शिक्षा

Sonipat news : सोनीपत के टीकाराम पीजी गर्ल्स कॉलेज में दोगुनी हुई फीस, आंदोलकारी छात्राओं से प्रिंसिपल ने कहा जो करना है कर लो...

Janjwar Desk
8 Aug 2022 10:20 AM GMT
Sonipat news : सोनीपत के टीकाराम पीजी गर्ल्स कॉलेज में दोगुनी हुई फीस, आंदोलकारी छात्राओं से प्रिंसिपल ने कहा जो करना है कर लो...
x

Sonipat news : सोनीपत के टीकाराम पीजी गर्ल्स कॉलेज में दोगुनी हुई फीस, आंदोलकारी छात्राओं से प्रिंसिपल ने कहा जो करना है कर लो...

Sonipat news : टीकाराम पीजी गर्ल्स कॉलेज की बीए,एमए और एमकॉम समेत तमाम कोर्सों की दोगुना फीसे बढ़ा दी गयी हैं, जिसका छात्रायें विरोध कर रही हैं

Sonipat news : आज 8 अगस्त को छात्रों ने फीस बढ़ोत्तरी के खिलाफ प्रदर्शन किया। ये छात्रायें बढ़ी हुई फीस का फैसला वापस लेने के लिए आंदोलन कर रही हैं। छात्र एकता मंच सोनीपत के नेतृत्व में फीस बढ़ोतरी के खिलाफ टीकाराम पीजी गर्ल्स कॉलेज की प्रिंसिपल से मुलाकात की।

गौरतलब है कि टीकाराम पीजी गर्ल्स कॉलेज की बीए,एमए और एमकॉम समेत तमाम कोर्सों की दोगुना फीसे बढ़ा दी गयी हैं, जिसका छात्रायें विरोध कर रही हैं।

प्रिंसिपल ने छात्रों से कहा कि हमारे पर इतने पैसे नहीं हैं कि हम टीचर्स की पूरी सैलरी दे सकें, इसलिए हमने फीस बढ़ाई है। इसके अलावा शिक्षकों को सेलरी देने का हमारे पास कोई उपाय नहीं है।

फीस बढ़ोत्तरी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने जब कहा कि विभिन्न कोर्सों की फीस दोगुनी बढ़ा दी गयी है और इतनी फीस हम नहीं दे सकते तो प्रिंसिपल ने छात्रों की बातों को अनसुना कर दिया। साथ ही यह भी कहा कि तुम्हें जो कदम उठाना हो उठा लो, जो करना है कर लो, हम बढ़ी हुई फीस वापस नहीं ले सकते।

जब प्रदर्शनकारी छात्रों ने प्रिंसिलल से कहा कि आप हमें लिखित में दें कि हम फीस कम नहीं कर सकते तो उन्होंने साफ इंकार कर दिया। इसके बाद प्रिंसिपल के इस रवैये से हताश छात्र नारे लगाते हुए टीकाराम संस्था के अध्यक्ष सुरेंद्र दहिया के घर पर गए। वहां भी पहले छात्रों के साथ ठीक व्यवहार नहीं किया गया, लेकिन बाद में काफी देर नारेबाजी करने के बाद उन्होंने फोन द्वारा ये आश्वासन दिया कि हम पूरे सोनीपत के कॉलेजों से अपने कॉलेज की फीसें कम करेंगे।

इस बारे में छात्र एकता मंच की कार्यकर्ता पूजा कहती हैं, हमें फ़ीस कम करने का आश्वासन मिल गया है, लेकिन अगर फीसें वापस नहीं होती तो हमारा आंदोलन ऐसे ही चलता रहेगा और लड़ाई लम्बी है, मजबूती के साथ ही फीस कम करवाई जा सकती है। इस पूरे प्रदर्शन के दौरान लगभग 250-300 छात्राएं मौजूद रहीं।

Next Story

विविध