Top
उत्तर प्रदेश

मेरठ : दलित युवक को गोली मारने के बाद आरोपियों ने गालियां बकते हुए वीडियो किया वायरल

Raghib Asim
3 Jun 2020 10:40 AM GMT
मेरठ : दलित युवक को गोली मारने के बाद आरोपियों ने गालियां बकते हुए वीडियो किया वायरल
x

लॉकडाउन के दौरान दबंगों द्वारा दबंगई का एक बड़ा मामला सामने आया है। किला परीक्षितगढ़ क्षेत्र में एक दलित युवक को गोली मारकर फरार चल रहे गुर्जर समाज के तीन आरोपियों ने सोशल मीडिया पर अपने वीडियो वायरल किए हैं। इस वीडियो में आरोपी पीड़ित पक्ष को गालियां बकते नजर आ रहे हैं...

जनज्वार। लॉकडाउन के दौरान दबंगों द्वारा दबंगई का एक बड़ा मामला सामने आया है। किला परीक्षितगढ़ क्षेत्र में एक दलित युवक को गोली मारकर फरार चल रहे गुर्जर समाज के तीन आरोपियों ने सोशल मीडिया पर अपने वीडियो वायरल किए हैं। इस वीडियो में आरोपी पीड़ित पक्ष को गालियां बकते नजर आ रहे हैं। उधर, दहशत में आए पीड़ित पक्ष ने थाना पुलिस से लेकर गांव के कुछ दबंगों पर खुद पर समझौते का दबाव बनाने का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें : गुल्लक तोड़ बेटियों ने ख़रीदा कफन, मां को दिया कंधा और मुखाग्नि, लॉकडाउन में मज़दूर पिता गुजरात में है फंसा

रअसल, घटना परीक्षितगढ़ थाना क्षेत्र के सिखेड़ा गांव की है। यहां रहने वाले दलित युवक प्रवीण के अनुसार कुछ दिन पहले ट्यूबवेल में नहाने को लेकर उसका गांव के कुछ गुर्जर युवकों से विवाद हो गया था। आरोप है कि इसके बाद बीती 21 मई को गांव के रहने वाले गुर्जर समाज के आकाश, दीपांशु, रितिक और अल्लू ने उसे गोली मार दी। घायल प्रवीण का आरोप है कि इस मामले में रिपोर्ट दर्ज होने के बावजूद पुलिस ने किसी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया। उधर, फरार चल रहे आरोपियों ने एक दिन पहले सोशल मीडिया पर अपने कुछ वीडियो और फोटो वायरल किए हैं। जिनमें आरोपी हाथों में तमंचे लेकर दलित समाज के लोगों को गालियां बकते नजर आ रहे हैं। इतना ही नहीं दबंग युवक अपने इस कृत्य के लिए गुर्जर समाज से समर्थन भी मांग रहे हैं।

यह भी पढ़ें : आत्मनिर्भर भारत – भूख-प्यास से तड़प कर मां मौत, स्टेशन पर ही पड़ी रही लाश, जगाने की कोशिश करता रहा मासूम

पीड़ित के पिता धर्मेंद्र का आरोप है कि पुलिस से लेकर क्षेत्रीय नेता और गांव के कुछ दबंग लोग उन पर आरोपियों से समझौते का दबाव बना रहे हैं। इतना ही नहीं समझौता न करने की सूरत में उनके पूरे परिवार के खात्मे की धमकी भी दी जा रही है। दहशत में आए दलित परिवार ने अधिकारियों से आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है। सीओ सदर देहात अखिलेश भदौरिया ने बताया कि इस मामले में चार आरोपियों के खिलाफ एससीएसटी एक्ट और जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज की गई थी। आरोपियों ने पीड़ितों को धमकी देने का वीडियो वायरल किया है, जिसके बाद पुलिस आरोपियों की सघन तलाश में जुटी है।

Next Story

विविध

Share it