Top
पर्यावरण

आज महाराष्ट्र से टकराएगा चक्रवात निसर्ग, 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी हवाएं

Raghib Asim
3 Jun 2020 4:20 AM GMT
आज महाराष्ट्र से टकराएगा चक्रवात निसर्ग, 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी हवाएं

भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, निसर्ग एक गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। चक्रवात के तटीय इलाकों से टकराते समय भारी बारिश के साथ-साथ हवाओं की गति 110 किलोमीटर प्रति घंटे रहने का अनुमान है....

जनज्वार। चक्रवात निसर्ग आज दिन में मुंबई से 100 किलोमीटर दूर अलीबाग में तट से टकराएगा। चक्रवात को देखते हुए महाराष्ट्र, गुजरात, दमन और दीव और दादर और नागर हवेली को हाई अलर्ट पर रखा गया है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई के लोगों से अगले दो दिन घरों में रहने को कहा है। निसर्ग पिछली एक सदी में मुंबई से टकराने वाला सबसे भीषण चक्रवात होगा। शहर में कुछ दिन के लिए बिजली गुल हो सकती है।

110 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच सकती है हवाओं की गति

भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, निसर्ग एक गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। चक्रवात के तटीय इलाकों से टकराते समय भारी बारिश के साथ-साथ हवाओं की गति 110 किलोमीटर प्रति घंटे रहने का अनुमान है। इस दौरान लहरों की ऊंचाई दो मीटर (छह फुट) तक पहुंच सकती है। ये स्थिति 12 घंटे तक रहेगी और 4 जून तक यह चक्रवात कमजोर पड़ जाएगा। इसके कमजोर पड़ने के बाद हवाओं की रफ्तार 60-70 किलोमीटर प्रति घंटे रह जाएगी।

हजारों लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया

क्रवात से बचाव के तौर पर महाराष्ट्र में लगभग 10,000 लोगों को निकाल कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचा दिया गया है। वहीं गुजरात में भी तटीय इलाकों से 10,000 लोगों को सुरक्षित इलाकों में पहुंचा दिया गया है, वहीं अन्य 10,000 को निकाला जा रहा है। मुंबई के उपनगरों और पड़ोसी जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। शहर में तटीय इलाकों के आसपास लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

NDRF की 30 टीमों को किया गया तैनात

जिन इलाकों में चक्रवात टकराएगा, वहां राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की 30 से अधिक टीमें तैनात कर दी गई हैं। NDRF की एक टीम में 45 जवान होते हैं। NDRF प्रमुख एसएन प्रधान ने बताया कि गुजरात ने पांच अतिरिक्त टीमों की मांग की है। राज्य में 15 टीमें तैनात रहेंगी और दो टीमें स्टैंडबाई पर रहेंगी। वहीं महाराष्ट्र में 10 NDRF टीमों को तैनात किया जाएगा और छह टीमें स्टैंडबाई पर रहेंगी।

केंद्र ने दिया हर संभव मदद का भरोसा

केंद्र सरकार ने चक्रवात निसर्ग से प्रभावित होने वाले सभी राज्यों को हरसंभव मदद का भरोसा दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और दमन-दीव और दादर-नागर हवेली के प्रशासन से बातचीत की और उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिया। इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने भी विजय रुपाणी और उद्धव ठाकरे के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की और हरसंभव मदद का भरोसा दिया।

Next Story

विविध

Share it