आंदोलन

Agnipath Protest: "सुरक्षा है न पेंशन है, अग्निपथ बस टेंशन है" नारे के साथ कांग्रेस ने किया प्रदेशव्यापी सत्याग्रह

Janjwar Desk
27 Jun 2022 1:56 PM GMT
Agnipath Protest: सुरक्षा है न पेंशन है, अग्निपथ बस टेंशन है नारे के साथ कांग्रेस ने किया प्रदेशव्यापी सत्याग्रह
x

Agnipath Protest: अग्निपथ योजना के खिलाफ उत्तराखंड के में क्रांग्रेस का सत्याग्रह, जानिए क्या है मामला

Agnipath Protest : केन्द्र सरकार द्वारा युवाओं पर थोपी जा रही अग्निपथ योजना के विरोध में सोमवार को कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रदेशव्यापी आंदोलन के चलते राजधानी देहरादून सहित प्रदेश के पर्वतीय से लेकर मैदानी क्षेत्रों के सभी शहरों में सत्याग्रह का आयोजन किया।

Agnipath Protest: केन्द्र सरकार द्वारा युवाओं पर थोपी जा रही अग्निपथ योजना के विरोध में सोमवार को कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रदेशव्यापी आंदोलन के चलते राजधानी देहरादून सहित प्रदेश के पर्वतीय से लेकर मैदानी क्षेत्रों के सभी शहरों में सत्याग्रह का आयोजन किया। सत्याग्रह आंदोलन में पार्टी के सभी बड़े नेताओं ने अलग अलग जगह कार्यकर्ताओं के साथ सत्याग्रह में शिरकत की। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत मसूरी विधानसभा के गढ़ी कैंट इलाके में तो पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष करन मेहरा देहरादून में सत्याग्रह में शामिल हुए। पार्टी की ओर से सत्याग्रह आंदोलन को सफल बनाने के लिए विधायकों व विधायक प्रत्याशी रहे नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी गई थी। सत्याग्रह कार्यक्रम में सभी शहरों में पार्टी के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। देहरादून में प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं का समूह आंदोलन में शामिल हुआ।

मेहरा ने भाजपा सरकार की अग्निपथ योजना को देश के युवाओं से छलावा बताते हुए "सुरक्षा है न पेंशन है, अग्निपथ बस टेंशन है" नारे के साथ सत्याग्रह आंदोलन शुरू किया। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गढ़ी कैंट में कहा कि भाजपा ने आज अग्निपथ योजना के माध्यम से देश के युवाओं को सड़कों पर उतरने पर मजबूर कर दिया है। देश के युवाओं के क्रोध की आग में जल रहा है तो प्रधानमंत्री युवाओं का भविष्य बरबाद करने वाली इस योजना की तारीफ करने में अपनी पूरी टीम लगाकर युवाओं को धोखा देने पर उतारू हैं। सरकार अगर यह सोचती है कि इस तरह वह इस योजना को युवाओं पर थोप देगी तो उसे कृषि कानूनों का हश्र याद कर लेना चाहिए।

कैंट विधानसभा में प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना के नेतृत्व में सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने बल्लूपुर चौक पर शहीद प्रमोद सजवाण के स्मारक पर धरना प्रदर्शन कर बल्लूपुर चौक पर केंद्र सरकार का पुतला दहन किया। इस अवसर पर आयोजित सभा में धस्माना ने केंद्र की मोदी सरकार पर जबरदस्त प्रहार करते हुए कहा कि देश के एक एक संवैधानिक संस्थाओं को बर्बाद करने के बाद अब मोदी सरकार की कुदृष्टि अब सेना पर पड़ गयी है। अग्निपथ योजना को लाकर मोदी सरकार ने युवाओं, सेना व देश तीनों के साथ धोखा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आज वर्तमान में सेना के तीनों अंगों में डेढ़ लाख से ज्यादा पद खाली पड़े हैं। पिछले दो सालों से सेना में कोई भर्ती नहीं हुई। भर्ती के नाम पर जो प्रक्रिया चल भी रही थी वह अग्निपथ योजना की घोषणा होते ही सब समाप्त कर दी गयी। धस्माना ने कहा कि अभी तक जो सेना में जवान भर्ती होता था वो 15 से 18 वर्ष तक अपना योगदान देता था और अवकाश प्राप्त होने तक उसे पदोनत्ति व अवकाश प्राप्त होने के बाद पेंशन व अन्य सुविधाएं मिलती थी, किंतु अग्निपथ की घोषणा के साथ ही सेवा का कार्यकाल चार वर्ष, कोई पदनाम पदोनत्ति कोई पेंशन व अवकाश प्राप्ति के बाद कोई सुविधा नहीं मिलेगी।

हरिद्वार की ज्वालापुर विधानसभा में विधायक रवि बहादुर के नेतृत्व में पंत पार्क देवपुरा में सत्याग्रह किया गया। सत्याग्रह में बड़ी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ताओ ने भाग लेकर अग्निपथ योजना को युवायों और देश हित के खिलाफ बताते हुए इसे तत्काल वापस लिए जाने की मांग की। विधायक रवि ने कहा यह सत्याग्रह देश के युवाओं को अग्निपथ योजना के माध्यम से युवाओं को ठगने की योजना के खिलाफ हैं। देश गलत दिशा में जा रहा है और इस कार्य में कुछ चुनिंदा लोग लगे हुए हैं ऐसे ही लोगों के खिलाफ सत्याग्रह किया गया है। बच्चे लगातार कई वर्षों से फौज में जाने के लिए तैयारी कर रहे हैं यह योजना उनके सपनों को चकनाचूर करने वाली है। जो देश की सेवा करना चाहते हैं ऐसे युवाओं को केवल 4 साल के लिए सेना में लिया जा रहा है, यह युवाओं और देश के साथ मजाक किया जा रहा है। यहां पर सत्याग्रह में विधायक रवि बहादुर के साथ पूर्व मंत्री संजय पालीवाल, शहर अध्यक्ष संजय अग्रवाल समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसियों ने भाग लिया।

रूद्रपुर में अग्निपथ योजना के विरोध में जिला मुख्यालय पर गांधी पार्क में महिला कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष मीना शर्मा के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने सत्याग्रह कर केन्द्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रकट किया। भाजपा हटाओ देश बचाओ के नारे के साथ कांग्रेसियों ने अग्निपथ योजना को तत्काल वापस लेने की मांग की। कांग्रेस नेत्री मीना शर्मा ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार पहले किसानों के कानूनी हितों से खिलवाड़ कर रही थी। उसमे ऐसे होने के बाद अब यह युवाओं के भविष्य से अग्निपथ योजना के माध्यम से खिलवाड़ कर रही है।

रामनगर में पूर्व विधायक रणजीत सिंह रावत ने कहा कि अग्निपथ योजना बनाने के बाद इसमें होने वाले बदलाव बता रहे हैं कि यह योजना बिना कुछ सोचे युवाओं के सपनों को जलाकर खाक करने के लिए लागू की गई है। इसके अलावा हल्द्वानी, पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, चमोली, टिहरी, रुद्रप्रयाग, चम्पावत जिलों के सभी विधानसभा क्षेत्रों में भी कांग्रेस का यह सत्याग्रह आंदोलन जारी रहा।

Next Story

विविध