Top
कोविड -19

बलात्कार की सजा काट रहे आसाराम की कोरोना के बाद बिगड़ी हालत, डॉक्टरों ने रखा वेंटिलेटर पर

Janjwar Desk
7 May 2021 6:30 AM GMT
बलात्कार की सजा काट रहे आसाराम की कोरोना के बाद बिगड़ी हालत, डॉक्टरों ने रखा वेंटिलेटर पर
x

file photo

आसाराम के कोविड पॉजिटिव और हालात गंभीर होने की सूचना मिलने के बाद तमाम अनुयायी अस्पताल पहुंच गये, जिन्हें संभालने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी...

जनज्वार। कोरोना की भयावहता दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। यह बीमारी धर्म-संप्रदाय, अमीर-गरीब, छोटा-बड़ा किसी में भेद नहीं कर रही, सुरसा की तरह मुंह खोले सबको अपने में समाये जा रही है। देश में 6 मई को ही केस 4 लाख पार पहुंच चुके हैं।

अब बलात्कार के जुर्म में सजा काट रहे कथित धर्मगुरु आसाराम बापू की तबियत कोरोना संक्रमित होने के बाद बिगड़ गई है। जोधपुर में एमडीएम अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराने के बाद आसाराम को वेंटिलेटर पर भेज दिया गया है।

सांस लेने में कठिनाई की शिकायत के बाद बुधवार 5 मई की रात को आसाराम को अस्पताल ले जाया गया था। मीडिया में आ रही जानकारी के मुताबिक आसाराम को वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है और हालत स्थिर बताई गई है। COVID-19 परीक्षण के लिए अन्य कैदियों के साथ आसाराम के भी नमूने लिए गए, जिसमें टेस्ट पॉजिटिव आया था।

जेल के एक अधिकारी ने मीडिया को बताया है कि 80 वर्षीय आसाराम ने बेचैनी की शिकायत की थी और जब अस्पताल ले गए तो ऑक्सीजन स्तर बेहद कम था। बुधवार की रात, बुखार और सांस की शिकायत के कारण आसाराम की हालत बिगड़ गई थी, इसलिए रात को ही अस्पताल पहुंचाया गया।

आसाराम के कोविड पॉजिटिव होने की सूचना मिलने के बाद तमाम अनुयायी अस्पताल पहुंच गये, जिन्हें संभालने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। जानकारी के मुताबिक कुछ लोगों ने अस्पताल परिसर में प्रवेश करने की भी कोशिश की। अस्पताल में घुसने की कोशिश के दौरान दो महिला अनुयायियों को पुलिस ने हिरासत में लिया।

मीडिया में आ रही जानकारी के मुताबिक आसाराम को जोधपुर एम्स में भेजने की तैयारी की जा रही है। आसाराम के साथ 12 अन्य कैदी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

गौरतलब है कि कोविड पॉजिटिव होने से पहले आसाराम ने अपनी सेहत का हवाला देते हुए जमानत की अर्जी दाखिल की थी। जोधपुर जेल में बंद आसाराम ने अपनी सजा के खिलाफ राजस्थान उच्च न्यायालय में अपील भी दायर की थी।

आसाराम के खिलाफ 21 अगस्त 2013 को पुलिस कम्प्लेन हुई थी। कम्प्लेन में सहारनपुर की रहने वाली 16 साल की लड़की से दुष्कर्म का आरोप था, जिसके बाद तथ्य पाए जाने के बाद आसाराम को 1 सितंबर 2013 को पोक्सो एक्ट में जोधपुर जेल भेजा गया था। इसके बाद गुजरात की दो बहनो ने आरोप लगाया, जिसमें आसाराम का पुत्र नारायण साईं भी जेल भेजा गया। बाद में गवाहों पर हमले करवाने का भी केस आसाराम पर दर्ज किया गया।

Next Story
Share it