दुनिया

How To Murder Your husband : 'हाउ टू मर्डर योर हसबैंड' किताब की लेखिका को उम्रकैद की सजा, इस वजह से की थी अपने पति की हत्या

Janjwar Desk
15 Jun 2022 8:40 AM GMT
How To Murder Your husband : हाउ टू मर्डर योर हसबैंड किताब की लेखिका को उम्रकैद की सजा, इस वजह से की थी अपने पति की हत्या
x

How To Murder Your husband : 'हाउ टू मर्डर योर हसबैंड' किताब की लेखिका को उम्रकैद की सजा, इस वजह से की थी अपने पति की हत्या

How To Murder Your husband : हाउ टु मर्डर योर हसबैंड किताब की लेखिका नैंसी क्रैम्पटन ब्रॉफी ने अपने ही पति की हत्या की थी, दोषी पाई जाने के बाद कोर्ट ने लेखिका को उम्रकैद की सजा सुनाई है, वह 25 साल के बाद ही पैरोल के लिए आवेदन दे सकेंगी...

How To Murder Your husband : अमेरिका (America) की एक लेखिका को उसके पति की हत्या के आरोप में दोषी पाए जाने के बाद उम्रकैद की सजा मिली है। दिलचस्प बात ये है कि लेखिका नैंसी क्रैम्पटन ब्रॉफी (Nancy Crompton Brophy) नाम की इस महिला ने एक किताब लिखी है जिसका टाईटल है- 'हाउ टु मर्डर योर हसबैंड' (How To Murder Your husband) यानी अपने पति को कैसे मारें। 71 साल की लेखिका नैंसी क्रैम्पटन ब्रॉफी को नॉर्थवेस्टर्न स्टेट ओरेगॉन के जज ने सजा सुनाते हुए कहा कि वह 25 साल बाद पैरोल के लिए आवेदन दे सकेगी। बता दें कि लेखिका नैंसी क्रैम्पटन ब्रॉफी ने अपने पति डेनियल की हत्या जून 2018 में कर दी थी। पुलिस ने वारदात के 3 महीने बाद उसे गिरफ्तार किया था।

बीमा के हजारों डॉलर्स के लालच में की पति की हत्या

नैंसी क्रैम्पटन ब्रॉफी का केस का ट्रायल महीने भर चला। इस दौरान पता चला कि लेखिका ने अपने पति को मरने के लिए ईबे से गैन बैरल खरीदा था। इसके पीछे वजह थी कि वह अपने पति के लाइफ इंश्योरेंस के हजारों डॉलर्स पाने की उम्मीद कर रही थी। नैंसी क्रैम्पटन ब्रॉफी ने उस हथियार के बारे में दावा किया था कि उसने वह अपने नए नॉवेल की रिसर्च के लिए लिया था, वो कभी नहीं मिला।

2018 में की थी पति डेनियल की हत्या

लेखिका नैंसी क्रैम्पटन ब्रॉफी का पति डेनियल ब्रॉफी एक शेफ था। उसकी हत्या जून 2018 में तब हुई जब वह अपने कुलिनरी इंस्टीट्यूट में क्लास देने की तैयारी कर रहा था। अपने पति की हत्या की दोषी पाई जाने के बाद पोर्टलैंड के मुल्नोमाह काउंटी कोर्ट ने 13 जून को लेखिका नैंसी क्रैम्पटन ब्रॉफी को उम्रकैद की सजा सुनाई। बता दें कि नैंसी ने द रॉन्ग लवर और द रॉन्ग हसबैंड जैसी किताबें लिखी हैं, लेकिन 2011 में 'हाउ टू मर्डर योर हसबैंड' (How To Murder Your husband) किताब लिखने के बाद वे ज्यादा मशहूर हुईं।

लेखिका के खिलाफ थे सारे सबूत

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सारे सबूत लेखिका नैंसी के खिलाफ थे। कोर्ट में नैंसी ने खुद को बेकसूर साबित करने के लिए कई दलीलें दी थीं। लेखिका ने कहा था कि उसे ऐसा कुछ भी याद नहीं। हालांकि CCTV फुटेज में उसे डेनियल के इंस्टीट्यूट के आस-पास देखा गया था। नैंसी के वकील ने पिछले हफ्ते कहा था कि वे फैसले के खिलाफ अपील करेंगे। साथ उन्होंने यह भी कहा था कि कपल ने जीवन के लिए सालों तक आर्थिक तंगी उठाई थी, इसलिए उसके पास डेनियल को मारने का कोई कारण नहीं था।


(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रू—ब—रू कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आयें और जनज्वार को आर्थिक सहयोग दें।)

Next Story

विविध