Top
दिल्ली

पूर्वी दिल्ली के वेलकम इलाके में महिला टीवी न्यूज एंकर ने की आत्महत्या

Janjwar Desk
31 July 2020 12:00 PM GMT
पूर्वी दिल्ली के वेलकम इलाके में महिला टीवी न्यूज एंकर ने की आत्महत्या
x
प्रिया सुबह अपने घर में फांसी के फंदे पर लटकते हुए मिलीं, हालांकि प्रिया के पास से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है,पोस्टमॉर्टम करने के बाद उसका शव परिजनों को सौंप दिया गया...

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के संकट के बीच देशभर के कई राज्यों में आत्महत्याओं के मामलों तेजी से बढ़ोत्तरी हो गई है। हाल ही में दैनिक भास्कर के एक पत्रकार तरूण सिसोदिया की मौत का मामला सामने आया था जो काफी सुर्खियों में रहा था। अब पूर्वी दिल्ली के वेलकम इलाके में एक महिला टीवी एंकर के द्वारा आत्महत्या करने का मामला सामने आया है।

जानकारी के मुताबिक आत्महत्या करने वाली टीवी एंकर की पहचान प्रिया जुनेजा के रूप में हुई है। प्रिया सुबह अपने घर में फांसी के फंदे पर लटकते हुए मिलीं। हालांकि प्रिया के पास से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। पोस्टमॉर्टम करने के बाद उसका शव परिजनों को सौंप दिया गया।

वह पंजाब के लुधियाना की रहने वाली थीं और दिल्ली में रह रही थीं। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशन की डिग्री ली थी। प्रिया के फेसबुक प्रोफाइल के अनुसार वह जेके 24*7 न्यूज, फास्ट खबर समेत कई चैनलों में काम कर चुकी थीं। हाल ही में वह हरियाणा के एक यूट्यूब चैनल के लिए काम कर रही थीं। शुरूआती जांच में कहा जा रहा है कि वह अपनी नौकरी को लेकर काफी परेशान थीं।

हालांकि प्रिया ने यह कदम क्यों उठाया, यह अभी तक पूरी तरह से साफ नहीं हो पाया है। मामले की जांच जारी है। फिलहाल सोशल मीडिया पर उनकी मौत की खबर के बाद उनके जानने वाले दुख व्यक्त कर रहे हैं।

आरजू सिद्दीकी अपने फेसबुक पोस्ट में लिखते हैं, 'कोई हँसते चेहरे के पीछे ख़ुश दिल हो ये बिल्कुल ज़ुरुरी नहीं। ख़ुशमिज़ाज, प्यारी सी लड़की प्रिया जुनेजा के आत्महत्या की ख़बर नें दिल बैठा दिया है। आज फ़िर समाज की साझी विफ़लता का करीब से अहसास हो रहा है। ज़िंदगी को तथाकथित सफ़लताओं का पर्याय बना देने वाले हमारे समाज के मुहँ पर प्रिया तमाचा मार के चली गई। ये सिर्फ़ उसकी अकेले की हार नहीं है हम इसमें बराबर के साझीदार हैं मगर इस हार की पूरी कीम़त उसने अकेली ही चुकाई। आख़री बार जब कॉलेज में मुलाकात हुई थी तो उसने मुझसे ये तस्वीरें खिंचवाई थी, मेरे ज़ेहन में उसकी यही तस्वीर बरकरार रही हमेशा।'

देव गौतम दुख व्यक्त करते हुए लिखते हैं, 'तुम अब नहीं रही सुनकर यकीन नहीं हो रहा प्रिया जुनेजा और इतनी बिंदास तरह से जिंदगी जीने वाली लड़की को आत्महत्या क्यों करनी पड़ी ये भी तुम जानो लेकिन जी सकती थी तुम परेशानी का हल हो सकता था..खैर अब तुम जहाँ हो खुश रहो भगवान तुम्हारी आत्मा को शांति दे। और ऐसा कदम उठाने वालों अकेला महसूस करने वालो अपनी परेशानी के बारे में बात करो हल हर समस्या का है मरना ही एकमात्र हल नही है।'


Next Story

विविध

Share it