Up Election 2022

UP Election 2022 5th Phase Voting : पांचवें चरण का 11 बजे तक 21.39 प्रतिशत मतदान, चित्रकूट में सर्वाधिक वोटिंग, 61 सीटों पर 693 प्रत्याशी मैदान में

Janjwar Desk
27 Feb 2022 7:24 AM GMT
UP Election 2022 5th Phase Voting : पांचवें चरण का 11 बजे तक 21.39 प्रतिशत मतदान, चित्रकूट में सर्वाधिक वोटिंग, 61 सीटों पर 693 प्रत्याशी मैदान में
x
UP Election 2022 5th Phase Voting : उत्तर प्रदेश की विधानसभा के लिए लिए पांचवें चरण का मतदान जारी है...

UP Election 2022 5th Phase Voting : चार चरणों के मतदान के बाद अब उत्तर प्रदेश विधानसभा के पांचवें चरण के दौर की वोटिंग जारी है। सुबह ग्यारह बजे 21.39 प्रतिशत मतदान हुआ। चित्रकूट में सर्वाधिक वोटिंग हुई। पांचवें चरण में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) के पांचवें चरण में राज्य के 12 जिलों की 61 सीटों के लिए आज मतदान जारी है।

इस चरण में राज्य के 12 जिलों की 61 सीटों पर मतदान हो रहा है। इन जिलों में श्रावस्ती, बहराइच, गोंडा, बाराबंकी, सुलतानपुर, अयोध्या, प्रतापगढ़, प्रयागराज, कौशांबी, रायबरेली, अमेठी और चित्रकूट शामिल हैं।

पांचवें चरण में कुल 61 सीटों पर 693 उम्मीदवार मैदान में हैं जिनमें 90 महिला उम्मीदवार हैं। मतदान में 2.25 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे जिनमें 1.20 करोड़ पुरुष और 1.05 करोड़ महिलाएं हैं। इसके अलावा 1727 ट्रांसजेंडर मतदाता हैं।

पांचवें चरण के चुनाव में कुल 25,995 मतदेय स्थल और 14030 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं और कोविड-19 के मद्देनजर भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतदेय स्थलों पर मतदाताओं की अधिकतम संख्या 1250 तक रखने के निर्देश दिये गये हैं। सभी मतदेय स्थलों पर रैंप (दिव्यांगों की सुविधा के लिए), शौचालय तथा पीने के पानी की सुविधा सुनिश्चित की गई है।

गोरखपुर में छठे चरण 3 मार्च को मतदान होगा और योगी आदित्यनाथ गोरखपुर शहर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। मयावती ने कहा,"जो हमारा हाथी हैं वह योगी जी की नींद उड़ाए हुए है,उनको हर अपनी चुनावी जनसभा में कहीं न कहीं किसी न किसी रूप में हाथी का जिक्र करना पड़ता है।" योगी आदित्यनाथ पर प्रहार करते हुए मायावती ने कहा, "योगी जी को उनके 'मठ' में वापस उनके परिवार के पास भेज दो। उन्होंने बड़े-बड़े वादे किए थे, लेकिन किया कुछ नहीं।''

इस बीच बसपा सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को दावा किया कि 'हाथी' उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नींद उड़ाए हुए है, क्योंकि वह अपने हर भाषण में हाथी का जिक्र करते हैं। उन्होंने लोगों से आदित्यनाथ को उनके 'मठ' में वापस भेजने का आह्वान किया तथा भाजपा पर कानून-व्यवस्था के नाम पर केवल मुस्लिम माफिया को देखने और गैर-मुस्लिम माफिया की अनदेखी करने का आरोप लगाया।


Next Story

विविध