टायलेट घोटाले का आरोप लगाया था। ये आरोप लगाना संजय राउत को आने वाले दिनों में भरी पड़ सकता है। ऐसा इसलिए कि शिवसेना नेता के आरोपों पर पलटवार करते हुए मेधा किरीट सोमैया ने संजय के खिलाफ 100 करोड़ रुपए के मानहानि का मुकदमा ( defamation case ) ठोक दिया है। भाजपा नेता की पत्नी ने ये मुकदमा बॉम्बे हाईकोर्ट ( Bombay High court ) में दर्ज कराया है।

संजय राउत ने टायलेट घोटाले का लगाया था आरोप

इससे पहले संजय राउत ( Sanjay Raut ) ने मेधा किरीट सोमैया ( Medha Kirit Somaiya ) पर 100 करोड़ रुपए के टॉयलेट घोटाले का आरोप लगाया था। राउत ने कहा था कि मीरा भायंदर नगर निगम के अधिकार क्षेत्र वाले इलाके में सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण में मेधा सोमैया और उनके पति ने 100 करोड़ रुपए का घोटाला किया है। इसका जवाब देते हुए मेधा सोमैया ने शिवसेना सांसद से कहा है कि संजय राउत द्वारा लगाए गए आरोप निराधार और अपमानजनक हैं। उन्होंने मेरी छवि खराब की है।

माफी न मांगने पर दर्ज कराया मुकदमा

इससे पहले मेधा किरीट सोमैया ( Medha Kirit Somaiya ) ने शिवसेना सांसद ( Sanjay Raut ) से माफी मांगने की बात कही थी। उन्होंने चेताया था कि ऐसा न करने पर संजय राउत के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करेंगे। अभी तक संजय राउत ने इस मुद्दे पर मेधा सोमैया से माफी नहीं मांगी है, जिसके बाद उन्होंने बाम्बे हाईकोर्ट में शिवसेना सांसद के खिलाफ 100 करोड़ की मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है।

किरीट सोमैया पर भी लगाया था 57 करोड़ गबन का आरोप

शिवसेना नेता संजय राउत ( Sanjay Raut ) ने मेधा के पति और पूर्व भाजपा सांसद किरीट सोमैया पर आईएनएस विक्रांत मामले में घोटाले का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि भाजपा नेता ने आईएनएस विक्रांत को कबाड़ में जाने से बचाने के लिए जनता से चंदा मांगा था। इस चंदे से उन्होंने 57 करोड़ रुपये इकट्ठा किए थे लेकिन जिस काम के लिए चंदा इकट्ठा किया गया वह पूरा नहीं हुआ, और किरीट सौमैया ( Kirit Somaiya ) ने यह पैसा राज्यपाल के पास जमा करवाने की बजाय पार्टी फंड में डलवा दिया। संजय राउत ने कहा था कि सोमैया ने देशद्रोही कार्य करने का आरोप लगाया था।

गुंडागर्दी करा रही है उद्धव सरकार

पूर्व भाजपा सांसद किरीट सोमैया ने इसके जवाब में कहा था कि उद्धव ठाकरे सरकार गुंडागर्दी करती है। घोटाला करती है और हस्ताक्षर के बिना ही एफआईआर दर्ज करती है। पिछले 12 महीनों से BJP लगातार उद्धव ठाकरे सरकार के घोटालों का पर्दाफाश कर रही है। शिवसेना और उसके नेता बौखलाए हुए हैं। बता दें कि नवनीत राणा मामले में खार पुलिस स्टेशन के पास शिव सैनिकों ने किरीट सोमैया की गाड़ी पर पथराव भी किया था।

(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रू-ब-रू कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आयें और जनज्वार को आर्थिक सहयोग दें।)

Next Story