Top
बिहार

बिहार के प्रवासी मजदूरों को रोजगार और खाना नहीं, नीतीश सरकार ने बांटे कंडोम और गर्भनिरोधक गोलियां

Janjwar Desk
9 Jun 2020 4:30 AM GMT
बिहार के प्रवासी मजदूरों को रोजगार और खाना नहीं, नीतीश सरकार ने बांटे कंडोम और गर्भनिरोधक गोलियां
x
सुशील मोदी ने बताया कि अप्रैल में जहां 2.14 लाख कंडोम बांटे गए, वहीं मई में क्वोरंटीन सेंटर में बाहर से आने वालों की संख्या बढ़ी तो 15. 39 लाख अतिरिक्त कंडोम बांटे गए, यानी कुल 17.53 लाख कंडोम बांटे गए....

पटना, जनज्वार। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि बिहार में बढ़ती जनसंख्या से चिंतित राज्य सरकार ने क्वोरंटीन सेंटरों में रहने वालों को न केवल स्वास्थ्य, योग आदि का प्रशिक्षण दिया और उनकी स्किल मैपिंग की, बल्कि उनके घर वापस जाने के समय उन्हें परिवार नियोजन से संबंधित जानकारियां व गर्भ निरोधक सामग्रियां भी दी गईं।

सुशील मोदी ने बताया कि अप्रैल में जहां 2.14 लाख कंटोम बांटे गए, वहीं मई में क्वोरंटीन सेंटर में बाहर से आने वालों की संख्या बढ़ी तो 15. 39 लाख अतिरिक्त कंडोम बांटे गए, यानी कुल 17.53 लाख कंडोम बांटे गए।

गर सवाल यह है कि जो सरकार कंडोम बांटने को इतने जोर—शोर से प्रचारित—प्रसारित कर रही है, क्या उसने प्रवासियों के लिए रोजी—रोटी का इंतजाम किया, या फिर वाहवाही लूटने के लिए सिर्फ जनसंख्या नियंत्रण के लिए कंडोम बांटकर अपने कर्तव्य की इतिश्री कर लेगी। कंडोम से पहले लोगों को 2 वक्त की रोटी की जरूरत होती है, आखिर वह कैसे पूरी होगी, इस दिशा में सरकार ठोस कदम क्यों नहीं उठाती। अगर सरकार ने प्रवासियों के लिए प्रयास किया होता तो जो मजदूर अब शहरों की तरफ वापस लौटने लगे हैं, वो वहीं रहकर रोजगार करते।

सुशील कुमार मोदी ने कहा, 'प्रत्येक दशक में बिहार की जनसंख्या में 25 फीसदी की वृद्धि हो रही है। वैसे लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा, बाल विवाह निषेध व अन्य निरोधात्मक उपायों को अपना कर पिछले एक दशक में प्रजनन दर को 4.3 से घटा कर 3.2 पर लाने में सफलता मिली है।'

न्होंने आगे कहा, 'जनसंख्या स्थिरीकरण के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए फ्रंटलाइन आशा कार्यकर्ताओं और एनएनएम द्वारा कोरोना संक्रमण के घर-घर सर्वें के दौरान और 14 दिन की क्वारंटीन अवधि पूरी कर घर जाने वालों को रिवार नियोजन के बारे में सजग किया गया तथा जिन्हें जरूरत थी, उन्हें दो-दो पैकेट कंडोम उपलब्ध कराए गए।'

भाजपा नेता ने कहा कि योग्य दंपतियों को उनकी इच्छानुसार इस दौरान करीब 11 लाख दैनिक व आपातकालीन गर्भ निरोधक गोलियों का भी वितरण किया गया। मोदी ने अपील की कि प्रत्येक स्वास्थ्य केन्द्र पर भी गर्भ निरोधक सामग्रियां उपलब्ध हैं, जिन्हें जरूरत हो वहां से ले सकते हैं।

Next Story

विविध

Share it