Top
बिहार

बिहार के शेखपुरा विधायक की भ्रष्टाचार के खिलाफ अनोखी पहल, घूसखोरों की फोटो लाने पर 1 लाख रुपये तक के ईनाम की घोषणा

Janjwar Desk
13 Feb 2021 1:20 PM GMT
बिहार के शेखपुरा विधायक की भ्रष्टाचार के खिलाफ अनोखी पहल, घूसखोरों की फोटो लाने पर 1 लाख रुपये तक के ईनाम की घोषणा
x
'जनज्वार' ने विधायक विजय सम्राट से खास बातचीत की, उनकी इस घोषणा से लेकर उनके बहुचर्चित 'जनता दरबार' सहित अन्य मुद्दों पर उन्होंने बेबाकी के साथ अपनी बात रखी..

जनज्वार ब्यूरो, पटना। बिहार में भ्रष्टाचार के किस्से अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। कोई न कोई ऐसा मामला सामने आता रहता है, जो देश भर में सुर्खियां पा जाता है। राजनेताओं के भ्रस्टाचार के कई मामले यहां दर्ज हैं।

ऐसे में कोई विधायक अगर भ्रष्टाचार के विरुद्ध मजबूती के साथ खड़ा होने की कोशिश करे और इसके खात्मे या यूं कहें कि इसे कम करने के लिए जनसहयोग की अपील करे तो आज के परिवेश में इसे 'अनूठी पहल' की संज्ञा तो दी ही जा सकती है।

राष्ट्रीय जनता दल के टिकट पर पहली बार विधायक बने विजय कुमार उर्फ विजय सम्राट ने एक ऐसी पहल की है, जो इन दिनों चर्चा में है। बिहार के शेखपुरा से विधायक विजय सम्राट ने घोषणा कर दी है कि उनके विधानसभा क्षेत्र में किसी जनप्रतिनिधि या अधिकारी-कर्मचारी का भ्रष्टाचार से संबंधित फोटो या वीडियो लाएगा, उसे वे अपने स्तर से इनाम देंगे।


विधायक विजय सम्राट ने एक कार्यक्रम के दौरान इसकी घोषणा की। विधायक ने कहा, 'मेरे विधानसभा क्षेत्र में कोई जनप्रतिनिधि या अधिकारी-कर्मचारी अगर भ्रष्टाचार करता है और जनता को उसकी जानकारी हो तो वह ऐसे भ्रष्टाचार से जुड़ी वीडियो या तस्वीर लाएं। ऐसे आरोपों के सत्यता की पुष्टि हो जाने पर तस्वीर या वीडियो लानेवाले को 1 हजार से लेकर 1 लाख रुपये तक का इनाम दिया जाएगा।'

'जनज्वार' ने विधायक विजय सम्राट से खास बातचीत की। उनकी इस घोषणा से लेकर उनके बहुचर्चित 'जनता दरबार' सहित अन्य मुद्दों पर उन्होंने बेबाकी के साथ अपनी बात रखी।

यह पूछे जाने पर की विधायक के रूप में 5 साल के कार्यकाल में उनकी प्राथमिकताएं क्या हैं, विधायक विजय सम्राट ने कहा कि भ्रष्टाचार को न्यूनतम स्तर पर लाना और जनहित की विभिन्न योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना उनका लक्ष्य होगा। इसके अलावा क्षेत्र के लोगों को जीवनयापन के लिए आवश्यक व मूलभूत आवश्यकताओं की प्रतिपूर्ति हो सके, यही उनकी कोशिश होगी।

विधायक ने कहा कि जब वे जनता दरबार का आयोजन करते हैं तो लोग सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार की शिकायत करते हूं। यह ग्रासरूट तक फैला है। पंचायत से लेकर जिला स्तर तक योजनाओं में भ्रष्टाचार की शिकायतें क्षेत्र की जनता लगातार कर रही है। इसी कारण उन्होंने तस्वीर लाने पर इनाम वाली घोषणा की है। इससे भृष्टाचारियों में भय का वातावरण बनेगा कि पता नहीं कब कौन गलत काम की कोई तस्वीर खींच ले।

उन्होंने कहा कि ऐसे सबूत सामने आने पर वे सरकार को लिखेंगे तथा भ्रष्टाचार करने वालों पर अन्य माध्यमों से भी कार्रवाई का दबाव सरकार पर बनाएंगे। अगर बात नहीं बनी तो आंदोलन का रास्ता तो है ही।

'जनज्वार' से बातचीत ने विधायक ने स्वीकार किया कि राज्य में हर स्तर पर भ्रष्टाचार का बोलबाला है। कोई भी सरकारी योजना हो, वह भ्रष्टाचार की शिकार हो जाती है और उसका लाभ वास्तविक लाभुकों तक नहीं पहुंच पाता।

उन्होंने यह भी दावा किया कि अगर बिहार से भ्रष्टाचार खत्म हो जाय तो बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार दिया जा सकता है और बिहार जल्द ही विकसित राज्य की श्रेणी में आ सकता है।

Next Story

विविध

Share it