पर्यावरण

Dehradun News: चमोली में बादल फटा, हेमकुंड यात्रा रोकी गई, निर्माणाधीन पुल टूटने में इलाज के दौरान दो की मौत

Janjwar Desk
20 July 2022 12:09 PM GMT
Dehradun News: चमोली में बादल फटा, हेमकुंड यात्रा रोकी गई, निर्माणाधीन पुल टूटने में इलाज के दौरान दो की मौत
x

Dehradun News: चमोली में बादल फटा, हेमकुंड यात्रा रोकी गई, निर्माणाधीन पुल टूटने में इलाज के दौरान दो की मौत

Dehradun News: राज्य में मौसम विभाग के भारी बारिश को लेकर जारी रेड अलर्ट के अनुसार बुधवार सुबह से ही प्रदेश भर में भारी बारिश का सिलसिला जारी है। इसी बारिश के बीच चमोली जिले के घाघरिया में बादल फटने की खबर है।

Dehradun News: राज्य में मौसम विभाग के भारी बारिश को लेकर जारी रेड अलर्ट के अनुसार बुधवार सुबह से ही प्रदेश भर में भारी बारिश का सिलसिला जारी है। इसी बारिश के बीच चमोली जिले के घाघरिया में बादल फटने की खबर है। घाघरिया नामक स्थान हेमकुंड यात्रा का एक मुख्य पड़ाव है। जिस वजह से चमोली प्रशासन ने एहतियातन हेमकुंड साहिब की यात्रा को कुछ देर के लिए रोक दिया है। चमोली जिले में स्थित घाघरिया हेमकुंड साहिब यात्रा और फूलों की घाटी का मुख्य पड़ाव है। इन स्थानों को जाने वाले यात्रियों को यहां से ही होकर गुजरना पड़ता है। बादल फटने की सूचना के बाद एसडीआरएफ टीम मौके पर रवाना हो गई है। चमोली जिले की इस बदल फटने की घटना में फिलहाल किसी जान माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है।

डीआईजी एसडीआरएफ रिधिम अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि चमोली जिले के घाघरिया से मिल रही इस ताजा सूचना के अनुसार सुरक्षा कारणों से हेमकुंड जाने वाले तकरीबन 30 से 35 यात्रियों को रोका गया है। हालांकि, हेमकुंड साहिब से वापस आने वाले यात्री ढूंढा के नए पुल से वापस आ सकते हैं। डीआईजी एसडीआरएफ रिधिम अग्रवाल ने बताया कि हेवी रेनफॉल को देखते हुए डाउनस्ट्रीम में लगातार नदियों का जलस्तर को भी वॉच किया जा रहा है और हालात पर लगातार नजर बनाए हुए हैं।

घाघरिया मुख्य बाजार के ठीक सामने एक पहाड़ी टूट कर नीचे लक्ष्मण गंगा की तरफ खिसक रही है। इसकी एक तस्वीर मौके पर मौजूद लोगों ने जारी की है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पहले तो धीरे-धीरे पहाड़ से पत्थर गिरने की आवाज सुनाई दी। फिर उसके बाद अचानक ही पहाड़ का आधा हिस्सा टूटकर नीचे की तरफ आने लगा। घाघरिया में मौजूद लोगों ने बाहर की इस तस्वीर को अपने कैमरे में कैद कर लिया। हालांकि पहाड़ टूटने से किसी को नुकसान नहीं पहुंचा है।

पुल टूटने के हादसे में दो की हुई मौत

दूसरी ओर ऑल वेदर रोड के तहत हो रहे निर्माण कार्य के दौरान रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय से छः किमी. दूरी पर ऋषिकेश बद्रीनाथ राजमार्ग 56 में नरकोटा के पास बन रहे बाईपास निर्माणाधीन पुल का पुस्ता टूटने की घटना में अभी तक दो लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि चार लोग गंभीर रूप से घायल हैं। घायल व मृतक यूपी व बिहार के हैं। यह हादसा बुधवार की सुबह नौ बजे उस समय हुआ जब कम्पनी के कर्मचारी निर्माणाधीन पुल की सैटरिंग कस रहे थे। सैटरिंग पलटने से उसके नीचे करीब दस मजदूर दबने की खबर थी। लेकिन बाद में आठ लोगों के दबे होने की पुष्टि हुई थी। जिन छः लोगों को बाहर निकालकर जिला अस्पताल पहुँचाया गया था। जिसमें रामू निवासी गूजरपुर यूपी, रघुवीर निवासी फ़ैजानपुर यूपी, अनिल, निवासी फ़ैजानपुर यूपी, भूरा, निवासी बिहार का इलाज चल रहा है। जबकि कन्हैया, उम्र (20) वर्ष, निवासी फरुखाबाद, यूपी, पंकज, उम्र (22) वर्ष, निवासी गूजरपुर, यूपी के शव सरियों के बीच से एसडीआरएफ टीम द्वारा कटर की सहायता से सरियों को काटकर निकाले गए हैं। दोनों शवों को जिला पुलिस के सुपर्द कर दिया गया है।

Next Story