राष्ट्रीय

Jullian Asange News : विकीलीक्स के संस्थापक को ब्रिटेन से अमेरिका डिपोर्ट करने को मिली मंजूरी, 125 साल की हो सकती है सजा

Janjwar Desk
18 Jun 2022 11:17 AM GMT
Jullian Asange News : विकीलीक्स के संस्थापक को ब्रिटेन से अमेरिका डिपोर्ट करने को मिली मंजूरी, 125 साल की हो सकती है सजा
x

Jullian Asange News : विकीलीक्स के संस्थापक को ब्रिटेन से अमेरिका डिपोर्ट करने को मिली मंजूरी, 125 साल की हो सकती है सजा

Jullian Asange News : ब्रिटिश गृह मंत्रालय ने कहा है कि गृह मंत्री प्रीति पटेल ने 50 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई नागरिक असांजे के प्रत्यर्पण आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। अमेरिका के गोपनीय कानूनों का उल्लंघन करने और देश की सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए असांजे को उम्रकैद की भी सजा दी जा सकती है...

Jullian Asange News : ब्रिटेन की सरकार ने शुक्रवार को विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे (Jullian Asange News) के अमेरिका प्रत्यर्पण को मंजूरी दे दी है। असांजे के खिलाफ अमेरिका में इराक और अफगानिस्तान में युद्ध से संबंधित गोपनीय दस्तावेजों को लीक करने के आरोप हैं। ऐसे में उन्हें अमेरिका लौटने पर कोर्ट के सामने इन मामलों में मुकदमों का सामना करना पड़ेगा।

ब्रिटिश गृह मंत्रालय ने कहा है कि गृह मंत्री प्रीति पटेल ने 50 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई नागरिक असांजे (Jullian Asange News) के प्रत्यर्पण आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। अमेरिका के गोपनीय कानूनों का उल्लंघन करने और देश की सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए असांजे को उम्रकैद की भी सजा दी जा सकती है। जूलियन के खिलाफ अगर आरोप साबित हो जाते हैं, तो अमेरिकी कोर्ट उन्हें 125 साल तक जेल में रहने की सजा सुना सकती है। हालांकि, अमेरिकी कोर्ट भी दोनों पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद ही फैसला सुनाएगी।

असांजे के पास अपील करने के लिए 14 दिनों का समय

अमेरिका भेजे जाने से बचने के लिए असांजे (Jullian Asange News) की वर्षों तक चली कानूनी लड़ाई में यह एक बड़ा मोड़ है। हालांकि असांजे के प्रयासों का यह अंत नहीं है और उनके पास इसके खिलाफ अपील करने के लिए 14 दिन का समय है। असांजे की कानूनी टीम की जवाबी अपील से कानूनी लड़ाई का एक और दौर फिर से शुरू होने की उम्मीद है।

ब्रिटेन बोला- काफी सोच समझकर लिया गया फैसला

ब्रिटेन के गृह विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि 17 जून को, मजिस्ट्रेट अदालत और उच्च न्यायालय दोनों के विचार के बाद जूलियन असांजे (Jullian Asange News) के अमेरिका प्रत्यर्पण का आदेश दिया गया था। असांजे के पास अपील करने के लिए 14 दिन का समय है। प्रवक्ता ने कहा कि ब्रिटेन की अदालतों ने यह नहीं पाया है कि असांजे का प्रत्यर्पण दमनकारी, अन्यायपूर्ण या प्रक्रिया का दुरुपयोग होगा।

असांजे का दावा- मैंने कुछ भी गलत नहीं किया

ब्रिटिश प्रवक्ता ने कहा कि अदालतों ने यह भी नहीं पाया कि असांजे (Jullian Asange News) का प्रत्यर्पण उनके मानवाधिकारों, निष्पक्ष मुकदमे के अधिकार और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के खिलाफ होगा या अमेरिका में उनसे अच्छा व्यवहार नहीं किया जाएगा। असांजे कहते रहे हैं कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है।

Next Story