ग्राउंड रिपोर्ट

Bundelkhand Women Farmers : झांसी की महिला किसानों का छलका दर्द, बोलीं- योगी राज में बिना घूस के पत्ता नहीं हिलता

Janjwar Desk
9 Jun 2022 7:38 AM GMT
x
Bundelkhand Women Farmers : महिलाओं किसानों ने जनज्वार से अपना दर्द साझा करते हुए कहा है कि खेत में चौमासा के दौरान बारिश नहीं होने से उनकी फसल खराब हो गयी है। उनके सामने आर्थिक परेशानी है इस संकट की घड़ी में उनकी सुननेवाला कोई नहीं है...

Bundelkhand Women Farmers : उत्तर प्रदेश में किसानों को राहत देने के नाम पर उनसे घूस की मांग की जाती है। ये दर्द बयां किया है बुंदेलखंड इलाके के महिला किसानों ने। उनका कहना है कि हर सरकारी सुविधा के लिए उनसे घूस की मांग की जाती है। बिना घूस के तो पत्ता भी नहीं हिलता है।

झांसी जिले के भड़साड़ा गांव की महिलाओं का दर्द है कि फसल खराब होने पर भी उन्हें योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाता है। सरकारी दफ्तरों और बैंकों में फसल खराब होने पर सिर्फ आश्वासन दिया जाता है, पर राहत के नाम पर कोई लाभ नहीं मिल पाता है।

महिलाओं किसानों ने जनज्वार से अपना दर्द साझा करते हुए कहा है कि खेत में चौमासा के दौरान बारिश नहीं होने से उनकी फसल खराब हो गयी है। उनके सामने आर्थिक परेशानी है इस संकट की घड़ी में उनकी सुननेवाला कोई नहीं है।

सरकार से मदद की बात तो छोड़िए योगीराज में तो अपना हक दिलाने के लिए भी पैसे की मांग की जा रही है। यहां बिना घूस के कोई काम नहीं हो पाता है। किसान महिलाओं का कहना है कि उनके पास किसान क्रेडिट कार्ड भी है, फसल बीमा भी है पर फसल खराब होने पर भी उसका लाभ नहीं मिल पाता है।

फसल बीमा का लाभ दिलवाने के नाम पर पटवारी गांव आकर दो-दो सौ रुपए की वसूली करने के बाद दिलासा देकर चला जाता है कि उन्हें फसल बीमा का लाभ मिलेगा, पर कभी लाभ मिल नहीं पाता है। पटवारी को दिए दो सौ रुपए डूबते हैं सो अलग। एक-दो नहीं आसपास के तकरीबन हर गांव में किसान दलहन की फसल खराब होने से परेशान हैं, पर उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। वे खुद मदद के लिए सरकारी कार्यालयों का चक्कर लगाते हैं तो भी उन्हें सिर्फ दिलासा मिलता है और पैसे की मांग की जाती है।

Next Story