अंधविश्वास

तांत्रिक ने 50 Fevikwik से न्यूड हालत युवक-युवती को पहले चिपकाया फिर मार डाला, पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा

Janjwar Desk
25 Nov 2022 8:39 AM GMT
तांत्रिक ने 50 Fevikwik से न्यूड हालत युवक-युवती को पहले चिपकाया फिर मार डाला, पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा
x

तांत्रिक ने 50 Fevikwik से न्यूड हालत युवक-युवती को पहले चिपकाया फिर मार डाला, पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा

Udaipur Crime News: जाप कर रहा राहुल, जाप पूरा होने पर तांत्रिक से उसकी बेटी मांंगना चाहता था। इस बात से टेंशनाइज्ड तांत्रिक भालेश ने राहुल को जाप खत्म होने से पहले ही मारने की ठानी। क्योंकि जाप पूरा होने के बाद बेटी राहुल को देनी पड़ती। और बेटी ना देता तो भक्तों के सामने सम्मान की इज्जत तार-तार होती दिखी...

Udaipur Crime News: राजस्थान के उदयपुर से ऐसा मामला सामने आया है जो आपको हैरान कर देगा। यहां की तहसील गोगुन्दा में घटी इस घटना का पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि, एक तांत्रिक ने युवक-युवती पर फेवीक्विक (Fevikwik) डाल दिया था। शारीरिक संबंध बना रहे युवक-युवती पर तांत्रिक ने एक दो नहीं बल्कि पूरे 50 फेवीक्विक (Fevikwik) डालकर हत्या भी कर दी

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस सनसनीखेज हत्याकांड को लेकर कई बातें सामने आईं। जिसमें कहा गया कि, दोनों युवक-युवती वशीकरण सीखना चाहते थे, लेकिन तांत्रिक ने सिखाया नहीं। इस बात को लेकर दोनों नाराज हो गये, तांत्रिक को बदनाम करने की धमकी भी दी गई। कहा यह भी जा रहा है कि दोनों के अवैध संबंधों की जानकारी तांत्रिक ने उनके परिजनों को दे दी थी। युवती-युवती तांत्रिक को निपटाते इससे पहले उसने दोनों को ठिकाने लगा दिया।

हालांकि, अफवाहों से दूर जब पुलिस ने मामले की कड़ी से कड़ी मिलाकर पड़ताल की और तांत्रिक पर दबाव बनाया। दबाव बनने से टूटे तांत्रिक ने हत्या की जो असल वजह उगली वह भी कम चौंकाने वाली नहीं थी। SHO थाना गोगुन्दा योगेंद्र व्यास ने बताया कि तांत्रिक को डर था कि उसकी बेटी उससे दूर चली जाएगी। जिसके चलते उसने इस खौफनाक वारदात को अंजाम दिया है।

SHO योगेंद्र व्यास के मुताबिक पूरी कहानी

घटनाक्रम के पीछे का पूरा सच योगेंद्र व्यास ने हमें बताया कि, 'गिरफ्तार आरोपी भालेश कुमार पुजारी (तांत्रिक) है। भादवी गुड़ा क्षेत्र के शेष नाग मंदिर में पूजा-पाठ व तंत्र-मंत्र करता है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि, मंदिर के आस-पास के लोग उसे बहुत मानते हैं। उसके बारे में प्रसिद्ध था कि अगर कोई सवा लाख मोतियों की माला का जाप कर ले तो मंदिर के भगवान तांत्रिक के माध्यम से उसकी मनचाही इच्छा पूरी करवा देता है

इससे पहले हुए एक घटनाक्रम में एक व्यक्ति ने सवा लाख मोतियों की माला का जाप कर आरोपी से मंदिर मांग लिया था। जिसके बाद आरोपी तांत्रिक को उसे मंदिर देना पड़ा। इस हुई घटना में मारा गया राहुल नाम का युवक, उसे भी किसी ने बताया कि तांत्रिक जाप करने के बाद मनचाहा फल देता है। राहुल भी जप करने बैठ गया। इसके बाद इस पूरी कहानी में नया किरदार सामने आया तांत्रिक की बेटी के रूप में

मनचाही मांग के लिए जाप कर रहा राहुल शादीशुदा था। पत्नी के अलावा राहुल के एक अन्य लड़की से भी अवैध संबंध थे। इसी दरमियान् मंदिर के एक अनुयायी ने तांत्रिक को सूचना दी की जाप कर रहा राहुल, जाप पूरा होने पर तांत्रिक से उसकी बेटी मांंगना चाहता था। इस बात से टेंशनाइज्ड तांत्रिक भालेश ने राहुल को जाप खत्म होने से पहले ही मारने की ठानी। क्योंकि जाप पूरा होने के बाद बेटी राहुल को देनी पड़ती। और बेटी ना देता तो भक्तों के सामने सम्मान की इज्जत तार-तार होती दिखी

तांत्रिक ने किसी के सामने राहुल की मंशा जाहिर नहीं होने दी। जबकि तांत्रिक यह बात जानता था कि राहुल का जिस युवती से अवैध संबंध है, वो उसकी पत्नी का उससे आए दिन होने वाले झगड़े की जड़ है। तांत्रिक ने मौके का लाभ देख राहुल के घरवालों के सामने पत्नी से झगड़ा और राहुल के अवैध संबंधों का खुलासा कर दिया। यह बात जब उस युवती को पता लगी तो उसने तांत्रिक को बदनाम करने की धमकी दी। उसने कहा कि अब मैं भी सबके सामने बता दूंगी कि तूने मेरा हाथ पकड़ा था, और जबरदस्ती करने की कोशिश की थी। इससे तांत्रिक घबरा गया।

वारदात को इस तरह दिया अंजाम

आरोपी तांत्रिक भालेश आस-पास की दुकान से 50 फेवीक्विक (Fevikwik) खरीदकर लाया जिसे मंदिर में एक जगह रख दीं। इसके बाद तांत्रिक ने किसी तरह बहाना बनाकर लड़की को मनाया कि यदि वह अर्धनग्न होकर राहुल के सामने बैठेगी तो उसका जाप जल्दी ही समाप्त हो जाएगा। उसने कहा कि आखिर वही भी तो एक तरह से राहुल की पत्नी ही है। चूंकी, तांत्रिक पर सभी विश्वास करते थे, इसलिये युवती ने उसपर भरोसा करते हुए ऐसा ही किया। इसी दौरान तांत्रिक ने लड़की समेत राहुल को कुछ सुंघा दिया, जिससे दोनों बेसुध होकर निढ़ाल हो गये। इसके बाद तांत्रिक ने दोनों के शरीर पर फेवीक्विक (Fevikwik) उड़ेलकर चिपका दिया। और इसके बाद दोनों की चाकू व पत्थरों से कुचलकर हत्या कर दी।

दोनों की हत्या करने के बाद तांत्रिक ने दोनों के मृत शरीरों को पास के जंगल में इसी कंडीशन में फेंक दिया जिससे लगे कि वे अवैध संबंध बना रहे थे, और दोनों में से किसी के अपने ने उन्हें इस हालत में देख मार जाला है। आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह जेल जाने से डरता था। क्योंकि इससे उसकी भारी बदनामी होगी। बहरहाल, आरोपी भालेश डबल मर्डर (Double Murder) के गुनाह में जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने बताया कि घटना 18 नवंबर को घटी थी।

Next Story

विविध