कोविड -19

UP Night Curfew: ओमीक्रोन वैरिएंट को लेकर योगी सरकार का फैसला, रात 11 से 5 बजे तक कर्फ्यू, शादी में इतने लोग हो सकेंगे शामिल

Janjwar Desk
24 Dec 2021 8:23 AM GMT
lucknow news
x

(उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में घोषित किया नाइट कर्फ्यू)

कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन को देखते हुए योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। यूपी में 25 दिसंबर की रात 11 बजे से नाइट कर्फ्यू लगने जा रहा है। यह नाइट कर्फ्यू रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक लागू होगा...

UP Night Curfew: उत्तर प्रदेश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन (Covid New Varient Omicron) को देखते हुए योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। यूपी में 25 दिसंबर की रात 11 बजे से नाइट कर्फ्यू लगने जा रहा है। यह नाइट कर्फ्यू रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक लागू होगा। शादी समारोह में भी लोगों की संख्या 200 तक सीमित कर दी गई है। इसके अलावा अन्य गाइडलाइंस जारी की हैं।

क्रिसमस की रात यानी शनिवार के दिन से लागू होने वाले इस आदेश में सरकार की तरफ से कहा गया है कि शादी-विवाह आदि सार्वजनिक आयोजनों में कोविड प्रोटोकॉल के साथ अधिकतम 200 लोगों के भागीदारी की अनुमति दी जाएगी। आयोजनकर्ता इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन को देगा।

मास्क की अनिवार्यता

बाजारों में 'मास्क नहीं तो सामान नहीं' के संदेश के साथ व्यापारियों को जागरूक किया जाएगा। बिना मास्क कोई भी दुकानदार ग्राहक को सामान नही देगा। सड़कों/बाजारों में हर किसी के लिए मास्क अनिवार्य किया गया है। पुलिस बल लगातार गश्त करगा।

बॉर्डर पर कड़ी निगरानी

पब्लिक एड्रेस सिस्टम को और प्रभावी बनाया जाएगा। देश के किसी भी राज्य से अथवा विदेश से उत्तर प्रदेश की सीमा में आने वाले हर एक व्यक्ति की ट्रेसिंग-टेस्टिंग की जाए। बस, रेलवे और एयरपोर्ट पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जाएगी।

IIT का खुलासा

आईआईटी कानपुर के रिसर्चरों ने अपनी नई स्टडी में यह अनुमान जताया है। इसके अनुसार, 3 फरवरी को कोरोना केस पीक पर होंगे। आईआईटी कानपुर के शोधकर्ताओं की एक टीम के नेतृत्व में अभी तक के मामलों की समीक्षा की गई है। अध्ययन में महामारी की पहली दो लहरों के डेटा का इस्तेमाल करके तीसरी लहर का पूर्वानुमान लगाया गया है।

शोधकर्ताओं की रिपोर्ट कहती है, 'दुनिया भर के ट्रेंड को देखते हुए यह प्रोजेक्ट रिपोर्ट भारत में दिसंबर मध्य से तीसरी लहर का पूर्वानुमान करती है जो कि फरवरी की शुरुआत में पीक पर होगी।' रिसर्चरों की टीम ने गॉजियन मिक्सचर मॉडल नाम के एक स्टेटिस्टिकल टूल का इस्तेमाल किया है।

3 फरवरी को हो सकते हैं सबसे अधिक केस

भारत की प्रारंभिक अवलोकन तिथि या (Initial Observation Date) 30 जनवरी 2020 है जब यहां कोविड-19 का पहला आधिकारिक मामला सामने आया था। इसलिए 15 दिसंबर 2021 से केस फिर से बढ़ना शुरू हो रहे हैं और तीसरी लहर का पीक 3 फरवरी 2022 दिन गुरुवार को हो सकता है। आईआईटी कानपुर के अनुसार, इस दिन कोरोना के सबसे अधिक केस दर्ज किए जा सकते हैं।

कोविड के 31 मामले

प्रदेश में कोविड के नए मामले बढ़ने लगे हैं। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 1.91 लाख से अधिक सैंपल जांचे गए हैं। इसमें 31 नए केस सामने आए हैं। 12 लोग ठीक हुए हैं।

प्रदेश में कोविड के एक्टिव केस बढ़कर 236 हो गए हैं। इसी बीच कोविड वैक्सिनेशन का काम भी तेजी से जारी है। प्रदेश में अब तक 19.12 करोड़ से अधिक वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी है। 12.40 करोड़ से अधिक को पहली डोज लग चुकी है।

इतने सैम्पलों की हुई जांच

यूपी में बीते 24 घंटों में 191428 सैम्पलों की जांच हुई। कुल 49 नए संक्रमितों की पुष्टि हुई। इसी अवधि में 12 लोग कोविड से ठीक हुए। यूपी में कोरोना के एक्टिव कोविड केस की संख्या 266 है। 16 लाख 87 हजार 657 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं। आज 37 जिलों में एक भी कोविड मरीज शेष नहीं है।

एक्टिव होंगी समितियां

योगी ने बैठक में कहा कि निगरानी समितियों ने कोरोना प्रबंधन में सराहनीय कार्य किया है। तीसरी लहर के दृष्टिगत गांवों और शहरी वार्डों में निगरानी समितियों को पुनः एक्टिव करें। बाहर से आने वाले हर एक व्यक्ति की टेस्टिंग कराएं। उनके स्वास्थ्य पर सतत नजर रखी जाए। आवश्यकतानुसार लोगों को क्वारन्टीन किया जाए, अस्पतालों में भर्ती कराया जाए।

Next Story

विविध