Top
सिक्योरिटी

27 घंटे से लापता वायुसेना के विमान का नहीं मिला कोई सुराग, खोजबीन में अब नौसेना शामिल

Prema Negi
4 Jun 2019 1:54 PM GMT
27 घंटे से लापता वायुसेना के विमान का नहीं मिला कोई सुराग, खोजबीन में अब नौसेना शामिल
x

नौसेना के ‘पी 8 आई’ टोही विमान ने तमिलनाडु के आराकोणम से अरुणाचल प्रदेश के लिए उड़ान भर वायुसेना के लापता विमान की तलाशी के लिए खोज बीनकर कर दी है शुरू...

जनज्वार। 27 घंटे से लापता हुए भारतीय वायुसेना के विमान का अभी तक कुछ भी पता नहीं चल पाया है। अब वायुसेना, आईटीबीपी और सेना के बाद नौसेना ने भी लापता विमान की खोजबीन शुरू कर है।

गौरतलब है कि कल 3 जून को अरुणाचल प्रदेश से परिवहन विमान एएन-32 अचानक गायब हो गया था। लापता होने के बाद से ही वायुसेना, आईटीबीपी और सेना ने इसकी तलाश शुरू कर दी थी, मगर कोई सुराग न मिल पाने पर अब नौसेना भी इस तलाशी अभियान में जुट गई है। नौसेना के 'पी 8 आई' टोही विमान ने आज 4 जून को तमिलनाडु के आराकोणम से अरुणाचल प्रदेश के लिए उड़ान भर वायुसेना के लापता विमान की तलाशी शुरू कर दी है।



मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक नौसेना के इस खोजी विमान में बहुत पावरफुल सिंथेटिक एपरचर राडार लगा होता है, जिससे बेहद घने जंगल में लापता विमान को खोजने में मदद मिलेगी। कहा जा रहा है कि पी 8 आई तलाशी विमान अपने इलेक्ट्रो ऑप्टिकल और इंफ्रा रेड सेंसर्स की मदद से लापता AN-32 का पता लगा पाएगा।

सूत्रों के हवाले से मीडिया में खबर आई कि अरुणाचल प्रदेश के पश्चिमी सियांग जिले के करीब टाटो गांव के आसपास इस विमान को अंतिम बार देखा गया था। गौरतलब है कि इस इलाके में ऊंची पहाड़ियां और बेहद घना जंगल है इसलिए लापता विमान की तलाश का काम बेहद मुश्किल माना जा रहा है। साथ ही यहां का मौसम भी हमेशा खराब रहता है, मगर सेना ने बावजूद इसके लापता विमान की तलाश का काम जारी रखा है।

लापता विमान की लास्ट लोकेशन 3 जुलाई को दिन के 12.25 बजे असम के जोरहाट से मेंचुका एडवांस लैंडिंग ग्राउंड पर ट्रेस की गई थी, मगर एक बजे के बाद इससे संपर्क टूट गया। इस विमान में पायलट समेत कुल 13 लोग सवार थे। गौरतलब है कि इस विमान के लापता होने के बाद से इस विमान की तलाश आसमान से लेकर जमीन तक पूरी रात की गई और इसके लिए स्पेशल फोर्स भी लगाई गई थी, मगर कुछ भी सुराग नहीं मिल पाया।

Next Story

विविध

Share it