Top
कोविड -19

वैक्सीन लगवाने के 28 दिन बाद फारूख अब्दुल्ला हुए कोरोना पॉजिटिव, परिवार गया सेल्फ आइसोलेशन में

Janjwar Desk
30 March 2021 6:48 AM GMT
वैक्सीन लगवाने के 28 दिन बाद फारूख अब्दुल्ला हुए कोरोना पॉजिटिव, परिवार गया सेल्फ आइसोलेशन में
x
नैशनल कॉन्‍फ्रेंस के अध्‍यक्ष और जम्‍मू-कश्‍मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्‍दुल्‍ला को कोरोना हो गया है, उन्होंने 28 दिन पहले ही ली थी को​रोना की पहली डोज...

जनज्वार। National Conference के अध्‍यक्ष और जम्‍मू-कश्‍मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्‍दुल्‍ला को कोरोना हो गया है। गौरतलब है कि उन्‍होंने इसी महीने कोरोना वैक्‍सीन की पहली डोज ली थी। फारूक को कोरोना होने की जानकारी उनके बेटे उमर अब्‍दुल्‍ला ने ट्वीट करके दी है। उमर और उनका परिवार अब सेल्‍फ आसोलेशन में चले गए हैं।

आज मंगलवार 30 मार्च की सुबह अपने ट्वीट में उमर अब्‍दुल्‍ला ने कहा, 'मेरे पिता कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं, उनमें कुछ लक्षण भी दिखाई दे रहे हैं। जब तक हमारे टेस्‍ट नहीं हो जाते तब तक मैं परिवार के दूसरे सदस्‍यों के साथ सेल्‍फ आइसोलेशन में जा रहा हूं। पिछले कुछ दिनों में जो लोग हमारे संपर्क में आए हों उनसे अनुरोध करता हूं कि वे जरूरी एहतियात बरतें।'

उमर अब्‍दुल्‍ला ने 2 मार्च को फारूक अब्‍दुल्‍ला का कोरोना टीका लगवाते हुए फोटो ट्वीट किया था। फोटो ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा था, 'श्रीनगर के एसकेआईएमएस पर डॉक्टर, नर्स और स्टाफ को धन्यवाद कहता हूं। आज मेरे 85 साल के पिता और मां ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज ली। मेरे पिता को कई सारी स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें हैं, अगर उन्हें वैक्सीन लग सकती है तो आपको भी वैक्सीनेशन कराना चाहिए।'

गौरतलब है कि उमर अब्दुल्ला के द्वारा पिता फारूख अब्दुल्ला की कोविड वैक्सीनेशल वाली फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के बाद उनका कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ बहस का मु्द्दा मीडिया में उठा था। तब कहा गया था कि उमर अब्दुल्ला ने पिता की कोविड टीकाकरण की फोटो लगाने के पीछे उद्देश्य अपने गठबंधन के साथी कांग्रेस को नसीहत देना था।

उमर अब्दुल्ला ने कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के एक बयान का जवाब देते हुए कहा था कि उन्हें उन लोगों को टीकाकरण के लिए उत्साहित करना चाहिए, जिनकी उम्र ज्यादा है क्योंकि उन्हें ज्यादा खतरा है।

यह कहासुनी तब शुरू हुई थी जब खड़गे से पूछा गया था कि क्‍या वह कोरोना वैक्‍सीन लगवाएंगे या नहीं? तो खड़गे ने कहा था, 'मैं 70 साल से ज्‍यादा उम्र का हूं। आपको मेरी जगह ये (वैक्‍सीन) युवाओं को देनी चाहिए, क्‍योंकि उन्‍हें लंबा जीना है। मेरी 10-15 साल की जिंदगी बची है।'

Next Story

विविध

Share it