Top
कश्मीर

महबूबा मुफ्ती बोलीं, भाजपा राष्ट्र-विरोधी के तौर पर कर रही 'गुपकर गैंग' शब्द का इस्तेमाल

Janjwar Desk
17 Nov 2020 3:01 PM GMT
महबूबा मुफ्ती बोलीं, भाजपा राष्ट्र-विरोधी के तौर पर कर रही गुपकर गैंग शब्द का इस्तेमाल
x
अमित शाह ने इस गुपकर गठबंधन को 'गुपकर गिरोह' करार देते हुए राष्ट्र-विरोधी बताया था, इसके जवाब में अब महबूबा ने कहा है कि भाजपा उन्हें देश विरोधी की तरह प्रोजेक्ट कर रही है...

श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने मंगलवार 17 नवंबर को कहा कि भाजपा पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकर डिक्लेरेशन (पीएजीडी) को राष्ट्र-विरोधी के रूप में पेश करने के लिए इसे 'गुपकर गैंग' कह रही है। पीडीपी अध्यक्ष ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पर पलटवार किया है। शाह ने सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए कांग्रेस के गुपकर गठबंधन को समर्थन पर हमला बोला था।

शाह ने इस गठबंधन को 'गुपकर गिरोह' करार देते हुए राष्ट्र-विरोधी बताया था। इसके जवाब में अब महबूबा ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) उन्हें देश विरोधी की तरह प्रोजेक्ट कर रही है।

महबूबा ने कहा, "पुरानी आदतें जल्दी जाती नहीं। पहले भाजपा कहती थी कि टुकड़े-टुकड़े गैंग देश की अखंडता के लिए के लिए खतरा है और अब इन्होंने गुपकर गठबंधन को राष्ट्रद्रोही बताना शुरू कर दिया है। विडंबना ये है कि यह भाजपा है, जो संविधान का दिन-रात उल्लंघन करती रहती है।"

महबूबा ने आगे कहा कि अब गठबंधन में चुनाव लड़ना भी राष्ट्रद्रोह हो गया है। भाजपा सत्ता की भूख के चलते कितने भी गठबंधन कर सकती है, लेकिन हम गठबंधन कर रहे हैं तो वह राष्ट्रहित के खिलाफ हो जाता है।

उन्होंने कहा, "भाजपा सत्ता की भूख के लिए चाहे जितने गठबंधन कर ले, लेकिन अगर हम किसी तरह एक यूनाइटेड फ्रंट बनाते हैं तो कहा जाता है कि हम राष्ट्रहित को चुनौती दे रहे हैं।"

शाह के ट्वीट पर पलटवार करते हुए महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, "भाजपा की भारत में फूट डालकर और खुद को रक्षक बताकर विपक्षियों को आंतरिक और काल्पनिक शत्रु दिखाने की तरकीब अब पुरानी हो चुकी है। लव जिहाद, टुकड़े-टुकड़े और अब गुपकर गैंग राजनीतिक वाद-विवाद का हिस्सा हो जाएगा, जबकि चर्चा का मुद्दा बेरोजगारी और महंगाई होना चाहिए।"

इससे पहले बात मंगलवार 16 नवंबर को ही शाह ने एक साथ कई ट्वीट करते हुए कश्मीर की मुख्यधारा की पार्टियों के समूह को 'गुपकर गिरोह' (गुपकर गैंग) करार दिया था। शाह ने गुपकर गठबंधन पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि या तो गुपकर गिरोह को राष्ट्रीय मूड के साथ चलना होगा या फिर लोग इसे डुबो देंगे।

दरअसल, जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा वापस दिलाने के लिए प्रदेश की मुख्यधारा की राजनीतिक पार्टियों ने मिलकर एक गुपकर संगठन की घोषणा की थी।

शाह ने ट्वीट करते हुए कहा, "गुपकर गैंग ग्लोबल हो रहा है! वे चाहते हैं कि विदेशी सेना जम्मू-कश्मीर में हस्तक्षेप करे। गुपकर गैंग भारत के तिरंगे का भी अपमान करता है। क्या सोनिया जी और राहुल जी गुपकर गैंग की ऐसी चालों का समर्थन करते हैं? उन्हें भारत के लोगों को अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए।"

गृहमंत्री ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा। शाह ने कहा, "कांग्रेस और गुपकर गैंग जम्मू-कश्मीर को आतंक और अशांति के युग में वापस ले जाना चाहते हैं। वे अनुच्छेद 370 को हटाकर दलितों, महिलाओं और आदिवासियों के अधिकारों को छीनना चाहते हैं। यही कारण है कि उन्हें हर जगह लोगों द्वारा अस्वीकार किया जा रहा है।"

गृहमंत्री ने स्पष्ट करते हुए कहा, "जम्मू एवं कश्मीर हमेशा से भारत का अभिन्न अंग रहा है और रहेगा।"

Next Story

विविध

Share it