बिहार चुनाव 2020

लालू ने बिहार चुनाव से पहले लगाई जमानत की अर्जी, उन्हें पता है नहीं रहने पर सब हो जाएगा गोबर

Janjwar Desk
4 July 2020 5:00 PM GMT
लालू ने बिहार चुनाव से पहले लगाई जमानत की अर्जी, उन्हें पता है नहीं रहने पर सब हो जाएगा गोबर
x

Representative Image

लालू प्रसाद ने झारखंड हाईकोर्ट में जमानत के लिए आवेदन किया है, इससे पहले, उन्हें चारा घोटाला के तीन मामलों में जमानत दी गई थी....

रांची। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चाईबासा कोषागार धोखाधड़ी मामले में जमानत के लिए अर्जी लगाई है। राजद प्रमुख ने शनिवार को राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) के पेइंग वार्ड में नेताओं से मुलाकात की, जहां उनका इलाज चल रहा है।

लालू प्रसाद ने झारखंड हाईकोर्ट में जमानत के लिए आवेदन किया है। इससे पहले, उन्हें चारा घोटाला के तीन मामलों में जमानत दी गई थी। लालू के वकील के अनुसार, उन्होंने इस आधार पर जमानत के लिए आवेदन किया है कि उन्होंने सजा की आधी अवधि जेल में बिताई है।

चारा घोटाले से जुड़े तीन अलग-अलग मामलों में दोषी ठहराए जाने के बाद लालू 23 दिसंबर, 2017 से हिरासत में हैं। उन्हें मई 2018 में इलाज के लिए अंतरिम जमानत दी गई थी, जिसे बाद में झारखंड हाईकोर्ट ने रद्द कर दिया था। अगस्त 2018 से उनका रिम्स में इलाज चल रहा है।

राजद के एक नेता ने आईएएनएस से कहा, 'राजद के अस्तित्व के लिए बिहार विधानसभा चुनाव महत्वपूर्ण है। चुनाव के लिए लालू अपने दोनों बेटों तेजप्रताप और तेजस्वी यादव पर भरोसा नहीं कर सकते। राजद लोकसभा चुनाव में बिहार में एक भी सीट नहीं जीत सकी थी, जो पार्टी के लिए अपमानजनक था।'

2015 में बिहार के मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव ने विधानसभा चुनाव के लिए हाथ मिलाया था और 240 में से 150 से अधिक सीटें जीती थीं। हालांकि, नीतीश कुमार ने डेढ़ साल के बाद 2017 में राजद से किनारा कर लिया।

Next Story

विविध

Share it