Top
राष्ट्रीय

PM आवास योजना का पैसा BJP नेता ने अपने खाते में किया ट्रांसफर, अब दर-दर की ठोकरें खा रहा गरीब आदमी

Janjwar Desk
13 Aug 2020 1:25 PM GMT
PM आवास योजना का पैसा BJP नेता ने अपने खाते में किया ट्रांसफर, अब दर-दर की ठोकरें खा रहा गरीब आदमी
x
घटना है सरगुजा जनपद के ग्राम रोपाखार मैनपाट की है, जहां एक ग्रामीण बरन राम के खाते से प्रधानमंत्री आवास के किश्त की राशि को उसी ग्राम के उप सरपंच और भाजपा पदाधिकारी रजनीश पांडे ने अपने खाते में जमा करवा लिया....

शिशिर शुक्ला की रिपोर्ट

सरगुजा। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वर्ष 2022 तक देश में सभी को छत मुहैया कराने का लक्ष्य रखा गया है लेकिन छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में भाजपा नेता इस योजना का बेजा इस्तेमाल कर रहे हैं। सरकार मकान बनाने के लिए गरीबों के खाते में पैसे डाल रही है, लेकिन वो उस पैसे को उन गरीबों से छीनकर उससे ऐशो आराम फरमा रहे है ।

घटना है सरगुजा जनपद के ग्राम रोपाखार मैनपाट की है, जहां एक ग्रामीण बरन राम के खाते से प्रधानमंत्री आवास के किश्त की राशि को उसी ग्राम के उप सरपंच और भाजपा पदाधिकारी रजनीश पांडे ने अपने खाते में जमा करवा लिया, इसके बाद पीड़ित को डराया धमकाया और जान से मारने की धमकी भी दी गई।

जब हर किश्त के आहरण की राशि पर रजनीश पांडे ने पैसे लूटने का काम शुरू किया तो निराश्रित बरन राम ने घर बनाने की राशि छिन जाने पर कोतवाली में इसकी शिकायत की। कार्यवाही होना अभी लंबित है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जहां 2022 तक सबको पक्के मकान देने का सपना संजोए बैठे हैं वहीं दूसरी तरफ उन्हीं की पार्टी के नेता और पंचायत के उप सरपंच ये शर्मसार करने वाली हरकत कर रहे हैं।


अब देखना ये है कि प्रशासन और पुलिस इस पर क्या कार्यवाही करती है ताकि कोई भी इस तरह के कृत्य की पुनरावृत्ति ना कर सके। विदित हो कि रजनीश पांडे पूर्व में भी अवैध वसूली, जमीन बेजा कब्जा मारपीट के अपराधों में लिप्त पाए जा चुके हैं। बताया जाता है कि मैनपाट में उनके आतंक से बच पाना लोगों के लिए एक मुश्किल है।

रजनीश पांडे जिला पंचायत का सदस्य भी रहा है और छतीसगढ़ में पूर्व भाजपा सरकार में उसे अच्छा खासा राजनीतिक संरक्षण मिलता रहा है। इसी वजह से अभी भी उसके हौसले बुलंद है और हर बार अपराध कर बच निकलने की पुरानी आदत की वजह से निर्भीक होकर दबंगई करते हुए पाया जाता है। इन हरकतों से मैनपाट के ग्रामीण भयभीत और सहमे रहते हैं।


जानकारी के अनुसार रजनीश ने अभी तक प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों से कई लाख रुपए की वसूली कर ली है। आरोपी रजनीश पांडे कोतवाली में शिकायत होने के बाद फरार बताया जा रहा है। अब सवाल यह है कि अगर समाज के जनसेवक ही समाज के भक्षक बन जाएंगे तो समाज का अवमूल्यन होने से भला कौन रोक सकता है। भारतीय जनता पार्टी के संज्ञान में आते ही जिले के बड़े पदाधिकारी इस बात को लेकर आक्रोशित हैं ।

Next Story

विविध

Share it