Top
बिहार

आपराधिक घटनाओं को लेकर सीएम नीतीश पर तेजस्वी का हमला, मौन क्यों हैं महाजंगलराज के महाराजा

Janjwar Desk
29 Nov 2020 6:18 AM GMT
आपराधिक घटनाओं को लेकर सीएम नीतीश पर तेजस्वी का हमला, मौन क्यों हैं महाजंगलराज के महाराजा
x

File photo

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए उन्हें 'महाजंगलराज का महाराज' करार दिया है, तेजस्वी ने कहा कि राज्य में लगातार आपराधिक वारदातें हो रही हैं....

जनज्वार ब्यूरो, पटना। बिहार में लगातार हो रहीं आपराधिक वारदातों के कारण बिगड़ रही विधि-व्यवस्था को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिना नाम लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए उन्हें 'महाजंगलराज का महाराज' करार दिया है। तेजस्वी ने कहा कि राज्य में लगातार आपराधिक वारदातें हो रही हैं।

तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर लिखा 'बिहार में अपराधियों की बहार,गोलियों की बौछार और व्यवसायियों पर कहर के साथ ही महाजंगलराज का हाहाकार है। चहुंओर अराजक और डरावना माहौल बन गया है। विधि व्यवस्था समाप्त हो चुकी है। डबल इंजन ट्रेन में बैठे मुख्‍यमंत्री सुस्त,लाचार,बेबस और असहाय है। महाजंगलराज के महाराजा मौन क्यों है?'


हालिया दिनों में छपरा और गोपालगंज में डबल मर्डर सहित कई घटनाओं को अपराधियों ने अंजाम दिया है। इसी को लेकर तेजस्वी ने सरकार पर हमला किया है। उल्लेखनीय है कि लालू प्रसाद और राबड़ी देवी की पूर्ववर्ती राजद सरकारों पर सत्ताधारी दलों के नेता 'जंगलराज' कहकर तंज करते रहते हैं। अब तेजस्वी यादव ने वर्तमान सरकार को 'महाजंगलराज' की उपाधि दी दी है।

तेजस्वी यादव चुनाव प्रचारों के दौरान भी कानून व्यवस्था को लेकर लगातार राज्य सरकार पर निशाना साधते रहे हैं तो उस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लालू प्रसाद और राबड़ी देवी की पूर्ववर्ती सरकारों पर आक्रामक थे। अब तेजस्वी यादव ने इसी मुद्दे पर राज्य सरकार को घेरा है।


सदन में क्रोधित होने को लेकर भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर निशाना साधा है। उन्होंने तंज करते हुए कहा कि अगर आप तर्क, तथ्य और सत्य के साथ सवाल करते हैं तो गुस्सा हो जाते हैं। उन्होंने लिखा 'अगर आप तर्क, तथ्य और सत्य के साथ सवाल करते है तो सरकार को ग़ुस्सा आना लाज़िमी है। जनादेश लूटने वाली सरकार को जनहित और रोज़ी-रोटी के मुद्दों पर हम सड़क से लेकर सदन तक घेरते रहेंगे।'

Next Story

विविध

Share it