स्वास्थ्य

कोरोना रिकवरी रेट में पाकिस्तान से काफी पीछे है भारत, आइसीयू मरीजों की संख्या भी वहां कम

Janjwar Desk
25 Aug 2020 6:37 AM GMT
कोरोना रिकवरी रेट में पाकिस्तान से काफी पीछे है भारत, आइसीयू मरीजों की संख्या भी वहां कम
x

केरल में कोरोना केसों की संख्या सर्वाधिक (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कोरोना को नियंत्रित करने के मामले में पाकिस्तान ने बेहतर प्रदर्शन किया है। रिकवरी रेट के मामले में वह चीन के बाद दूसरे नंबर पर पहुंच गया है...

जनज्वार। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के मामले में पाकिस्तान में नियंत्रण व रिकवरी की दर भारत से कहीं बेहतर है। पाकिस्तान जहां रिकवरी रेट के मामले में चीन के बाद दूसरे नंबर पर पहुंच गया है, वहीं भारत अभी 18वें पायदान पर है। प्रति मिलियन यानी प्रति दस लाख पर भी पाकिस्तान की तुलना में भारत में करीब पौने दोगुणा मरीज मिल रहे हैं।

भारत में इस वक्त कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 3,167,323 हो गई है, जिसमें रिकवर हो चुके मरीजों की संख्या 2, 40, 4585 है। वहीं, पाकिस्तान में 2,93,711 कुल मरीजों की संख्या अबतक पहुंची है, जिसमें 2,78, 425 रिकवर हो चुके हैं।

भारत में कोरोना मरीजों की रिकवरी दर 75.9 प्रतिशत है। जबकि पाकिस्तान में यह दर भारत से काफी आगे 94.8 प्रतिशत है। ये आंकड़े कोरोना ट्रैकर डाॅट काॅम पर आधारित हैं, जो वैश्विक रूप से कोरोना के आंकड़ों को संग्रहित व प्रसारित करने का कार्य करता है।

भारत में अबतक कोरोना वायरस के कारण 58, 546 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं पाकिस्तान में इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 6255 है। पाकिस्तान में जहां मात्र 0.2 प्रतिशत कोरोना मरीजों के लिए इलाज के लिए आइसीयू की आवश्यकता हो रही है, वहीं भारत में यह प्रतिशत 0.3 है।

हालांकि मृत्युदर के आंकड़े में पाकिस्तान से भारत बेहतर स्थिति में है। भारत में मृत्युदर 1.8 प्रतिशत है, जबकि पाकिस्तान में इससे थोड़ा अधिक 2.1 प्रतिशत है।

Next Story

विविध

Share it